IPL 2021 से पहले कई खिलाड़ियों ने कोरोना वैक्सीन लेने से कर दिया था इनकार- रिपोर्ट

IPL 2021 को 4 मई को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है (BCCI/Twitter)

IPL 2021 को 4 मई को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है (BCCI/Twitter)

आईपीएल से पहले कई खिलाड़ियों ने कोरोना वैक्सीन लगाने से इनकार कर दिया था. खबर है कि आईपीएल फ्रेंचाइची ने खिलाड़ियों को अनौपचारिक रूप से टीके की पेशकश की थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोविड-19 से कई खिलाड़ियों के संक्रमित होने के बाद आईपीएल 2021 को स्थगित हुए 12 दिन हो चुके है, लेकिन इसका प्रभाव अब भी खिलाड़ियों पर है. सनराइजर्स हैदराबाद के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा दोबारा कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि केकेआर के तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा फिलहाल घर पर ही क्वारंटीन है. चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाजी कोच माइक हसी और गेंदबाजी कोच एल बैराज एक दिन पहले निगेटिव पाए गए हैं. हसी अब रविवार को ऑस्ट्रेलिया के लिए उड़ान भर सकते हैं. इस बीच खबर है कि आईपीएल 2021 के दौरान खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के बीच जागरूकता को लेकर कमी थी.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार, आईपीएल से पहले कई खिलाड़ियों ने कोरोना वैक्सीन लगवाने से इनकार कर दिया था. खिलाड़ियों को अनौपचारिक रूप से आईपीएल फ्रेंचाइची ने टीके की पेशकश की थी. सूत्रों ने कहा, 'एथलीट केवल उनकी वजह से नहीं, बल्कि अपनी चेतना की कमी के कारण टीकाकरण के लिए अनिच्छुक थे.' कुछ फ्रेंचाइजी खिलाड़ियों को टीकाकरण के लिए मनाने में सफल रहीं, हालांकि उनकी संख्या बेहद कम थी. इस तथ्य से सावधान रहते हुए कि टीकाकरण के बाद उन्हें हल्का बुखार हो सकता है, कई एथलीटों ने वैक्सीन लगाने के प्रस्तावों को अस्वीकार कर दिया. सूत्र ने कहा, 'खिलाड़ियों ने महसूस किया कि वे जिस बायो बबल में थे, वह इतना सुरक्षित था कि उन्हें टीका लगाने की आवश्यकता नहीं थी. फ्रेंचाइजी ने इसका प्रचार भी नहीं किया. फिर चीजें अचानक नियंत्रण से बाहर हो गईं.'

वास्तव में, विदेशी टीके के प्रति ज्यादा सजग थे, लेकिन उन्हें टीका नहीं लगाया जा सकता था क्योंकि यह कानूनी नहीं था. सूत्रों ने कहा, 'कई विदेशी, विशेष रूप से सहायक कर्मचारी, टीकाकरण के बारे में उत्साहित थे, लेकिन उन्हें टीका नहीं लगाया जा सका.' टीकाकरण की अनिच्छा समस्याओं में से एक थी, लेकिन कई फ्रेंचाइजी ने महसूस किया कि जब वे महामारी के चरम के दौरान दिल्ली भेजे गए थे तो वे बेहद खतरनाक स्थिति में पहुंच गए. सूत्रों ने कहा, 'हां, हम एक चार्टर फ्लाइट पर थे, लेकिन छोटा निजी टर्मिनल अभी भी सीआईएसएफ और एयरलाइन कर्मचारियों से भरा हुआ था और उनकी कोविड स्थिति के बारे में कोई सुराग नहीं था.'

यह भी पढ़ें:
विराट कोहली के पीछे पड़े वॉन, कहा-इंग्लैंड में भारतीय कप्तान से ज्यादा रन केन विलियमसन बनाएंगे

न्यूजीलैंड के खिलाफ नहीं खेलेंगे इंग्लैंड के बड़े सितारे, लॉकडाउन से मानसिक स्वास्थ्य हुआ प्रभावित

ऋद्धिमान साहा और प्रसिद्ध कृष्णा अभी तक कोरोना निगेटिव नहीं पाए गए हैं और यह भारत के लिए चिंता का विषय है. दोनों खिलाड़ियों को 25 मई को मुंबई में रिपोर्ट करना होगा. फिर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए इंग्लैंड जाने से पहले तीन नकारात्मक परीक्षणों से गुजरना होगा. वहीं माइक हसी की निगेटिव रिपोर्ट राहत देने वाली है. सीएसके प्रबंधन मालदीव में बिना क्वारंटाइन अवधि के हसी की वापसी की तैयारी कर रहा है. सीएसके के एक सूत्र ने कहा, 'ऑस्ट्रेलिया ने 15 मई को भारत से अपनी उड़ान शुरू की, जो थोड़ा आश्वस्त करने वाला है. यह उसके लिए बहुत तनावपूर्ण था.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज