खेल

IPL 2020: आईपीएल में गज़ब का इत्तेफ़ाक! टॉस हारो, पहले बैटिंग करो और मैच जीतो

आईपीएल में अब तक 7 मैच खेले गए हैं, जिसमें से 6 बार पहले बैटिंग करने वाली टीम को जीत मिली है. (फाइल)
आईपीएल में अब तक 7 मैच खेले गए हैं, जिसमें से 6 बार पहले बैटिंग करने वाली टीम को जीत मिली है. (फाइल)

IPL 2020: आईपीएल में इस बार हार और जीत का एक पैटर्न तैयार हो गया है, इसके बावजूद कप्तान इससे अंजान हैं. तभी तो वो टॉस जीतकर भी हाथ में आए मैच को गवां रहे हैं. ये हम नहीं आंकड़े कह रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 2:00 PM IST
  • Share this:
दुबई. आईपीएल (IPL 2020) शुरू हुए एक हफ्ता हो गया है. हमेशा की तरह इस बार भी रनों की बारिश हो रही है. शतक भी लगे हैं. सुपर ओवर का भी खेल देखने को मिला है. धोनी और विराट कोहली (Dhoni and Virat) जैसे बड़े कप्तान धराशाई भी हो रहे हैं. युवा बल्लेबाज़ हमेशा की तरह अपनी चमक बिखेर रहे हैं और कप्तान बार-बार टॉस (Toss) जीत कर लगातार एक ही गलती दोहरा रहे हैं. विरोधी टीम को बैटिंग के लिए बुलाना और फिर मैच हार जाना. आईपीएल में इस बार हार और जीत का एक पैटर्न तैयार हो गया है इसके बावजूद कप्तान इससे अंजान हैं. तभी तो वो टॉस जीतकर भी हाथ में आए मैच को गवां रहे हैं. ये हम नहीं आंकड़े कह रहे हैं.

चेज़ करते हुए हार
आईपीएल में अब तक 7 मैच खेले गए हैं, जिसमें से 6 बार पहले बैटिंग करने वाली टीम को जीत मिली है. जबकि सिर्फ पहले मैच में चेज़ करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स को जीत मिली थी. इसके बाद से हर बार लक्ष्य का पीछा करते हुए टीमों ने सरेंडर किया है. 20 सितंबर को दिल्ली कैपिटल्स को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ सुपर ओवर में जीत मिली थी. इस मैच में भी दिल्ली ने पहले बैटिंग की थी. आईपीएल के तीसरे मैच में आरसीबी तो 10 रनों से जीत मिली थी. चौथे मैच में राजस्थान ने चेन्नई को 16 रन से हराया था. पांचवें मैच में रोहित शर्मा की टीम को केकेआर के खिलाफ 49 रनों से जीत मिली थी. छठे मैच में किंग्स इलेवन को आरसीबी के खिलाफ 97 रनों से बड़ी जीत मिली थी. इसके बाद शुक्रवार को दिल्ली ने धोनी की टीम को 44 रनों से धो दिया.

टॉस जीतो मैच हारो!
अब ज़रा एक और आंकड़े पर भी गौर कर लीजिए. अब तक 7 मुकाबले में सातों बार जिस कप्तान ने टॉस जीता उसने पहले फील्डिंग करने का फैसला किया है. कप्तान को लगता है कि यूएई में रात को चेज़ करना मुश्किल चुनौती होगी. उन्हें लगता कि ओस के चलते गेंदबाजों को गेंद ग्रिप करने में परेशानी होगी. लेकिन अभी तक किसी भी मैच में ऐसा नहीं देखा गया है कि मैदान पर मौजूद ओस से गेंदबाजों को ज्यादा परेशानी हुई हो. हर बार टॉस जीतने के बाद कप्तान विरोधी टीम को ही बैटिंग के लिए बुलाना पसंद करते हैं. आमतौर पर देखा गया है कि आईपीएल में टी-20 जैसे छोटे मुकाबले में एक खास रणनीति के साथ टीम चेज़ करना पसंद करती है. लेकिन यहां कप्तान की रणनीति मैच दर मैच फेल हो रही है. ऐसे में हो सकता है कि आने वाले मैचों में कप्तान टॉस जीत कर पहले विरोधी को बॉलिंग करने के लिए ही कहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज