IPL 2021: पृथ्वी शॉ ने माना उनकी तकनीक में थी दिक्कत, बताया कैसे दूर की खामी

पृथ्वी शॉ ने चेन्नई के खिलाफ 72 रनों की विस्फोटक पारी खेली.
 (Prithvi Shaw/Instagram)

पृथ्वी शॉ ने चेन्नई के खिलाफ 72 रनों की विस्फोटक पारी खेली. (Prithvi Shaw/Instagram)

IPL 2021: ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मिली असफलता को पीछे छोड़ते हुए पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी और आईपीएल के पहले मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ धमाकेदार प्रदर्शन किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 9:25 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली कैपिटल्स के आक्रामक युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने आईपीएल 2021 के अपने पहले मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 72 रनों की आतिशी पारी खेली. ठीक चार महीने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एडिलेड टेस्ट में भारत की करारी हार के बाद शॉ को भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया था. उस टेस्ट में पृथ्वी दोनों पारियों में बोल्ड हुए थे और सिर्फ चार रन बनाने में सफल रहे. लेकिन 21 वर्षीय शॉ इससे हताश नहीं हुए और भारत लौटते ही अपने बल्लेबाजी पर काम करना शुरू कर दिया. शॉ की इस मेहनत का असर भी दिखा. पहले वह विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में 800 रन बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने और अब आईपीएल में धमाल मचाया.

शॉ ने चेन्नई के खिलाफ शनिवार को महज 38 गेंदों में 72 रन बनाए. शॉ ने अपनी पारी में 9 चौके और 3 छक्के लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 190 के करीब रहा. इस बल्लेबाज ने सिर्फ 27 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया. मैच के बाद शॉ ने कहा, ;जीत के बाद अच्छा लग रहा है. सभी ने योगदान दिया और यह एक अच्छी शुरुआत थी. दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने के लिए विकेट अच्छा था. बॉल अच्छी तरह बैट पर आ रहा था. ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद ड्रॉप होने के बाद मैं प्रवीण (आमरे) सर के पास गया, अपने बैटिंग पर चर्चा की और फिर घरेलू मैच खेले, जिसका मुझे फायदा हुआ. मुझे बहुत खुशी है कि मैं वापसी कर सका." बता दें कि शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में 165.40 की औसत से 827 रन बनाए. उनका स्ट्राइक रेट 138.29 का रहा.

पृथ्वी शॉ ने कहा, 'विजय हजारे टूर्नामेंट में जाने से पहले मेरे पास एक अच्छी योजना थी, इसलिए यह काफी अच्छा रहा मैं भारतीय टीम से हटाए जाने के कारण के बारे में नहीं सोचना चाहता था क्योंकि यह मेरे लिए निराशाजनक क्षण था. लेकिन मुझे आगे बढ़ना होगा और अगर मेरी बल्लेबाजी या तकनीक में कुछ गड़बड़ है, तो मुझे सुधार करना होगा और मैं अपनी कमियों पर काम कर रहा हूं.'

यह भी पढ़ें:
पृथ्वी शॉ की बल्लेबाजी देख वॉन बोले-भारत में इतना टैलेंट कि दो टीमें बनाकर भी दुनिया पर राज कर सकता है

IPL 2021: पंत के रूप में भारतीय क्रिकेट को मिला नया 'कैप्टन कूल', हर मौके पर इस खिलाड़ी ने मारा चौका

पिछले साल आईपीएल में भी पृथ्वी शॉ का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था. शुरुआती मैचों में फ्लॉप होने के चलते उन्हें टूर्नामेंट के बाकी मैचों पर बेंच पर बैठना पड़ा. हालांकि पहले मैच में शॉ के धमाकेदार प्रदर्शन को देखते हुए लग रहा है कि यह खिलाड़ी आईपीएल 2021 में अपनी छाप छोड़ने को बेकरार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज