खेल

IPl 2020: विराट कोहली के बचाव में आए वीरेंद्र सहवाग, बोले- एक कप्तान अकेला क्या कर सकता है

आरसीबी की टीम प्लेऑप में हार गई
आरसीबी की टीम प्लेऑप में हार गई

IPL 2020: बैंगलोर रॉयल चैलेंजर्स (RCB) के खराब प्रदर्शन के चलते टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेट गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने विराट की जम कर आलोचना की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 8, 2020, 8:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बैंगलोर रॉयल चैलेंजर्स (RCB) की टीम आईपीएल से बाहर हो गई है. विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में आरसीबी की टीम पिछले 8 साल से एक बार भी आईपीएल का खिताब नहीं जीत सकी है. इस बार ये टीम प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई तो कर गई, लेकिन एलिमिनेटर में उन्हें सनराइजर्स के खिलाफ करारी हार का सामना करना पड़ा. बैंगलोर के खराब प्रदर्शन के चलते टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेट गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने विराट की जमकर आलोचना की थी. गंभीर ने उन्हें कप्तानी से हटाने की मांग की थी, लेकिन टीम इंडिया में गंभीर के जोड़ीदार रहे वीरेंद्र सहवाग (Virender sehwag) ने विराट कोहली का बचाव किया है. उन्होंने कहा कि एक अकेला कप्तान भला क्या कर सकता है. सहवाग के मुताबिक आरसीबी को कप्तान नहीं बल्कि टीम में कुछ बदलाव करने की जरूरत है.

टीम बदलो, कप्तान नहीं
आरसीबी की हार के बाद सहवाग ने क्रिकेट की वेबसाइट क्रिकबज़ से बातचीत करते हुए कहा कि बैंगलोर की टीम सिर्फ विराट और डिविलियर्स की बैटिंग पर निर्भर है. उन्होंने कहा, 'कप्तान उतना ही अच्छा होता है जीतनी अच्छी उनकी टीम. यही विराट कोहली जब इंडियन टीम के कप्तान होते हैं तो नतीजे अलग होते है. वो टेस्ट, वनडे और टी-20 सीरीज़ जीतते हैं, लेकिन जब आरसीबी के लिए खेलते हैं तो इनकी टीम उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है. वो जीतते नहीं है. तो कप्तान के पास अच्छी टीम होनी बहुत जरूरी है. मेरे ख्याल से उन्हें कप्तान बदलने के बारे में नहीं सोचना चाहिए. ये सोचना चाहिए ये टीम और कैसे बेहतर कर सकती है. बैंगलोर के पास कोई सेटल बैटिंग ऑर्डर नहीं है. उनकी बैटिंग सिर्फ विराट और एबी डिविलियर्स पर निर्भर है'.

ये भी पढ़ें:- IPL 2020: दिल्ली कैपिटल्स को हराकर फाइनल में जगह बना सकती है सनराइजर्स हैदराबाद, जानिए वजह
 गंभीर ने क्या कहा था


बता दें कि आईपीएल में से जैसे ही विराट की टीम का पत्ता साफ हुआ गौतम गंभीर ने उनकी कप्तानी पर सवाल उठाते हुए उनकी धज्जियां उड़ा दी. आरसीबी की हार के बाद गंभीर ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से बातचीत करते हुए कहा कि 8 साल किसी भी कप्तान के लिए खुद को साबित करने का लंबा वक्त होता है. उन्होंने कहा, 'आप आर अश्विन को देखिए 2 साल के बाद रिजल्ट नहीं दे पाए तो किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें कप्तानी से हटा दिया. आप धोनी और रोहित शर्मा की बात करते हैं. धोनी ने तीन खिताब दिलाए हैं. रोहित ने मुंबई को चार बार चैंपियन बनाया है. मुझे पक्का यकीन है कि अगर रोहित भी 8 साल तक अच्छे नतीजे लेकर नहीं आते तो उन्हें भी कप्तानी के मोर्चे से हटा दिया जाता. हर किसी के लिए अलग-अलग पैमान नहीं होना चाहिए'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज