IPL 2020: क्रिस गेल कब तक बेंच पर बैठकर तालियां बजाएंगे? केएल राहुल ने दिया ये जवाब

IPL 2020: क्रिस गेल को कब मौका मिलेगा?
IPL 2020: क्रिस गेल को कब मौका मिलेगा?

क्रिस गेल (Chris Gayle) को किंग्स इलेवन पंजाब ने दोनों मैचों में प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं दी, जबकि वो आईपीएल में सबसे ज्यादा 6 शतक लगाने वाले खिलाड़ी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 5:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किंग्स इलेवन पंजाब ने गुरुवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को एकतरफा अंदाज में 97 रनों से हरा दिया. मैच के सबसे बड़े हीरो रहे कप्तान केएल राहुल, जिन्होंने आईपीएल में अपना दूसरा शतक लगाया और 132 रनों की तूफानी पारी खेली. केएल राहुल (KL Rahul) की टीम ने ये मैच तो जीत लिया लेकिन कई फैंस को इस बात से हैरानी हुई कि आखिर पंजाब की टीम टी20 के महान बल्लेबाज क्रिस गेल को प्लेइंग इलेवन में मौका क्यों नहीं दे रही है? अब कप्तान केएल राहुल ने क्रिस गेल के मुद्दे पर बड़ी बात कही है.

'क्रिस गेल को बेंच पर बैठाना मुश्किल फैसला'
क्रिस गेल (Chris Gayle) को मौका नहीं देने पर केएल राहुल ने कहा कि वो एक मैच विनर खिलाड़ी हैं और इसके बावजूद उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर रखना एक मुश्किल फैसला है. साथ ही केएल राहुल ने कहा कि क्रिस गेल लगातार अपनी फिटनेस पर काम कर रहे हैं और जल्द ही वो टूर्नामेंट में बड़ी भूमिका अदा करेंगे. इनसाइड स्पोर्ट्स के साथ खास बातचीत में केएल राहुल बोले, 'टी20 क्रिकेट में क्रिस गेल सबसे बड़े मैच विनर हैं और उनके जैसे खिलाड़ी को बाहर रखना हमारे लिए एक कड़ा फैसला है. लॉकडाउन के बाद जैसे गेल ने वापसी की है और जिस तरह से वो बल्लेबाजी कर रहे हैं और साथ ही उनकी फिटनेस जिस तरह से बढ़ रही है उसे देख आगे उन्हें टूर्नामेंट में मौका मिलेगा.'

IPL 2020 : विराट फ्लॉप हुए तो गावस्कर ने किया अनुष्का शर्मा पर कमेंट, फैंस बोले- इन्हें कमेंट्री से हटाओ
क्रिस गेल का आईपीएल रिकॉर्ड


क्रिस गेल (Chris Gayle) का आईपीएल में गजब का रिकॉर्ड है. ये बल्लेबाज 124 पारियों में 41.14 के बेहतरीन औसत से 4484 रन ठोक चुका है. गेल के बल्ले से कुल 6 शतक निकले हैं और वो इस टूर्नामेंट में 326 छक्के लगा चुके हैं. इतने अच्छे प्रदर्शन के बावजूद गेल का बाहर बैठना उनकी फिटनेस को देखते हुए हो सकता है. गेल की उम्र 41 साल हो चुकी है और वो मैदान पर पहले जैसे तेज नहीं हैं. ऐसे में उन्हें कम ही मुकाबलों में मौका मिलने की उम्मीद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज