खेल

609 रन जड़कर कोहली को दिया था जवाब, अब IPL में देवदत्‍त ने मचाया कोहराम

अर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट लगाते देवदत्‍त पडिक्‍कल
अर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट लगाते देवदत्‍त पडिक्‍कल

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के सलामी बल्‍लेबाज देवदत्‍त पडिक्‍कल ( devdutt padikkal) ने अपने डेब्‍यू मैच में 42 गेंदों पर 56 रन बनाए, जिसमें 8 चौके जड़े.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2020, 11:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. विराट कोहली (Virat Kohli) की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) ने सनराइजर्स हैदाराबाद के खिलाफ आईपीएल (IPL 2020) के 13वें सीजन में अपने अभियान का आगाज किया. टॉस हारकर पहले बल्‍लेबाजी करने उतरी बैंगलोर को सलामी बल्‍लेबाज देवदत्‍त पडिक्‍कल (devdutt padikkal) ने धमाकेदार शुरुआत दिलाई. 20 साल के इस खिलाड़ी का यह आईपील में डेब्‍यू मैच था और डेब्‍यू में ही उन्‍होंने कोहराम मचाकर अपने चयन को सही साबित किया.

बैंगलोर की तरफ से यह उनका दूसरा सीजन है, मगर उन्‍हें इस बार डेब्‍यू का मौका मिला. बैंगलोर ने उन्‍हें 2019 आईपीएल के लिए बेस प्राइस 20 लाख रुपये में खरीदा था, मगर उन्‍हें मैदान पर अपने बल्‍ले का दम दिखाने का मौका ही नहीं मिला. जिसके बाद उन्‍होंने 609 रन जड़कर कोहली को जवाब दिया था और शायद उसी जवाब का परिणाम था कि उन्‍हें इस बार डेब्‍यू का मौका मिला और वह इसे भुनाने में सफल भी रहे. उन्‍होंने 42 गेंदों पर 56 रन बनाए, जिसमें 8 चौके जड़े.

देवदत्त पडिक्‍कल का अनुभव
कर्नाटक के देवदत्त पडिक्‍कल (Devdutt Padikkal) के पास 15 फर्स्ट क्लास, 13 लिस्ट ए और 12 टी20 मैचों का अनुभव है. 20 साल के इस खिलाड़ी ने तीनों ही फॉर्मेट में खुद को साबित किया है. पडिक्‍कल ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लगभग 35 के औसत से 907 रन बनाए हैं. लिस्ट ए क्रिकेट में उनके नाम दो शतक और 5 अर्धशतक हैं और उनका औसत 59.09 है. टी20 में पडिक्‍कल का औसत 64.44 है और उनके बल्ले से 5 अर्धशतक और एक शतक निकला है.




पिछले साल नहीं मिला था मौका
पडिक्‍कल (Devdutt Padikkal) पिछले साल भी आरसीबी का हिस्सा थे, लेकिन विराट कोहली ने उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं दिया. इसके बाद पडिक्‍कल ने घरेलू क्रिकेट में अपने बल्ले का दम दिखाया. उन्‍होंने पिछले साल आईपीएल होने के बाद सितंबर में विजय हजारे ट्रॉफी के दौरान अपना लिस्ट ए डेब्यू किया और वहां उन्होंने 11 मैचों में सबसे ज्यादा 609 रन ठोक डाले.

यह भी पढ़ें: 

IPL 2020: कोहली के फैन ने पार की दीवानगी की हद, टॉस के बाद हाथ पर दीया जलाकर उतारी आरती

IPL 2020: आखिर क्‍यों दीपक चाहर पर गुस्‍सा हुए एमएस धोनी?

इस धमाकेदार प्रदर्शन की दम पर कर्नाटक की टीम चैंपियन भी बनी. इसके बाद इस युवा बल्‍लेबाज ने टी20 फॉर्मेट में भी अपना जलवा दिखाया. पडिक्‍कल ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में सबसे ज्यादा 580 रन ठोक कर्नाटक को चैंपियन बनाया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज