21 साल बाद इंजमाम ने गांगुली के नॉट आउट होने की कबूली सच्‍चाई, अश्विन ने किया सैल्‍यूट

पाकिस्‍तान के खिलाफ चेन्‍नई टेस्‍ट में मोईन खान ने दूसरी पारी में सौरव गांगुली का कैच लपका था  (BCCI/Twitter)
पाकिस्‍तान के खिलाफ चेन्‍नई टेस्‍ट में मोईन खान ने दूसरी पारी में सौरव गांगुली का कैच लपका था (BCCI/Twitter)

मामला 1999 में भारत और पाकिस्‍तान (India vs Pakistan) के बीच खेले गए चेन्‍नई टेस्‍ट का है, जहां दूसरी पारी में मोईन खान ने सौरव गांगुली का कैच पकड़ा था, मगर यह संदेहास्‍पद था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 2:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. पूर्व पाकिस्‍तानी कप्‍तान इंजमाम उल हक (Inzamam ul Haq) ने करीब 21 साल बाद स्‍वीकार किया कि चेन्‍नई टेस्‍ट में सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) का कैच संदेहास्‍पद था. 1999 में भारत और पाकिस्‍तान (India vs Pakistan) के बीच खेली गई दो टेस्‍ट मैचों की सीरीज का पहला मैच वसीम अकरम की अगुआई वाली पाकिस्‍तान टीम ने 12 रन के अंतर से जीता था. इस मैच की दूसरी पारी में गांगुली का कैच विवादित रहा था.

इंजमाम ने भारतीय स्‍टार गेंदबाज आर अश्विन के साथ यूट्यूब पर एक शो में उस मैच की यादों को ताजा करते हुए कहा कि उस समय वह चेपॉक में अपनी जिंदगी का पहला लाइव मैच देख रहे थे. गांगुली ने शॉट खेला, गेंद सिली पॉइंट पर गई, जहां मोईन खान ने कैच लपक लिया. मगर आज तक हमें पता नहीं कि वो आउट थे या नहीं, क्‍योंकि उस समय कैमरे इतने अच्‍छे नहीं हुआ करते थे.





अजहर के शरीर पर लगकर गई थी गेंद
भारत में अपना डेब्‍यू मैच खेलने वाले इंजमाम ने कहा कि इस घटना में अजहर महमूद और मोईन खान सिर्फ दो लोग ही श‍ामिल थे. जब गांगुली ने शॉट खेला तो गेंद पहले अजहर के शरीर पर लगी, उसके बाद मोईन ने कैच लपका. उन्‍होंने कहा कि इस कैच के बारे में वह साफ रूप से तो नहीं बता सकते, क्‍योंकि अजहर उस मैच में नहीं खेल रहे थे और दूसरी पारी में उनकी खुद की तबीयत ठीक नहीं थी और उनकी जगह पर फील्डिंग करने के लिए अजहर को भेजा गया था.

यह भी पढ़ें: दिनेश कार्तिक की पत्नी दीपिका पल्लीकल ने शेयर की रोमांटिक अंडर वाटर फोटो, फैंस ने दिया गजब का रिएक्‍शन

जानिए अब तक किन भारतीय क्रिकेटर्स को मिला पितृत्‍व अवकाश और किसकी छुट्टियां हुई नामंजूर

इंजमाम ने कहा कि वो उस समय मैदान पर नहीं थे, मगर कह सकते हैं कि वो कैच संदेहास्‍पद था. इंजमाम के स्‍वीकार करने के बाद अश्विन जोरदार हंसे और कहा कि इंजी भाई, मैं आपको सैल्‍यूट करता हूं, क्‍योंकि आपने स्‍वीकार किया कि वो संदेहास्‍पद कैच था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज