हर्षल पटेल ने खोला राज, बताया- कैसे विराट कोहली के एक मैसेज से पर्पल कैप की दौड़ में हुए सबसे आगे

हर्षल पटेल ने 17 विकेट लिए थे (PTI)

हर्षल पटेल ने 17 विकेट लिए थे (PTI)

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के गेंदबाज हर्षल पटेल (harshal patel ) स्‍थगित हुए आईपीएल (ipl 2021) के 14वें सीजन में 17 विकेट के साथ पर्पल कैप की दौड़ में सबसे आगे थे

  • Share this:

नई दिल्‍ली. आईपीएल (IPL 2021) के 14वें सीजन को भले ही कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण मजबूरन टालना पड़ा, मगर खेले गए 29 मैचों में ही कई युवा खिलाड़ियों ने अपनी चमक बिखेर दी. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के गेंदबाज हर्षल पटेल (Harshal Patel) पर्पल कैप की दौड़ में सबसे आगे थे. उन्‍होंने सात मैचों में 17 विकेट लिए थे. पटेल ने खुलासा किया कि आईपीएल शुरू होने से पहले उनका आत्‍मविश्‍वास लड़खड़ा रहा था, मगर आरसीबी टीम में आने के बाद कप्‍तान विराट कोहली ने उनका आत्‍मविश्‍वास बढ़ाया और जिसका परिणाम यह हुआ कि वह पर्पल कैप की दौड़ में सबसे आगे हो गए.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से बात करते हुए पटेल ने कहा कि जब उन्‍हें आरसीबी टीम में शामिल किया गया, तब टीम के कप्‍तान विराट कोहली ने उन्‍हें मैसेज किया और कहा कि वापसी पर स्‍वागत है. तुम खेलोगे. पटेल ने कहा कि कोहली के इस मैसेज ने उन्‍हें अहसास करवाया कि आरसीबी के लिए वह अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते हैं.

फ्लॉप होने पर भी हालात समझते हैं कोहली

आरसीबी के इस स्‍टार गेंदबाज ने कहा कि कोहली आपको अपना काम करने देते हैं. यहां तक कि अगर आप समय पर अपनी योजना को लागू भी नहीं कर पाते तो भी वह समझते हैं कि बल्‍लेबाज का दिन है. बेहतर प्रदर्शन करने में फ्लॉप होने पर भी समीक्षा के लिए बैठते हैं. मीटिंग में भी इस पर ही बात होती है कि पटरी पर लौटने के लिए क्‍या कर सकते हैं.
यह भी पढ़ें: 

ICC WTC Final: विराट कोहली की अगुआई वाली टीम इंडिया को 19 मई तक करनी होगी बायो-बबल में एंट्री

IPL 2021 के बाकी बचे मैचों में नहीं खेलेंगे इंग्‍लैंड के खिलाड़ी! जानें पूरा मामला



हर्षल पटेल ने एबी डिविलियर्स के बारे में कहा कि मैदान पर होने वाली हर चीज के बारे में डिविलियर्स से बेहतर कोई नहीं जान सकता. आपको संघर्ष करते हुए देखकर वह आपसे बातचीत करने के लिए आएंगे. इस गेंदबाज ने बताया कि जब वो गेंदबाजी के लिए आते थे तो डिविलियर्स शायद काफी गेंदबाजी देख चुके होते थे, जिस वजह से वो उन्‍हें छोटी छोटी चीजें बताते थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज