खेल

आकाश चोपड़ा ने 'चेन्नई एक्सप्रेस' को बताया मालगाड़ी, केदार जाधव के चयन पर उठाए सवाल

आकाश चोपड़ा ने सीएसके की प्लेइंग इलेवन में केदार जाधव के चयन पर सवाल उठाया.
आकाश चोपड़ा ने सीएसके की प्लेइंग इलेवन में केदार जाधव के चयन पर सवाल उठाया.

पूर्व क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ''चेन्नई एक्सप्रेस अब मालगाड़ी बन गई है. वे बहुत धीमे-धीमे चल रहे हैं. चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के लिए यह टूर्नामेंट लगभग खत्म हो गया है.''

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 3:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में सोमवार को राजस्थान रॉयल्स के हाथों चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को पराजय झेलनी पड़ी. चेन्नई की टीम राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के खिलाफ पांच विकेट पर 125 रन ही बना पाई और सात विकेट से मैच हार गई. उसके 10 मैचों में केवल छह अंक हैं और उस पर आईपीएल में पहली बार प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाने का खतरा मंडरा रहा है. इस हार के बाद धोनी के फैसलों और परफॉर्मेंस के साथ-साथ टीम की भी जमकर आलोचना हो रही है. पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने चेन्नई सुपर किंग्स को 'मालगाड़ी' बताया है.

पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ''चेन्नई एक्सप्रेस अब मालगाड़ी बन गई है. वे बहुत धीमे-धीमे चल रहे हैं. चेन्नई सुपर किंग्स के लिए यह टूर्नामेंट लगभग खत्म हो गया है.'' उन्होंने कहा, ''यह बहुत महत्वपूर्ण मैच था. यदि आप बचे हुए सारे मैच जीत भी लेते हैं तब भी आपके 14 अंक होंगे. ऐसी स्थिति में टॉप तीन टीमों के आसपास पहुंचना मुश्किल होगा.''

IPL 2020: धोनी के जवाब से भड़के श्रीकांत, बोले- यह सब बकवास है



आईपीएल 2020 में अब तक पॉइंट टेबल में टॉप तीन टीमें हैं- दिल्ली कैपिटल्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर. चौथे स्थान के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स भी कोशिश कर रही है. आकाश चोपड़ा ने कहा, ''शुरू में मुझे लग रहा था कि 14 अंकों के साथ क्वॉलिफाई करना संभव होगा, लेकिन अब मुझे लगता है कि यह आसान नहीं होगा. क्योंकि केकेआर भी इस दौड़ में है. यहां से प्लेऑफ की दौड़ बहुत मुश्किल हो जाएगी.''
आकाश चोपड़ा ने सीएसके की प्लेइंग इलेवन में केदार जाधव के चयन पर सवाल उठाते हुए कहा, ''सीएसके ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया, जो सही था. जोश हेजलवुड को खिलाना भी सही फैसला था, लेकिन उन्होंने कर्ण शर्मा की जगह पीयूष चावला को खिलाया और केदार जाधव भी प्लेइंग इलेवन में थे. मेरा मतलब है कि जाधव क्यों खेल रहे थे? मैं केदार को पसंद करता हूं, लेकिन उनकी पोजीशन तय नहीं है. उन्हें निचले क्रम में भेजा गया. यही से सब कुछ गलत हो गया.''

'युवाओं में जोश की कमी' बोलकर फंस गए धोनी, सोशल मीडिया ने लगा दी क्लास

उन्होंने आगे कहा, ''इस पोजीशन पर पीयूष चावला भी अच्छा परफॉर्म कर सकते थे. पिछले मैच में वह बल्लेबाजी करने ही नहीं आए थे.'' उन्होंने कहा, ''सीएसके की शुरुआत अच्छी रही. फाफ डुप्लेसी जल्दी आउट हो गए. सैम कुर्रन ने कुछ बल्लेबाजी की, कार्तिक त्यागी ने शेन वॉटसन को पवेलियन भेजा. रायडू स्पिनर्स के सामने संघर्ष करते दिखे. धोनी को लग रहा था कि वह स्पिनरों को बेहतर खेलेंगे.''

रविंद्र जडेजा, महेंद्र सिंह धोनी के साथ क्रीज पर थे. वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं इन दिनों. आकाश चोपड़ा ने कहा, ''शायद यह उनकी योजना थी कि स्पिनरों पर हमला नहीं करना है बल्कि तेज गेंदबाजों पर रन बनाने हैं. लेकिन जब बेन स्टोक्स गेंदबाजी के लिए आए तब भी उन्होंने हमला नहीं किया. जब रन बनाने का समय आया, तब वे गेंदों को सही नहीं खेल पा रहे थे. आखिरकार सीएसके ने पांच विकेट बचे होने के बावजूद केवल 125 रन बनाए. कोई भी इस बात को समझ सकता है कि या तो आप 125 पर ऑल आउट हो जाएं या 150 तक पहुंचें. यह स्कोर चेन्नई के लिए पर्याप्त नहीं था.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज