Home /News /sports /

ipl 2022 lalchand rajput says csk mi and kkr made a mistake in retaining players

IPL 2022: राजस्थान-गुजरात रीटेन प्लेयर्स के दम पर टॉप पर, तो क्या चेन्नई-मुंबई ने ऑक्शन से पहले ही कर दी थी गलती?

IPL 2022: आईपीएल 2022 की टॉप-4 टीमें तय.

IPL 2022: आईपीएल 2022 की टॉप-4 टीमें तय.

IPL 2022: आईपीएल 2022 का 15वां सीजन बड़ी टीमों के लिए बेहद ही खराब साबित हुआ. टी20 लीग के इतिहास की 2 सबसे सफल टीमें मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स प्वॉइंट टेबल में सबसे निचले पायदान पर रहीं. वहीं 2 नई टीमें गुजरात टाइटंस और लखनऊ सुपर जायंट्स नॉकआउट में पहुंचने में सफल रहीं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. आईपीएल 2022 की टॉप-4 टीमें तय हो गई हैं. टी20 लीग (IPL 2022) की 2 नई टीमें गुजरात टाइटंस और लखनऊ सुपर जायंट्स ने प्लेऑफ में जगह बना ली है. राजस्थान रॉयल्स भी टॉप-2 में है. वहीं 11 बार टाइटल जीतने वाली 3 टीमें मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स का प्रदर्शन बेहद खराब रहा. इसके बाद सवाल उठ रहे हैं कि आखिर इनके खराब प्रदर्शन के पीछे क्या कारण है. तीनों टीमों के प्रदर्शन से साफ है कि उन्होंने जिन खिलाड़ियों को रीटेन किया था, वे खुद को साबित नहीं कर सके. इतना ही नहीं उन्होंने जिन खिलाड़ियों को अपने साथ नहीं जाेड़ा, वे दूसरी टीमों को जीत दिला रहे हैं. भारतीय टीम के पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने इसे लेकर बड़ी बात कही है. आइए हम जानते हैं कि आखिरी उन्होंने गलती कहां की और गुजरात व लखनऊ के अच्छे प्रदर्शन के पीछे की वजह क्या है.

News18 Hindi से एक्सक्लूसिव बात करते हुए लालचंद राजपूत ने कहा, ‘सीएसके ने फॉर्म के ही कारण ऋतुराज गायकवाड़ को रीटेन किया था. उन्होंने आईपीएल 2021 में सबसे अधिक रन बनाए थे, लेकिन वे मौजूदा सीजन में कुछ खास नहीं कर सके. जब तक वे फॉर्म में लौटे, तब तक देर हो चुकी थी.’ उन्होंने कहा कि रवींद्र जडेजा बतौर कप्तान और बतौर खिलाड़ी फेल रहे. जबकि टीम ने उन्हें सबसे अधिक 16 करोड़ रुपए में रीटेन किया था. एमएस धोनी और मोईन अली के प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रही. टीम इंडिया के पूर्व कोच ने टीम की बड़ी गलती को भी बताया.

डुप्लेसी को किया बाहर, हुई गलती

उन्होंने कहा कि टीम ने सीनियर खिलाड़ी फाफ डुप्लेसी को रीटेन नहीं किया. जबकि उन्होंने पिछले सीजन में ऋतुराज गायकवाड़ के साथ अच्छी साझेदारी करके टीम को चैंपियन बनाने में बड़ी भूमिका निभाई थी. उन्होंने 600 से अधिक रन भी बनाए थे. जूनियर खिलाड़ी को सीनियर से काफी कुछ सीखने को मिलता है. इस बार ऋतुराज को इस चीज की कमी खली. दीपक चाहर का चोटिल होना भी टीम के लिए बड़ा झटका रहा. वे टीम को नई गेंद से खासकर पहले 6 ओवर में विकेट दिलाते हैं.

केकेआर का भी यही हाल

लालचंद राजपूत ने कहा कि मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के रीटेन किए खिलाड़ी भी कुछ खास नहीं कर सके. उन्होंने कहा कि केकेआर की ओर से सिर्फ आंद्रे रसेल ही खुद को साबित कर सके. वरुण चक्रवर्ती टी20 वर्ल्ड कप के बाद टी20 लीग के 15वें सीजन में बुरी तरह फेल रहे. सुनील नरेन ने भले ही अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन उन्हें सपोर्ट नहीं मिला. पिछले सीजन में वरुण और नरेन दोनों का प्रदर्शन अच्छा रहा था. इस कारण टीम फाइनल में पहुंची थी. वे वेंकटेश अय्यर के प्रदर्शन से खासे निराश दिखे. उन्होंने कहा कि उनका प्रदर्शन एक बड़ा उदाहरण है. पहले सीजन में आपको कोई नहीं जानता. ऐसे में आपके लिए प्रदर्शन करना आसान होता है. लेकिन दूसरा सीजन आपके लिए महत्वपूर्ण होता है. सभी टीमें आपके हिसाब से तैयारी करके आती हैं. इस कारण वे 10 फीसदी भी प्रदर्शन नहीं कर पाए.

पोलार्ड तक को बाहर करना पड़ा

लालचंद राजपूत ने कहा कि कायरन पोलार्ड टी20 के अच्छे खिलाड़ी हैं. लेकिन वे इस सीजन में रीटेन होने के बाद भी अच्छा खेल नहीं दिख सके. इस कारण जन्मदिन पर मुंबई इंडियंस ने उन्हें टीम से बाहर कर दिया. बतौर कप्तान शायद रोहित शर्मा पर अधिक दबाव रहा, क्योंकि वे टीम इंडिया के भी कप्तान बनाए जा चुके हैं. सूर्यकुमार यादव चोटिल होने के कारण पूरा सीजन नहीं खेल सके. वहीं तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को किसी का साथ नहीं मिला. गेंदबाज हमेशा पेयर्स में अच्छा प्रदर्शन करते हैं. पिछले सीजन में ट्रेंट बोल्ट उनके साथ थे. पंड्या के नहीं होने से निचले क्रम पर पोलार्ड पर अच्छा प्रदर्शन करना का दबाव था और वे इसमें फेल रहे.

गुजरात के पास अच्छे फिनिशर

गुजरात टाइटंस की टीम पहली बार टी20 लीग में उतर रही है. उसे सीजन से पहले 3 खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ने का मौका मिला. टीम ने हार्दिक पंड्या को कप्तान बनाया. वहीं राशिद खान और शुभमन गिल को भी शामिल किया. टीम इंडिया के पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने कहा कि गुजरात के पास अच्छे फिनिशर हैं. ओपनिंग के बाद हार्दिक पंड्या, डेविड मिलर, राहुल तेवतिया और राशिद खान हैं. इस कारण टॉप ऑर्डर पर दबाब नहीं है. इस कारण टीम कई नजदीकी मुकाबले जीतने में सफल रही. इसके अलावा कोच आशीष नेहरा भी ओपन माइंडेड दिखे. खिलाड़ियों पर अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव पहले से रहता है. ऐसे में कोच का काम है कि खिलाड़ियों पर से दबाव को कम किया जाए. नेहरा ऐसा करने में सफल रहे.

स्मार्ट तरीके से खिलाड़ियों को खरीदा

लखनऊ सुपर जायंट्स को लेकर लालचंद राजपूत ने कहा कि उनके पास 2 धुरंधर ओपनर हैं. टीम ने केएल राहुल को कप्तान बनाया. इसके अलावा क्विंटन डिकॉक भी हैं. वहीं मिडिल ऑर्डर में मार्कस स्टोइनिस, जेसन होल्डर, क्रुणाल पंड्या, दीपक हुडा, आयुष बदोनी हैं. यानी टीम ने स्मार्ट तरीके से खिलाड़ियों को खरीदा. टीम ने ऑक्शन से पहले केएल राहुल के अलावा स्टाेइिनस और लेग स्पिनर रवि बिश्नोई को अपना साथ जोड़ा था.

बटलर हैं शानदार फॉर्म में

राजस्थान रॉयल्स के प्रदर्शन पर उन्होंने कहा कि पूरी टीम जोस बटलर और संजू सैमसन के आस-पास रही. टीम ने इन दोनों के अलावा यशस्वी जायसवाल को रीटेन किया था. आर अश्विन और युजवेंद्र चहल ने भी अच्छा प्रदर्शन किया. सैमसन ने पूरी टीम को अच्छे से चलाया. बटलर अब तक 3 शतक लगा चुके हैं.

नाम बड़े पर दर्शन छोटे

रवींद्र जडेजा: 10 मैच, 116 रन, 5 विकेट

मोईन अली: 10 मैच, 244 रन, 8 विकेट

वेंकटेश अय्यर: 12 मैच, 182 रन, 0 विकेट

वरुण चक्रवर्ती: 11 मैच, 6 विकेट

कायरन पोलार्ड: 11 मैच, 144 रन, 4 विकेट

जसप्रीत बुमराह: 14 मैच, 15 विकेट

IPL 2022: आरसीबी ने जिस खिलाड़ी को सिर्फ एक मैच में दिया मौका, उसी ने टीम को पहुंचाया प्लेऑफ में

धोनी के साथ हुई अनहोनी, रोहित भी फेल

रोहित शर्मा: 14 मैच, 268 रन, 0 अर्धशतक

एमएस धोनी: 14 मैच, 232 रन, 1 अर्धशतक

पंड्या सफल तो राहुल चमके

हार्दिक पंड्या: 13 मैच, 413 रन, 4 विकेट

केएल राहुल: 14 मैच, 537 रन, 2 शतक

संजू सैमसन: 14 मैच, 374 रन, 2 अर्धशतक

VIDEO: कोहली का नहीं देखा होगा ऐसा डांस, जीत के बाद जमकर झूमे, 4 घंटे तक पूरी टीम टीवी के सामने डटी रही

राशिद और गिल नए शिखर पर

शुमभन गिल: 14 मैच, 403 रन, 4 अर्धशतक

राशिद खान: 14 मैच, 91 रन, 18 विकेट

जोस बटलर: 14 मैच, 629 रन, 3 शतक

Tags: Chennai super kings, IPL, IPL 2022, Kolkata Knight Riders, Lalchand Rajput, Ms dhoni, Mumbai indians, News18 Hindi Originals

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर