खेल

IPL 2020: CSK ने खाई थी धवन को आउट न करने की कसम, धोनी समेत 4 खिलाड़ियों ने छोड़ा कैच

यह धवन के आईपीएल करियर का सर्वश्रेष्‍ष्‍ठ प्रदर्शन है.
यह धवन के आईपीएल करियर का सर्वश्रेष्‍ष्‍ठ प्रदर्शन है.

शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने चेन्‍नई सुपर किंग्‍स (Chennai Super Kinga) के खिलाफ नाबाद 101 रन की पारी खेली. उन्‍हें इस पारी के दौरान चार बार जीवनदान मिला था

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 6:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. शानदार फॉर्म में चल रहे दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) के सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने चेन्‍नई सुपर किंग्‍स (Chennai Super Kinga) के खिलाफ बल्‍ले से कोहराम मचा दिया. धवन ने चेन्‍नई के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की और दिल्‍ली को आसानी से 5 विकेट से जीत दिला दी. चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के दिए 180 रनों के लक्ष्‍य के जवाब में दिल्‍ली ने पृथ्‍वी शॉ, अजिंक्‍य रहाणे के रूप में शुरुआत में दो बड़े विकेट गंवा दिए थे. इसके बावजूद श्रेयस अय्यर की टीम ने आसानी से मुकाबला जीत दिला. दो विकेट जल्‍दी गिरने के कारण संकट से घिरी दिल्‍ली के लिए सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन संकटमोचक बने और उन्‍होंने टीम की झोली में जीत डाल दी.

हालांकि दिल्‍ली की इस जीत में चेन्‍नई की खराब फील्डिंग भी सबसे बड़ी वजह है, जिसके कारण शिखर धवन को चार बार जीवनदान मिला और उन्‍होंने इसका बूखबी फायदा उठाते हुए 58 गेंदों पर नाबाद 101 रन जड़ दिए.
पहला जीवनदान:  जब धवन 25 रन पर बल्‍लेबाजी कर रहे थे, तब उन्‍हें रवींद्र जडेजा की गेंद पर पहला जीवनदान मिला. सातवें ओवर की तीसरी गेंद पर दीपक चाहर ने धवन का कैच छोड़ दिया था. जडेजा की गेंद पर धवन ने स्‍लॉग स्‍वीप लगाया. उनके बल्‍ले का ऊपरी किनारा लगा. डीप मिड विकेट पर चाहर मौजूद थे. चाहर के पास अच्‍छा मौका था, मगर उन्‍होंने देरी से डाइव लगाई, जिस वजह से कैच छूट गया. इस गेंद पर धवन ने दो रन जोड़े और अगली दो गेंदों पर लगातार दो चौके लगाए.

दूसरा जीवनदान:  सातवें ओवर में ही जडेजा की चौथी गेंद पर धवन को पवेलियन भेजने का एक और मौका था. मगर शेन वॉटसन की धीरे लगाई डाइव ने धवन को एक और मौका दे दिया.
यह भी पढ़ें: 



IPL 2020: शिखर धवन का कोहराम, जड़ा करियर का पहला टी20 शतक

IPL 2020: चेन्नई सुपर किंग्‍स को धोनी की जरूरत नहीं, अब रवींद्र जडेजा हैं नए फिनिशर!

तीसरा जीवनदान: 10वें ओवर की आखिरी गेंद पर धवन को जीवनदान मिला. उस समय वो 50 रन बनाकर खेल रहे थे. ब्रावो के ओवर की आखिरी गेंद पर धोनी कॉट बिहाइंड में चूक गए. हालांकि यहां पर यह बात साफ नहीं है कि धोनी से धवन का कैच छूटा या फिर वो पकड़ नहीं पाए. ब्रावो की धीमी गति की गेंद पर धवन ड्राइव करना चाहते थे, उनका बल्‍ला मैदान को छू गया और गेंद किनारे पर लगी. धोनी ने इसे काफी नीचे पकड़ा. उनके ग्‍लव्‍ज देरी से नीचे आए.

चौथा जीवनदान: जब धवन 79 रन पर खेल रहे थे, उस समय अंबाती रायडू ने उन्‍हें चौथा जीवनदान दे दिया. ठाकुर की गेंद पर धवन ने रायडू की तरफ सीधा शॉट खेला. मगर रायडू यहां पर चूक गए
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज