खेल

IPL 2020: रायडू ने 17 महीने बाद दिया भारतीय सेलेक्टर्स को जवाब, CSK बोली- बाहुबली रिटर्न्स!

IPL 2020: अंबाति रायडू के कमाल से जीती चेन्नई
IPL 2020: अंबाति रायडू के कमाल से जीती चेन्नई

15 अप्रैल, 2019 को वर्ल्ड कप 2019 के लिए टीम इंडिया का ऐलान हुआ था, जिसमें अंबाति रायडू (Ambati Rayudu) को जगह नहीं मिली थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2020, 6:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के पहले मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स ने मुंबई इंडियंस (CSK Vs MI) को पांच विकेट से हरा दिया. चेन्नई की जीत के हीरो अंबाति रायडू (Ambati Rayudu) चुने गए, जिन्होंने नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए 48 गेंदों में 71 रनों की पारी खेली. रायडू ने अपनी पारी में 3 छक्के और 6 चौके लगाए. रायडू के लिए ये पारी बेहद खास है क्योंकि उन्होंने इसके जरिए टीम इंडिया के उन सेलेक्टर्स को जवाब दिया है, जिन्होंने उन्हें 17 महीने पहले वर्ल्ड कप 2019 की टीम में नहीं चुना था.

रायडू का टीम इंडिया के चयनकर्ताओं को जवाब
15 अप्रैल, 2019...ये वो तारीख है जब वर्ल्ड कप 2019 के लिए टीम इंडिया का ऐलान हुआ और इसमें अंबाति रायडू  (Ambati Rayudu)  का नाम शामिल नहीं था. कई क्रिकेट दिग्गज इस बात से हैरान रह गए, क्योंकि रायडू नंबर चार के स्पेशलिस्ट बल्लेबाज थे. हालांकि चयनकर्ताओं ने उनपर भरोसा नहीं जताया. सेलेक्टर्स ने गैरअनुभवी विजय शंकर को टीम में मौका दिया. यही नहीं विजय शंकर के चोटिल होने के बाद ऋषभ पंत को इंग्लैंड बुला लिया गया लेकिन रायडू को फिर भी टीम में जगह नहीं मिली. टीम इंडिया के चयनकर्ताओं के इस फैसले की निंदा हुई लेकिन उन्होंने अपने कदम को सही ठहराया. हालांकि अब 17 महीने बाद रायडू ने अपने बल्ले से उन सभी आलोचकों की बोलती बंद कर दी है. रायडू की इस पारी के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स ने भी उन्हें सलाम करते हुए बाहुबली बताया. चेन्नई ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'लौट आया बाहुबली.'





IPL 2020: 437 दिन बाद मैच खेलने उतरे धोनी, बदल गया लुक, 'डोला' देख हो जाएंगे दंग!

IPL 2020: टॉस से पहले एमएस धोनी ने मैच रेफरी से पूछा ये सवाल, सुनते ही चौंक पड़े सब!

रायडू की गजब पारी
मुंबई इंडियंस के खिलाफ रायडू ने चेन्नई की पारी को मुश्किल भरे वक्त में संभाला. पहले दो ओवर में शेन वॉटसन और मुरली विजय आउट हो चुके थे. उसके बाद रायडू आए और आत्मविश्वास के साथ बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने बुमराह जैसे गेंदबाज पर अटैक किया. रायडू ने महज 33 गेंदों पर 50 रन ठोके और उसके बाद उन्होंने कुल 71 रन बनाए. बड़ी बात ये रही कि रायडू ने तीसरे विकेट के लिए डुप्लेसी के साथ 114 रनों की मैच विनिंग साझेदारी की. डुप्लेसी और रायडू की यही साझेदारी मुंबई पर भारी पड़ गई. रायडू ने अपनी पारी के दौरान हर तरह का शॉट खेला. उन्होंने हवाई शॉट्स खेले, जबर्दस्त ड्राइव किये. जरूरत पड़ने पर गेंद को डिफेंस किया. उन्होंने स्पिनर्स और तेज गेंदबाजों दोनों का बखूबी सामना किया. रायडू की इस पारी को देखकर लगा कि अगर इस बल्लेबाज को वर्ल्ड कप 2019 में चुना जाता तो शायद भारत तीसरी बार चैंपियन बन सकता था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज