BCCI को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा थैंक्स, कहा-आपकी वजह से खिलाड़ी सुरक्षित घर पहुंचे

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया है बीसीसीआई का आभारी (सौरव गांगुली इंस्टाग्राम)

आईपीएल 2021 (IPL 2021) स्थगित होने के बाद मालदीव में रुके थे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी, अब पहुंचे स्वदेश

  • Share this:
    नई दिल्ली. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक हॉकले ने सोमवार को कहा कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के दल की ‘सुरक्षित और जल्द’ वापसी सुनिश्चित करने के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के ‘आभारी’ हैं. ऑस्ट्रेलियाई दल मालदीव में कुछ दिन बिताने के बाद स्वदेश लौटा.

    पैट कमिंस, डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ जैसे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी आईपीएल के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में कोविड-19 संक्रमण के मामले आने पर इस टी20 लीग के निलंबित होने के लगभग दो हफ्ते बाद सिडनी पहुंचे. सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने हॉकले के हवाले से कहा, 'हम बेहद खुश हैं. उनके सुरक्षित और जल्द स्वदेश भेजने का इंतजाम करने के लिए हम बीसीसीआई के आभारी हैं. उनके जहां पहुंचने के बाद मैंने अभी उनसे बात नहीं की है लेकिन संदेश साझा किए हैं और मुझे यकीन है कि वे काफी राहत महसूस कर रहे हैं और घर लौटकर खुश हैं.'

    38 ऑस्ट्रेलियाई मालदीव में थे
    14 खिलाड़ियों सहित ऑस्ट्रेलिया का 38 सदस्यीय दल आईपीएल 2021 के निलंबन के बाद छह मई को मालदीव के लिए रवाना हुआ था क्योंकि भारत में कोविड-19 मामलों में इजाफे के बाद यहां की सरकार ने भारत से आने वाली उड़ानों पर 15 मई तक प्रतिबंध लगा दिया था. खिलाड़ियों के अलावा यहां पहुंचे समूह के सहयोगी स्टाफ और कमेंटेटर भी शामिल हैं जो सभी आईपीएल के निलंबन के बाद चार्टर्ड विमान से मालदीव पहुंचे थे.

    यह भी पढ़ें: भारत के खिलाफ सीरीज से पहले श्रीलंका के खिलाड़ियों ने दी संन्यास की धमकी!

    ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर, सहयोगी स्टाफ और कमेंटेटर अपने शहरों के लिए रवाना होने से पहले सिडनी के होटलों में 14 दिन के पृथकवास से गुजरेंगे. आईपीएल के मौजूदा सत्र के 29 मैच खेले जाने के बाद लीग को निलंबित किया गया. चेन्नई सुपरकिंग्स के बल्लेबाजी कोच माइकल हसी भी शुक्रवार को कोविड-19 नेगेटिव पाए जाने के बाद दोहा होते हुए स्वदेश लौटे. वह चार मई को संक्रमित पाए गए थे और इसके बाद उन्हें दिल्ली से एयर एंबुलेंस में चेन्नई लाया गया था.