खेल

    Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    IPL 2020: सुनील नरेन के संदिग्ध बॉलिंग एक्शन पर KKR ने जताई हैरानी, कही यह बात

    सुनील नरेन की मैदानी अंपायरों ने रिपोर्ट की है और उन्हें चेतावनी सूची में रखा गया है.
    सुनील नरेन की मैदानी अंपायरों ने रिपोर्ट की है और उन्हें चेतावनी सूची में रखा गया है.

    इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में दो बार के चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) ने उनके स्पिनर सुनील नरेन (Sunil Narine) की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किए जाने पर हैरानी व्यक्त की है.

    • Share this:
    नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में दो बार के चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) ने उनके स्पिनर सुनील नरेन (Sunil Narine) की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किए जाने पर हैरानी व्यक्त की है. इसके साथ ही केकेआर ने उम्मीद जताई कि इस मामले का जल्द उचित समाधान निकाला जाएगा. फ्रेंचाइजी ने हालांकि यह नहीं कहा कि सुनील नरेन को टीम में लिया जाएगा या नहीं. नरेन की मैदानी अंपायरों ने रिपोर्ट की है और उन्हें चेतावनी सूची में रखा गया है. अगर वर्तमान टूर्नामेंट में उन्हें फिर से रिपोर्ट किया जाता है तो फिर वह आगे गेंदबाजी नहीं कर पाएंगे.

    केकेआर ने बयान में कहा, ''यह फ्रेंचाइजी के लिए हैरानी भरा है विशेषकर तब, जबकि वह 2012 से आईपीएल में 115 मैच और 2015 में आईपीएल सत्र के दौरान संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किए जाने के बाद 68 मैच खेल चुके हैं." रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ मैच से पूर्व जारी किए गए बयान में कहा गया है, ''हमें उम्मीद है कि इसका जल्द ही उचित समाधान निकाला जाएगा. हम इस मामले के जल्द समाधान के लिए आईपीएल से मिल रहे सहयोग की सराहना करते हैं."

    बड़ी खबर: इशांत शर्मा हुए IPL 2020 से बाहर, अमित मिश्रा के बाद दिल्‍ली कैपिटल्‍स को दूसरा झटका



    इस 32 वर्षीय स्पिनर ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ केकेआर की दो रन की नाटकीय जीत के दौरान चार ओवर में दो विकेट लिए थे. इससे पहले नरेन को 2015 में संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी करने से रोक दिया था. एक्शन में सुधार करने के बाद 2016 के बाद उन्हें सभी प्रारूपों में गेंदबाजी करने की अनुमति दे दी गई थी.
    अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने अप्रैल 2016 में उनके एक्शन को क्लीन चिट दी थी, लेकिन उन्हें उसी साल भारत में हुए टी-20 विश्वकप में बाहर रहना पड़ा था. 2018 में पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान भी उनके गेंदबाजी एक्शन की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. नरेन ऑफ स्पिनर कार्ल क्रोव के साथ अपने एक्शन को लेकर काम करते रहे हैं.

    IPL 2020: कोलकाता को हराकर प्वॉइंट टेबल में तीसरे नंबर पर पहुंची RCB, जानें सभी टीमों का ताजा हाल

    सुनील नरेन कोलकाता के साथ 2012 से जुड़े हुए हैं. उन्होंने 2012 में 5.47 की इकोनॉमी रेट से 24 विकेट झटके थे और अपनी टीम को पहला खिताब जिताने में अहम भूमिका निभाई थी. 2013 के सत्र में उन्होंने 5.46 के इकोनॉमी रेट से 22 विकेट लिए थे. इसके बाद 2014 में नरेन ने 6.35 के इकोनॉमी रेट से 21 विकेट झटके और अपनी टीम को दोबारा खिताब जिताने में अहम योगदान दिया. नरेन इस सत्र में बल्लेबाजी में काफी संघर्ष कर रहे हैं. उन्होंने पांच पारियों में 8.80 के औसत से मात्र 44 रन बनाए हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज