खेल

IPL 2020: कोलकाता नाइट राइडर्स ने किया बैंगलोर के आगे सरेंडर, जानिए हार की बड़ी वजहें

IPL 2020: जानिए कोलकाता नाइट राइडर्स ने क्यों टेके आरसीबी के खिलाफ घुटने?
IPL 2020: जानिए कोलकाता नाइट राइडर्स ने क्यों टेके आरसीबी के खिलाफ घुटने?

कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) को बैंगलोर के खिलाफ 8 विकेट से हार झेलनी पड़ी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 6:16 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग के 39वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. कोलकाता नाइट राइडर्स पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में महज 84 रन ही बना सकी, जवाब में बैंगलोर ने छोटा सा लक्ष्य 2 विकेट गंवाकर 13.3 ओवर में ही हासिल कर लिया. आइए आपको बताते हैं कोलकाता नाइट राइडर्स की हार की वजहें.

कोलकाता नाइट राइडर्स की खराब रणनीति उसकी हार की सबसे बड़ी वजह रही. केकेआर प्रबंधन पिच को परखने में ही नाकाम रहा और मुश्किल पिच पर उसने पहले बल्लेबाजी चुन ली. पावरप्ले में ही कोलकाता ने अपने 4 बड़े विकेट गंवा दिए और उसके बाद वो कभी वापसी नहीं कर सकी.

इसमें कोई दो राय नहीं है कि बैंगलोर के गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन सच ये भी है कि नीतीश राणा को छोड़कर कोलकाता नाइट राइडर्स का कोई बल्लेबाज बहुत गजब गेंद पर आउट नहीं हुआ. शुभमन गिल ने खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया. टॉम बैंटन ने विकेट गिरने के समय भी अति आक्रामकता में अपना विकेट खोया. दिनेश कार्तिक, ऑयन मॉर्गन सभी अनुभवी बल्लेबाज भी अपना विकेट फेंककर गए.



कोलकाता नाइट राइडर्स ने रसेल की जगह टॉम बैंटन को प्लेइंग इलेवन में मौका दिया लेकिन उन्हें मॉर्गन ने नंबर 4 पर उतारा. जबकि बैंटन एक ओपनर हैं और वो इंग्लैंड के लिए भी ओपनिंग करते हैं. गौतम गंभीर ने भी कोलकाता की इस रणनीति की आलोचना की.
कोलकाता को भले ही महज 84 रन बचाने थे लेकिन कप्तान मॉर्गन ने इसके बावजूद पिछले मैच के हीरो लोकी फर्गुसन से ओपनिंग गेंदबाजी नहीं कराई. लोकी फर्गुसन को छठे ओवर में गेंद थमाई गई. तब तक आरसीबी का एक भी विकेट नहीं गिरा. इसके बाद फर्गुसन ने अपने पहले ही ओवर में बैंगलोर के बल्लेबाज फिंच को आउट किया. अगर फर्गुसन को शुरुआती ओवर दिए जाते तो वो बैंगलोर को जल्द से जल्द शुरुआती झटके दे सकते थे और कोलकाता की टीम विरोधियों पर दबाव बना सकती थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज