लाइव टीवी
Elec-widget

भारतीय पेस अटैक के सामने घुटने टेकने के बाद बांग्‍लादेशी कप्‍तान बोले- हम इतने मजबूत नहीं

भाषा
Updated: November 14, 2019, 8:38 PM IST
भारतीय पेस अटैक के सामने घुटने टेकने के बाद बांग्‍लादेशी कप्‍तान बोले- हम इतने मजबूत नहीं
मोहम्‍मद शमी विकेट का जश्‍न मनाते हुए. (PTI Photo)

इंदौर टेस्‍ट (Indore Test) के पहले दिन बांग्लादेश (Bangladesh) की टीम भारतीय तेज गेंदबाजी (Indian Fast Bowling) आक्रमण के सामने पहले बल्लेबाजी करते हुए 150 रन पर आउट हो गई.

  • Share this:
इंदौर: बांग्लादेश (Bangladesh) के कप्तान मोमिनुल हक (Mominul Haque) ने गुरुवार को स्वीकार किया कि इंदौर टेस्ट मैच (Indore Test Match) के शुरुआती दिन भारत (India) के दमदार तेज गेंदबाजी आक्रमण का सामना करने के लिए उनके टीम के पास जरूरी मानसिक मजबूती का अभाव था. बांग्लादेश की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 150 रन पर आउट हो गई. भारत की तरफ से इशांत शर्मा (Ishant Sharma), मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) और उमेश यादव (Umesh Yadav) की तेज गेंदबाजी की त्रिमूर्ति ने मिलकर सात विकेट लिए. सबसे अहम बात यह रही कि बांग्लादेश के निचले क्रम के बल्लेबाज भारतीय तेज गेंदबाजों का सामना करने में दहशत में दिखे.

'वर्ल्‍ड नंबर 1 के सामने मेंटली मजबूत होने की जरूरत'
मोमिनुल ने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘विकेट बल्लेबाजी के लिए खराब नहीं था या फिर मैंने या मुश्फिकुर रहीम ने उतने रन नहीं बनाए जितने बनाने चाहिए थे. समस्या यह है कि जब आप विश्व की नंबर एक टेस्ट टीम के खिलाफ खेल रहे हों तो आपको मानसिक तौर पर अधिक मजबूत होना पड़ता है.’

india bangladesh test, indore test, mominul haque, live cricket score, india bangladesh series, india pace attack, इंडिया बांग्‍लादेश टेस्‍ट, इंदौर टेस्‍ट स्‍कोर, लाइव क्रिकेट स्‍कोर, मोमिनुल हक, इंडिया बांग्‍लादेश सीरीज
भारतीय टीम मोमिनुल हक के आउट होने का जश्‍न मनाते हुए. (AP Photo)


मोमिनुल से जब उछाल वाली पिच पर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के फैसले के बारे में पूछा गया तो कप्तान ने उसका बचाव किया. उन्होंने कहा, ‘अगर हमने अच्छी शुरुआत की होती तो यह सवाल पैदा ही नहीं होता.’

'अच्‍छी गेंदबाजी का अंतर रहा'
मोमिनुल से पूछा गया कि क्या खिलाड़ियों की हड़ताल को देखते हुए भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के लिये तैयारियां आदर्श थी, उन्होंने कहा, ‘मैंने व्यक्तिगत तौर पर पिछले पांच महीनों में नौ प्रथम श्रेणी मैच खेले और मुझे लगता है कि यह अच्छी तैयारी है. हां अंतर अच्छी गेंदबाजी का है जिसका हम सामना कर रहे हैं.’
Loading...

उन्होंने कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में निश्चित तौर पर गेंदबाजी का स्तर बढ़ जाता है. आप इस स्तर पर गेंदबाज से 120 या 130 किमी की रफ्तार से गेंदबाजी की उम्मीद नहीं कर सकते. यह शत प्रतिशत मानसिकता से जुड़ा है.’

'रहीम को टीम मैनेजमेंट के फैसले के तहत भेजा'
इस युवा कप्तान से पूछा गया कि मुश्फिकुर को नंबर चार की बजाय नंबर पांच पर क्यों भेजा गया जबकि वह विशुद्ध बल्लेबाज के रूप में खेल रहे हैं, उन्होंने कहा, ‘यह टीम प्रबंधन का फैसला था कि उन्हें नंबर पांच पर आना चाहिए. मुझे भी लगता है कि उनका खेल नंबर पांच के अनुकूल है.’

जिसे KXIP ने 1 मैच नहीं खिलाया उसकी ताबड़तोड़ बैटिंग, बुरी तरह हारी दिल्‍ली

राजस्‍थान रॉयल्‍स ने रहाणे को किया बाहर, इन 2 क्रिकेटर्स के बदले किया सौदा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 7:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...