Home /News /sports /

indian t20 team for south africa series sanju samson once again neglected just played 13 t20 in 7 years

संजू सैमसन IPL में हिट, मगर कैसे हो टीम इंंडिया में फिट! 7 साल से टुकड़ों में मिल रहा मौका

संजू सैमसन को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह नहीं मिली. इसके बाद से सेलेक्शन पर सवाल उठ रहे हैं. (Sanju Samson Instagram)

संजू सैमसन को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह नहीं मिली. इसके बाद से सेलेक्शन पर सवाल उठ रहे हैं. (Sanju Samson Instagram)

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत को 9 जून से 5 टी20 की सीरीज खेलनी है. इसके लिए टीम इंडिया का ऐलान हुआ तो कई खिलाड़ियों को आईपीएल 2022 में अच्छे प्रदर्शन के बूते जगह मिली. लेकिन, राजस्थान रॉयल्स को प्लेऑफ में पहुंचाने वाले कप्तान संजू सैमसन एक बार फिर नजरअंदाज कर दिए गए. सैमसन 19 साल की उम्र में टीम इंडिया में आए थे. लेकिन बीते 7 सालों में भारत के लिए सिर्फ 13 टी20 खेल पाएं. उन्हें पहले टी20 के बाद दूसरे के लिए 5 साल का इंतजार करना पड़ा. इसी वजह से जब इस दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए उन्हें नजरअंदाज किया गया तो फैंस का भी गुस्सा फूट गया.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. बीसीसीआई ने एक दिन पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 टी20 की घरेलू सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान किया. इसमें कई खिलाड़ियों को आईपीएल 2022 में अच्छे प्रदर्शन का इनाम मिला, तो कई लीग में दमदार प्रदर्शन के बावजूद दरकिनार कर दिए गए. इसमें सनराइजर्स हैदराबाद के बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी और राजस्थान रॉय़ल्स के कप्तान संजू सैमसन शामिल हैं. इन दोनों खिलाड़ियों ने आईपीएल के 15वें सीजन में अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन, टीम इंडिया का टिकट नहीं कटा सके. राहुल की बात फिर कभी. आज संजू सैमसन की बात करते हैं. संजू की कप्तानी में राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल 2022 में यादगार प्रदर्शन किया. टीम ने लीग स्टेज दूसरे स्थान के साथ खत्म किया.

कप्तानी के साथ-साथ संजू सैमसन का बल्ला भी जमकर बोला. उन्होंने 14 पारियों में 374 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 2 अर्धशतक भी लगाए. उनका स्ट्राइक रेट भी 150 के करीब रहा. लेकिन, यह भी उन्हें टीम इंडिया में जगह दिलाने में नाकाफी साबित हुआ. जबकि आईपीएल के दौरान उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए सुनील गावस्कर जैसे दिग्गज बार-बार इस बात को कहते नजर आए कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप की टीम में सैमसन को जरूर होना चाहिए. टी20 विश्व कप की टीम तो दूर, सैमसन को तो द्विपक्षीय सीरीज के लिए भी मौका नहीं मिला.

सैमसन ने 13 टी20 में 174 रन बनाए हैं
सैमसन का अगर टी20 और वनडे रिकॉर्ड देखें तो बहुत अच्छा नहीं है. उन्होंने अब तक 13 टी20 खेले हैं. इसमें 14.50 की औसत से 174 रन बनाए हैं. वहीं, इकलौते वनडे में इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने
46 रन बनाए हैं. सैमसन को आईपीएल खेलते हुए 9 साल हो चुके हैं. वो 2013 में लीग के डेब्यू सीजन में ही राजस्थान रॉयल्स के लिए दमदार पारियां खेलकर चर्चा में आए थे. इसके बाद से वो लगातार घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. लेकिन उन्हें टीम इंडिया में मौके टुकड़े में मिल रहे हैं.

संजू को 2014 में सबसे पहले टीम इंडिया में चुना गया था
संजू को सबसे पहले 2014 में भारत के इंग्लैंड दौरे की टीम में चुना गया था. तब उन्हें वनडे और टी20 टीम में जगह मिली थी. तब संजू की उम्र 19 साल थी. लेकिन, इस दौरे पर उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला. अगले साल 2015 में सैमसन ने भारत के लिए टी20 डेब्यू किया. तब भारतीय टीम जिम्बाब्वे दौरे पर गई थी. अपने डेब्यू मैच में सैमसन ने 19 रन बनाए. लेकिन, इसके बाद उन्हें 2020 में भारत के लिए दूसरा टी20 खेलने का मौका मिला. यानी पूरे 5 साल के इंतजार के बाद. इसके बाद 2020 में श्रीलंका के खिलाफ एक सीरीज खेले और फिर टीम से ड्रॉप हो गए. यानी सैमसन का टीम इंडिया से अंदर-बाहर होना लगातार लगा रहा.

संजू सैमसन को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में मौका नहीं दिए जाने से फैंस मायूस हैं. (Twitter)

सैमसन को टुकड़ों में मौके मिले
सैमसन के इंटरनेशनल क्रिकेट के लिहाज से 2020 अहम रहा. क्योंकि इस साल उन्हें भारत के लिए सबसे अधिक 6 टी20 खेलने का मौका मिला. लेकिन वो अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे. उन्होंने 6 मैच में 64 रन बनाए. इस साल सैमसन को सबसे पहले श्रीलंका के खिलाफ जनवरी 2020 में हुई तीन टी20 की सीरीज के लिए चुना गया. लेकिन खेलने का मौका तीसरे और आखिरी टी20 में ही मिला.

प्रदर्शन का दबाव कहें या खुद को साबित करने की जल्दबाजी सैमसन इस मौके को भुना नहीं पाए और 6 रन बनाकर आउट हो गए. हालांकि, उन्हें किस्मत का दोबारा साथ मिला और इसी महीने के आखिर में न्यूजीलैंड दौरे पर गई टीम इंडिया में उन्हें दोबारा जगह मिली. इस दौरे पर टीम इंडिया ने 5 टी20 खेले. लेकिन सैमसन 2 मैच में ही प्लेइंग-XI का हिस्सा बने और दोनों ही मौकों पर बड़ी पारी नहीं खेल पाए.

टीम इंडिया के 11 खिलाड़ियों को सेलेक्टर्स ने किया नजरअंदाज, फैंस बोले- सैमसन शतक लगाकर देंगे जवाब

7 साल में 13 टी20 खेले
2020 के आखिर में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी. इस बार भी सैमसन टीम में थे और दौरे के तीनों टी20 में खेले. लेकिन, टीम में अपनी जगह को लेकर उठ रहे सवालों के दबाव में बिखर गए और 3 मैच में 48 रन बनाए. 2021 में भी उन्हें श्रीलंका दौरे पर तीन टी20 खेलने का मौका मिला और इस साल भी वो श्रीलंका के खिलाफ 2 टी20 खेले. यानी 7 साल में उन्हें भारत के लिए सिर्फ 13 टी20 खेलने का मौका मिला.

IPL 2022: फ्रेंचाइजी ने खिलाड़ियों को नहीं किया रीटेन, दमदार प्रदर्शन करके अपनी ही टीम पर पड़े भारी

वेंकटेश को फीके प्रदर्शन के बाद भी जगह मिली
अब लाजमी है कि किसी बल्लेबाज को अगर इक्का-दुक्का मैच में खराब प्रदर्शन के बाद टीम से ड्रॉप कर दिया जाएगा और फिर टुकड़ों में मौके मिलेंगे, तो उससे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करना बेमानी है. यही सैमसन के साथ भी हो रहा है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज की टीम में उनका नाम न देखकर उनका गुस्सा फूट पड़ा और ट्विटर पर टीम सेलेक्शन को लेकर सवाल पूछे जाने लगे. क्योंकि आईपीएल 2022 में खराब प्रदर्शन के बावजूद वेंकटेश अय्यर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज की टीम में जगह मिली. अय्यर ने इस सीजन में 12 मैच में 182 रन ही बनाए.

ऐसे में सैमसन और राहुल त्रिपाठी जैसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को नजरअंदाज कर वेंकटेश को मौका देना किसी को हजम नहीं हुआ.

Tags: India vs South Africa, IPL 2022, Rahul Tripathi, Sanju Samson, Venkatesh Iyer

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर