खेल

IPL में खत्म हुई एमएस धोनी की बादशाहत, पहली बार चेन्नई सुपरकिंग्स प्लेऑफ की रेस से बाहर

IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स पहली बार प्लेऑफ से बाहर
IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स पहली बार प्लेऑफ से बाहर

चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने तीन बार आईपीएल का खिताब जीता, जब वो खेली उसने प्लेऑफ में जगह बनाई लेकिन आईपीएल 2020 उसके लिए अनलकी साबित हुआ

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 6:03 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग में यूं तो 8 टीमें हिस्सा लेती हैं लेकिन इस टूर्नामेंट में एक ऐसी टीम थी जिसके सजदे में हर टीम का फैन झुकता था. इस टीम की प्लेऑफ में पहुंचने तक गारंटी होती थी. कहा जाता था कि आईपीएल के प्लेऑफ में खेलने के लिए 8 नहीं बल्कि 7 ही टीमों के बीच टक्कर होती है क्योंकि चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) की एंट्री उसमें पक्की होती है. लेकिन आईपीएल 2020 में सबकुछ बदल गया. एमएस धोनी की टीम का वक्त बदल गया, नतीजे बदल गए और बदल गया वो रिकॉर्ड जो साल 2008 से चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के हर खिलाड़ी की छाती पर मेडल की तरह लगा था. रविवार को जैसे ही राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई इंडियंस को मात दी, चेन्नई सुपरकिंग्स पहली बार आईपीएल के प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई. धोनी के फैंस को पहली बार आईपीएल में ये दिन देखना पड़ रहा है.

जानिए कैसे चेन्नई सुपरकिंग्स अब प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकती?
चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) के फिलहाल आईपीएल में 8 अंक हैं. अब अगर वो अपने बचे हुए दो मैच भी जीत जाती है तो भी उसके 12 अंक होंगे. वहीं मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर तीन ऐसी टीमें हैं जिनके पास चेन्नई से ज्यादा 14 अंक हैं. अब बची कोलकाता, पंजाब, राजस्थान और सनराजर्स हैदराबाद की टीमें जिनका एक दूसरे से ही मुकाबला होने वाला है और इनके चेन्नई से ज्यादा या बराबर अंक हैं. ऐसे में चेन्नई प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई है.

IPL 2020: हरे रंग की जर्सी में 7वीं बार हारी विराट कोहली की RCB
IPL 2020: 3 पारी में 5 रन बनाने वाले ऋतुराज गायकवाड़ पर धोनी ने जताया भरोसा, अर्धशतक ठोक जिताया मैच



चेन्नई सुपरकिंग्स का हर आईपीएल सीजन में प्रदर्शन
आईपीएल का आगाज 2008 में हुआ था और धोनी की टीम ने पहले ही सीजन में फाइनल तक का सफर तय किया. हालांकि फाइनल में उसे राजस्थान रॉयल्स से हार झेलनी पड़ी. 2009 में चेन्नई की टीम सेमीफाइनल तक पहुंची. इसके बाद चेन्नई ने 2010 में अपना पहला आईपीएल खिताब जीता. 2011 में भी धोनी की टीम ने लगातार दूसरी बार चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. 2012 में चेन्नई सुपरकिंग्स रनरअप रही और 2013 में भी वो फाइनल जीतने से चूकी. 2014 में चेन्नई की टीम एलिमिनेटर में बाहर हुई और 2015 में चेन्नई सुपरकिंग्स एक बार फिर रनरअप रही. 2016 और 2017 में चेन्नई की टीम सस्पेंड रही और 2018 में वापसी के साथ ही चेन्नई ने तीसरी बार आईपीएल ट्रॉफी जीती. 2019 में चेन्नई की टीम एक बार फिर फाइनल तक पहुंची और मुंबई में वो खिताबी मुकाबला हार गई. लेकिन इस बार 2020 में चेन्नई सुपरकिंग्स का सफर ग्रुप स्टेज में ही खत्म हो गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज