Home /News /sports /

IPL 2021: केकेआर के सारे ‘बिगब्रदर’ फेल, चेन्नई को गिफ्ट में दे दी ट्रॉफी, KKR की हार के 5 कारण

IPL 2021: केकेआर के सारे ‘बिगब्रदर’ फेल, चेन्नई को गिफ्ट में दे दी ट्रॉफी, KKR की हार के 5 कारण

IPL 2021: केकेआर के मध्यक्रम के 6 बल्लेबाज मिलकर भी सिर्फ 17 रन बना सके. (PTI)

IPL 2021: केकेआर के मध्यक्रम के 6 बल्लेबाज मिलकर भी सिर्फ 17 रन बना सके. (PTI)

CSK vs KKR Final: चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने आईपीएल 2021 का खिताब जीत लिया है. उसने फाइनल में कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) को 27 रन से हराया. यह सीएसके का आईपीएल में चौथा खिताब है. कोलकाता नाइटराइडर्स जीत के करीब पहुंचकर यह मैच हारी. केकेआर की हार के 5 कारण.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने आईपीएल 2021 का खिताब जीत लिया है. उसने दुबई में खेले गए फाइनल में कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) को 27 रन से हराया. चेन्नई ने खिताबी मुकाबले में जहां जोरदार प्रदर्शन किया. वहीं, कोलकाता की टीम ने बार-बार ऐसी गलतियां कीं, जो उसे खिताब से लगातार दूर करती गई. खासकर उसके 5 ‘बिगब्रदर’ यानी सीनियर खिलाड़ियों ने निराश किया. केकेआर के 5 सीनियर खिलाड़ियों में सिर्फ सुनील नरेन ही ठीक-ठाक खेल सके. सीनियर खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन ने ही केकेआर को तीसरे आईपीएल खिताब से महरूम कर दिया. कोलकाता नाइटराइडर्स की हार के पांच कारण.

    कप्तान मॉर्गन बुरी तरह फेल
    केकेआर के कप्तान ऑयन मॉर्गन फाइनल में भी सिर्फ 4 रन बना सके. ओपनर वेंकटेश अय्यर (50) और शुभमन गिल (51) ने केकेआर को बेहतरीन शुरुआत दी. लेकिन मध्यक्रम बुरी तरह बिखर गया.  केकेआर तीसरा विकेट गिरने के बाद बैटिंग करने आए और 8 गेंद पर 4 रन बनाकर चलते बने. मॉर्गन का बल्ला पूरी सीरीज में खामोश रहा. वे पूरे टूर्नामेंट में सिर्फ 134 रन बना सके.

    शाकिब अल हसन का खराब खेल
    बांग्लादेश के शाकिब अल हसन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में गिने जाते हैं. लेकिन केकेआर के लिए उनका प्रदर्शन औसत ही रहा. फाइनल में तो वे बुरी तरह फेल हो गए. उन्होंने पहले तीन ओवर के स्पेल में बिना विकेट लिए 33 रन लुटाए. फिर जब बल्लेबाजी की बारी आई तो बिना खाता खोले पैवेलियन की राह पकड़ ली.

    डीके की खराब फॉर्म
    दिनेश कार्तिक भी चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ फाइनल में वह खेल नहीं दिखा सके, जिसके लिए वे जाने जाते हैं. चुस्त-दुरुस्त कार्तिक ने पहले विकेटकीपिंग में गलतियां कीं और स्टंपिंग का अहम मौका गंवाया. बल्लेबाजी में उन्होंने छक्का लगाकर उम्मीद जगाई, लेकिन वे और कोई बड़ा शॉट नहीं खेल सके. कार्तिक 7 गेंद पर 9 रन बना सके.

    फर्ग्युसन आखिरी मौके पर चूक गए
    लॉकी फर्ग्युसन कोलकाता नाइटराइडर्स के पेस अटैक के अगुआ रहे. न्यूजीलैंड के इस पेसर से केकेआर को बड़ी उम्मीदें थीं, लेकिन फाइनल मुकाबले में वे उम्मीद पर खरे नहीं उतर सके. फर्ग्युसन चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ 4 ओवर के स्पेल में 56 रन लुटा बैठे.  कहते हैं करेला, वो भी नीम चढ़ा. फर्ग्युसन इतने सारे रन लुटाकर एक भी विकेट नहीं ले सके.

    मध्यक्रम बुरी तरह फेल
    ओवरऑल मैच की बात करें तो केकेआर के दोनों ओपनरों ने मिलकर 101 रन बनाए. जबकि टीम के बाकी बल्लेबाज 55 रन ही बना सके. इनमें से भी 38 रन लोअरऑर्डर के बल्लेबाजों शिवम मावी (20) और फर्ग्युसन (18) ने बनाए. अगर मध्यक्रम की बात करें तो 6 बल्लेबाजों ने मिलकर सिर्फ 17 रन बनाए. नीतिश राणा और शाकिब खाता नहीं खोल सके. राहुल त्रिपाठी (चोटिल) और सुनील नरेन दो-दो रन बनाकर आउट हुए. ऑयन मॉर्गन के बल्ले से 4 और दिनेश कार्तिक के बल्ले से 9 रन निकले.

    Tags: Cricket news, Csk, CSK vs KKR, IPL 2021, KKR, KKR vs CSK, Kolkata Knight Riders, आईपीएल 2021

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर