लाइव टीवी

IPL फाइनल- सामने आई शेन वॉटसन के रन आउट होने की वजह, जानकर फैंस के आंखों में आए आंसू!

News18Hindi
Updated: May 13, 2019, 10:40 PM IST
IPL फाइनल- सामने आई शेन वॉटसन के रन आउट होने की वजह, जानकर फैंस के आंखों में आए आंसू!
शेन वॉटसन (साभार-आईपीएल)

चेन्नई सुपरकिंग्स के ओपनर शेन वॉटसन ने 59 गेंदों में 80 रनों की पारी खेली, आखिरी ओवर में क्रुणाल पंड्या ने किया रन आउट

  • Share this:
इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 1 रन से मात दी. एक समय ऐसा था जब चेन्नई आसानी से मैच जीत रही थी लेकिन आखिरी ओवर में शेन वॉटसन के रन आउट होते ही पूरे मैच का पासा पलट गया और मुंबई आईपीएल चैंपियन बन गई. शेन वॉटसन ने फाइनल मैच में 59 गेंदों में 80 रनों की पारी खेली लेकिन 20वें ओवर की चौथी गेंद पर वो क्रुणाल पंड्या के हाथों रन आउट हो गए. दो रन चुराने के चक्कर में वॉटसन ने तेज दौड़ लगाई लेकिन वो क्रीज तक नहीं पहुंच सके.

वॉटसन के आउट होने का राज
चेन्नई के फाइनल मैच हारने के बाद अब चेन्नई के सीनियर खिलाड़ी हरभजन सिंह ने वॉटसन को लेकर बड़ा खुलासा किया है. हरभजन सिंह ने बयान दिया कि शेन वॉटसन के घुटने में चोट लगी हुई थी. वॉटसन के घुटने से खून भी बह रहा था, लेकिन वॉटसन ने ये बात टीम के किसी खिलाड़ी को नहीं बताई और वो बल्लेबाजी करते रहे. टीम को इसके बारे में तब पता चला जब वो आउट होकर वाप आ गए. मैच के बाद वॉटसन के पैरों में 6 टांके लगे.

आईपीएल 2019 में वॉटसन का प्रदर्शन



पिछले आईपीएल में चेन्नई को चैंपियन बनाने वाले शेन वॉटसन ने इस सीजन में फ्रेंचाइजी को निराश किया. उन्होंने 17 मैचों में महज 23.41 की औसत से 398 रन बनाए. वॉटसन के बल्ले से महज 3 अर्धशतक निकले. हालांकि दबाव भरे मैचों में वॉटसन का बल्ला रंग में दिखा. वॉटसन ने दूसरे क्वालिफायर में दिल्ली के खिलाफ अर्धशतक ठोका और अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाया. इसके बाद वॉटसन ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ फाइनल में भी अर्धशतक लगाकर अपनी टीम को लगभग जीत दिला दी थी लेकिन पांव में लगी चोट के चलते वो ऐसा नहं कर पाए.



शेन वॉटसन (साभार-आईपीएल)


चेन्नई की हार की वजह रही बल्लेबाजी
सिर्फ वॉटसन ही नहीं चेन्नई के दूसरे बड़े बल्लेबाज भी इस सीजन में फ्लॉप साबित हुए. धोनी ने आईपीएल हारने की सबसे बड़ी वजह खराब बल्लेबाजी ही बताई. सुरेश रैना 17 मैचों में 23.93 की औसत से 383 रन ही बना सके. रायडू ने 17 मैचों में 23.50 की औसत से 282 रन ही बनाए. रायडू का तो स्ट्राइक रेट भी महज 93 का रहा. केदार जाधव 18.00 के औसत से 162 रन ही बना पाए. फाइनल में भी यही देखने को मिला और चेन्नई की टीम 150 रनों के लक्ष्य से एक रन दूर रह गई.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: May 13, 2019, 10:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading