IPL 2021: संजू सैमसन ने बताई, पहले मैच में तूफानी शतक जड़ने के बाद अगले 2 मैचों में फ्लॉप होने की वजह

संजू सैमसन पिछले दो मैचों में महज 5 रन ही बना पाए (PIC:PTI)

संजू सैमसन पिछले दो मैचों में महज 5 रन ही बना पाए (PIC:PTI)

संजू सैमसन (sanju samson) ने पहले मैच में राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) के लिए तूफानी शतक जड़ा था. मगर इस पारी के बाद वह अगले दो मैचों में कुल 5 रन ही बना पाए.

  • Share this:
मुंबई. राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के कप्तान संजू सैमसन (Sanju Samson) असफलताओं से परेशान नहीं हैं और उन्होंने कहा कि वह आईपीएल (IPL) में अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी करना जारी रखेंगे. सैमसन ने पहले मैच में धुआंधार शतकीय पारी खेली थी. इस मैच में राजस्‍थान को पंजाब किंग्स के हाथों करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ सैमसन का बल्ला नहीं चल पाया था.

राजस्‍थान की चेन्नई के हाथों 45 रन की हार के बाद सैमसन ने कहा कि असल में खेल के इस फॉर्मेट में ऐसा होता रहता है. मेरा मानना है कि आईपीएल में जोखिम भरे शॉट खेलने जरूरी होते हैं. मैंने पहले भी कहा था कि जब मुझे सफलता मिली तब मैंने काफी जोखिम उठाया. यही वजह है कि मैंने शतक लगाया. इसलिए यह उस दिन और आपकी मानसिकता पर निर्भर करता है.

शॉट पर नहीं लगाना चाहता अंकुश

उन्होंने कहा कि असल में मैं अपने शॉट पर अंकुश नहीं लगाना चाहता हूं. मैं अपने शॉट खेलना चाहता हूं और उसी अंदाज में बल्लेबाजी करना जारी रखना चाहता हूं जो मुझे पसंद है. इसलिए मुझे अपनी राह में आने वाली असफलताएं भी मंजूर हैं. मैं आउट होने को लेकर चिंतित नहीं हूं, लेकिन मैं आगामी मैचों में टीम की जीत में योगदान भी देना चाहता हूं.
उन्होंने कहा कि आईपीएल लंबी अवधि का टूर्नामेंट है और कुछ मैचों में असफल होना सामान्य बात है. सैमसन ने कहा कि अच्छे प्रदर्शन का दबाव हमेशा रहता है. जब आप आईपीएल में खेलते हैं तो दबाव रहता है. कुछ अवसरों पर आपको सफलता मिलती है और कुछ अवसरों पर आप नाकाम रहते हो.

यह भी पढ़ें : 

IPL 2021, RR vs CSK: धोनी को आउट करने के बाद उनसे बोले सकारिया, आप जैसा दूसरा कोई नहीं



भारत को रेड लिस्ट में डालने के बाद कैसे होगा वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियनशिप का आयोजन, ICC ने दिया बड़ा बयान

कुछ मैचों में असफल होना सामान्य बात

उन्‍होंने कहा कि आईपीएल लंबी अवधि का टूर्नामेंट है और आपको लगातार 14 मैच खेलने होते है. ऐसे में कुछ मैचों में असफल होना सामान्य बात है. बल्लेबाजी क्रम के बारे में उन्‍होंने कहा कि शिवम दुबे का नंबर चार पर बल्लेबाजी करना महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि बल्लेबाजी क्रम बहुत अच्छा है. शिवम दुबे ऐसे बल्लेबाज हैं जो स्पिन और तेज गेंदबाजी को अच्छी तरह से खेलते हैं. नंबर चार उनके लिए अनुकूल स्थान है. असल में यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज