खेल

IPL 2020: जोंटी रोड्स ने कहा- मयंक अग्रवाल सिर्फ टेस्ट खिलाड़ी नहीं हैं

किंग्स इलेवन पंजाब के फील्डिंग कोच जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) मयंक से खासे प्रभावित हैं.
किंग्स इलेवन पंजाब के फील्डिंग कोच जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) मयंक से खासे प्रभावित हैं.

जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) ने एएनआई से कहा, ''मयंक अग्रवाल ((Mayank Agarwal)) एक टेस्ट खिलाड़ी नहीं रह गए हैं. हालांकि, केएल राहुल (KL Rahul) ज्यादा कंसीस्टेंट हैं.''

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 4:41 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में अबतक शानदार प्रदर्शन किया है. कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) के साथ उनकी कई अच्छी साझेदारियां हुई हैं. अपनी योग्यता के दम पर मयंक अग्रवाल ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में टेस्ट खिलाड़ी के रूप में प्रवेश किया, लेकिन अब उन्होंने यह साबित कर दिया है कि वह टेस्ट खिलाड़ी से भी ज्यादा हैं. किंग्स इलेवन पंजाब के फील्डिंग कोच जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) मयंक से खासे प्रभावित हैं.

टेस्ट क्रिकेट में मयंक अग्रवाल ने मौके का इंतजार किया और जब उन्हें मौका मिला तो उन्होंने परफॉर्म किया. हालांकि, इसके लिए उन्हें लंबा इंतजार करना पड़ा. मयंक ने 2017 में रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक के लिए तिहरा शतक जमाया. वह केएल राहुल और करुण नायर के बाद तिहरा शतक बनाने वाले तीसरे खिलाड़ी बने. यह अविश्वसनीय लगता है कि उन्होंने टीम में शामिल होकर भारतीय क्रिकेट को मजबूत किया.

IPL 2020: क्रिस गेल के लिए छलका 'दादा' का दर्द, बोले- बाहर बैठना उन्हें चुभा होगा




ऐसे कई और युवा खिलाड़ी हैं. रोहित शर्मा ने टेस्ट टीम में आने के लिए काफी लंबा इंतजार किया, लेकिन अब मयंक ने यह दिखाया है कि वह सिर्फ टेस्ट खिलाड़ी नहीं हैं. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर जोंटी रोड्स ने एएनआई से कहा, ''मयंक एक टेस्ट खिलाड़ी नहीं रह गए हैं. हालांकि, केएल राहुल ज्यादा कंसीस्टेंट हैं. क्योंकि क्रिकेट में आपको हर तरह की परिस्थिति का सामना करना पड़ता है. जो परिस्थितियों से तालमेल बिठा लेते हैं, वही सफल होते हैं.''

मुंबई इंडियंस के पूर्व फील्डिंग कोच रोड्स ने कहा कि मयंक अग्रवाल आने वाली सीरीज में क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में खेलते दिखाई देंगे. मयंक ने 2018-2019 में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. वह 11 टेस्ट मैचों में 57.29 की औसत से 974 रन बना चुके हैं. इनमें तीन शतक और चार अर्द्धशतक शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज