खेल

    Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    IPL 2020: हार के बाद बिखर गए धोनी, कहा-ऐसी हार से दर्द होता है, अब इज्जत के लिए खेलेंगे

    IPL 2020: महेंद्र सिंह धोनी
    IPL 2020: महेंद्र सिंह धोनी

    महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की टीम चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) आईपीएल की रेस से बाहर हो गई है

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 23, 2020, 11:44 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. आईपीएल (IPL 2020) में शुक्रवार को मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) से मिली बड़ी हार के कारण चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) की टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई है. टीम का प्रदर्शन इस साल निराशाजनक रहा है और इससे टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) काफी दुखी हैं. धोनी ने कहा कि उनकी टीम अब आने वाले तीन मुकाबलों में अपनी इज्जत के लिए खेलेगी और जीत हासिल करने की कोशिश करेगी. धोनी के मुताबिक चेन्नई के लिए यह साल काफी निराशाजनक रहा और अब वह अगले साल की तैयारियों पर ध्यान देंगे.

     धोनी को हार से पहुंचा है दुख
    धोनी ने हार के बाद की कहा उन्हें इससे वाकई में बहुत दुख पहुंचा है, हालांकि उनकी और टीम की कोशिश है कि बचे हुए मैच में जीत की कोशिश करें. धोनी ने कहा, 'जी, हार से दुख होता है. पर हमें यह देखना है कि हम कहां गलती कर रहे हैं. यह बेशक हमारा साल नहीं है. सिर्फ एक और दो ही ऐसे मैच हैं जिसमें हमने अच्छी गेंदबाजी और बल्लेबाजी की. सभी खिलाड़ी दुखी है लेकिन टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन सबकुछ हमेशा हमारे हिसाब से नहीं चलता. उम्मीद है कि अगले तीन मुकाबलो में हम अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे.'

    धोनी ने आगे कहा कि टीम को शुरुआत से सही लय नहीं. शुरुआत के मैचो में रायडु इंजर हो गए ते जिसके बाद बल्लेबाज प्रदर्शन नहीं कर पाए और खिलाड़ियों पर दबाव बढ़ा. भाग्य के धनी कहे जाने वाले कप्तान ने आगे कहा, 'जब भी शुरुआत अच्छी नहीं मिलती है तो मिडिल ऑर्डर के लिए मुश्किल बढ़ जाती हैं. क्रिकेट में जब आप मुश्किल समय से गुजर रहे हों तो आपको थोड़े बहुत भाग्य की जरूरत होती है लेकिन इस टूर्नामेंट में कुछ भी हमारे साथ नहीं गया.
    ओस को भी बताया हार का बड़ा कारण


    धोनी ने कहा कि मैच में ओस का खास असर रहा. मैच की स्थिति पर बात करते हुए धोनी ने कहा, 'जब हम दूसरी बार बल्लेबाजी करते हैं तो ज्यादा ओस नहीं लेकिन आज पहले बल्लेबाजी करने उतरे तब भी काफी ओस थी. चीजें हमारे मुताबिक नहीं हुई और हमें इससे सीखना है. जब भी आप अच्छा नहीं कर रहे होंते हैं तो उसके 100 कारण हैं. ऐसे में आप खुद से सवाल करते हैं कि क्या अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं. जब लगातार तीन और चार बल्लेबाज प्रदर्शन नहीं करते हैं तो चीजें मुश्किल होती जाती हैं. मुझे लगता है कि यह खेल का हिस्सा है और हमें प्रकिया के बारे में सोचना चाहिए.'

    इज्जत बचाने के लिए खेलेगी चेन्नई सुपर किंग्स
    जब आप दुखी होते हैं तो चेहरे पर मुसकान रखनी पड़ती है ताकी आपकी टीम मैनेजमेंट पैनिक न करे, युवाओं को भी इसकी जरूरत है. हमने अपने ड्रेसिंग रूम का माहौल वैसा ही बना रखा है और उम्मीद है कि आने वाले समय में कम से कम हम अपनी इज्जत के लिए जीतना चाहते हैं. इसके साथ ही अगले साल के लिए भी तस्वीर साफ रखनी पड़ती है. आप युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का पूरा मौका देना चाहते हैं. हमें अगले तीन मैचों की अच्छी तैयारी करनी है और अगले साल की भी. बल्लेबाजों की पहचान करना, डेथ ओवर में कौन गेंदबाजी करेगा यह चुनना ताकी दबाव कम हो सके. कप्तान जिम्मेदारी से नहीं भाग सकते हैं इसलिए मैं तीनों मैचों में खेलेगें.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज