खेल

  • associate partner

IPL 2020: रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस को दिलाए 4 खिताब, जानें उनकी कप्‍तानी की सफलता का राज

IPL 2020: रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस को दिलाए 4 खिताब, जानें उनकी कप्‍तानी की सफलता का राज
रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्‍तानी में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने चार बार खिताब जीते. रोहित 2011 में इस टीम से जुड़े थे और 2013 में उन्‍हें कप्‍तानी मिली थी.

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्‍तानी में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने चार बार खिताब जीते. रोहित 2011 में इस टीम से जुड़े थे और 2013 में उन्‍हें कप्‍तानी मिली थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 10, 2020, 11:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली . भारत के सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) आईपीएल (IPL) इतिहास के सफल कप्‍तान हैं. उनकी कप्‍तानी में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने चार बार खिताब जीता. भारत को दो बार वर्ल्‍ड कप दिलाने वाले कप्‍तान एमएस धोनी (MS Dhoni) और टीम इंडिया (Team India) के मौजूदा कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) जैसे दिग्‍गज भी आईपीएल में अपनी अपनी टीम की कमान संभाल रहे हैं, मगर रोहित शर्मा की कप्‍तानी की तुलना में वें उतने सफल नहीं हो पाए. हालांकि धोनी की कप्‍तानी में चेन्‍नई सुपर किंग्‍स ने तीन बार खिताब जीते, जबकि कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पिछली 12 कोशिशों में एक बार भी खिताब जीतने में सफल नहीं हो पाई. आज भी हर किसी के मन में एक ही सवाल आता है कि आखिर कैसे रोहित शर्मा आईपीएल के सबसे सफल कप्‍तान बने. रोहित शर्मा 2011 में मुंबई इंडियंस का हिस्‍सा बने थे. इसके बाद फ्रेंचाइजी ने 2013 में रोहित को कप्‍तानी सौंप दी, इसके बाद मुंबई 2013, 2015, 2017, 2019 में कुल चार बार खिताब जीत चुकी है.

रोहित की सफल कप्‍तानी की बात करें तो उनमें नेतृत्‍व करने वाला गुण डेक्‍कन चार्जर्स में रहते हुए ही आ गया था. खेल तो उनका पहले से ही दमदार था, मगर धीरे धीरे टीम लीड करने का गुण भी निखरता गया. जब डेक्‍कन में वह शामिल हुए थे, तब उन्‍हें टीम इंडिया की तरफ से खेले हुए ज्‍यादा समय नहीं हुआ था. इसके बावजूद उन्‍होंने आईपीएल में बेहतरीन खेल दिखाया. हर मैच के बाद उनका आत्‍मविश्‍वास बढ़ता गया और जल्‍द ही वह कोर ग्रुप में शामिल हो गए.

युवा खिलाड़ियों की हर तरह से करते हैं मदद
डेक्‍कन के साथ रहते हुए रोहित में टीम की अगुआई करने के शुरुआती लक्षण नजर आने लगे थे. वह युवा खिलाड़ियों की मदद करते और अपने विचार उनके सामने रखते. मगर उनके लिए सबसे अहम दबाव की परिस्थितियों से बाहर निकलना रहा. मुश्किल परिस्थितियों में भी उन्‍होंने बेहतरीन खेल दिखाकर खुद को साबित किया और इसी वजह से वह आईपीएल के सबसे सफल कप्‍तान भी हैं.
इस थ्‍योरी पर चलते हैं रोहित शर्मा


कप्‍तानी के मामले में रोहित शर्मा की भी एक थ्‍योरी है और उनका मानना है कि इसी थ्‍योरी के कारण वो बेहतरीन कप्‍तान बने. कप्‍तानी पर रोहित की थ्‍योरी है कि कप्‍तान टीम में सबसे अहम शख्‍स होता है. उनका कहना है कि उन्‍हें इस थ्‍योरी पर विश्‍वास है, जब आप कप्‍तान होते हैं. आप सबसे अहम शख्‍स होते हैं. उनका कहना है कि यह अलग अलग कप्‍तानों के लिए यह विभिन्‍न तरीके से काम करता है, मगर उनके लिए यह सिद्धांत काम करता है.

एक रन से जीता था फाइनल
आईपीएल के अगर पिछले फाइनल की बात करें तो मुंबई इंडियंस और चेन्‍नई सुपर किंग्‍स दोनों के बीच चौथी ट्रॉफी अपने नाम करने का मुकाबला था. चेन्‍नई चौथी ट्रॉफी जीतने के काफी करीब भी थी, मगर रोहित शर्मा की कप्‍तानी का ही कमाल था कि मुंबई इंडियंस ने एक रन से मुकाबला जीतकर चौथा खिताब अपने नाम कर लिया. दरअसल मुंबई ने चेन्‍नई को 150 रन का लक्ष्‍य दिया था. जवाब में चेन्‍नई के शेन वॉटसन ने 80 रन की पारी खेलकर मुकाबले को रोमांचक बना दिया. आखिरी ओवर दोनों टीम के लिए अहम था.

यह भी पढ़ें: 

IPL 2020: कंगाल हो चुकी टीम को खरीद कर इस कंपनी ने बना दिया चैंपियन, 2013 में हुआ था डेब्यू

IPL 2020: इन 10 खिलाड़ियों ने बढ़ाई टीमों की टेंशन, हुआ कोरोना का 'साइड-इफेक्ट'

ऐसे में रोहित ने गेंद अपनी टीम से सबसे अनुभवी गेंदबाज लक्षित मलिंगा को सौंपी. ओवर की चौथी गेंद पर वॉटसन रन आउट हो गए और उनके पवेलियन लौटने के बाद टीम को जीत के लिए 4 रन और चाहिए थे. चेन्‍नई ने दो रन तो जोड़ लिए, मगर आखिरी गेंद पर दो रन चाहिए थे और ऐसे में मलिंगा ने शार्दुल ठाकुर को एलपीडब्‍ल्‍यू कर दिया और यही पर रोहित की योजना ने काम करते हुए मुंबई इंडियंस को आईपीएल की सबसे सफल टीम बना दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज