रवींद्र जडेजा की तूफानी पारी पर संजय बांगड़ फिदा, कहा-बेहतर बल्लेबाज बन गया है

रवींद्र जडेजा ने आरसीबी के खिलाफ धमाकेदार पारी खेली है. (फोटो-PTI)

रवींद्र जडेजा ने आरसीबी के खिलाफ धमाकेदार पारी खेली है. (फोटो-PTI)

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के बल्लेबाजी सलाहकार संजय बांगड़ ने कहा कि यह देखकर अच्छा लगा कि रवींद्र जडेजा भारतीय टीम और सीएसके की तरफ से अपना योगदान दे रहा है

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 5:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के बल्लेबाजी सलाहकार संजय बांगड़ ने कहा कि रवींद्र जडेजा में एक बल्लेबाज के रूप में काफी सुधार हुआ है. बांगड़ ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के ऑलराउंडर के शानदार प्रदर्शन के बाद उन्हें मैच का रुख पलटने वाला करार दिया. जडेजा के नाबाद 62 रन के दम पर सीएसके ने चार विकेट पर 194 रन बनाये और फिर आरसीबी को नौ विकेट पर 122 रन पर रोक दिया. जडेजा ने 13 रन देकर तीन और इमरान ताहिर ने 16 रन देकर दो विकेट लिये. जडेजा ने तेज गेंदबाज हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में 37 रन बनाये.

बांगड़ ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हां, जब से वह (जडेजा) नियमित रूप से टेस्ट प्रारूप में खेल रहा है तब उसे उसने काफी आत्मविश्वास हासिल किया है तथा वह यहां तक कि विदेशों में भी टीम में योगदान दे रहा है. अब वह बेहतर बल्लेबाज बन गया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘और हम सभी जानते हैं कि उसमें काफी क्षमता है और वह ऐसा बल्लेबाज है जो घरेलू स्तर पर तीन तिहरे शतक लगा चुका है. इसलिए यह देखकर अच्छा लगा कि वह भारतीय टीम और सीएसके की तरफ से अपना योगदान दे रहा है.’’बांगड़ ने कहा, ‘‘आज उसने मैच का रुख पलटा और पूरा श्रेय सीएसके को जाता है. उसने खेल के हर विभाग में हमसे बेहतर प्रदर्शन किया.’’

यह भी पढ़ें:

IPL 2021: रवींद्र जडेजा ने चेन्नई सुपर किंग्स को चौथी जीत दिलाई, आरसीबी की पहली हार
IPL 2021: सुपर ओवर में दिल्ली कैपिटल्स जीता, टेबल में दूसरे नंबर पर, हैदराबाद की चौथी हार

मैन ऑफ द मैच चुने गए जडेजा ने जीत के बाद कहा, 'मैं अंतिम ओवर में गेंद को हिट करने के बारे में सोच रहा था. माही भाई (महेंद्र सिंह धोनी) ने मुझे पहले ही बताया था कि हर्षल पटेल गेंद को ऑफ स्टंप पर करेंगे और मैं उसके लिए तैयार था. मैं गेंद से सही से कनेक्ट कर पाया और टीम 191 के स्कोर तक पहुंच पाई. अंतिम ओवर हमारे लिए काफी अहम रहा. मैं जानता था कि अगर मैं स्ट्राइक पर रहा तो ज्यादा रन बना सकता हूं. आज कोई मेरा दिन नहीं था, बस एक रन आउट कर पाया (हंसते हुए) मैं उससे काफी खुश हूं.'

उन्होंने आगे कहा, 'मैंने आज खेल का पूरा लुत्फ उठाया. जब आप टीम की जीत में अहम योगदान देते हो तो काफी बेहतर महसूस होता है. मैं अपनी फिटनेस और प्रतिभा पर काफी मेहनत करता हूं. खुशकिस्मती है कि आज मैदान पर भी कमाल दिखाने में कामयाब हुआ. मैं ट्रेनिंग में कभी तीनों चीजों, बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग, पर कभी काम नहीं करता, मैं एक बार अपनी प्रतिभा पर काम करता हूं और फिर अगले दिन फिटनेस पर. इसी तरह वर्कलोक को मैनेज करता हूं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज