होम /न्यूज /खेल /

IPL 2022 Mega Auction कड़े बायो-बबल में होगा, फ्रेंचाइजियों को 10 बातों का रखना होगा ध्यान

IPL 2022 Mega Auction कड़े बायो-बबल में होगा, फ्रेंचाइजियों को 10 बातों का रखना होगा ध्यान

IPL 2022 Mega Auction: 12 और 13 फरवरी को मेगा ऑक्शन होना है. जानिए फ्रेंचाइजियों को किन बातों का ध्यान रखना होगा. (IPL Twitter)

IPL 2022 Mega Auction: 12 और 13 फरवरी को मेगा ऑक्शन होना है. जानिए फ्रेंचाइजियों को किन बातों का ध्यान रखना होगा. (IPL Twitter)

IPL 2022 Mega Auction कोरोना से प्रभावित ना हो, इसके लिए बीसीसीआई (BCCI) ने खास इंतजाम किए हैं. ऑक्शन की पूरी प्रक्रिया कड़े बायो-बबल के बीच होगी. नीलामी में हिस्सा लेने वाले फ्रेंचाइजी अधिकारियों का लगातार 3 दिन कोरोना टेस्ट होगा और निगेटिव रिपोर्ट होने के बाद ही वो ऑक्शन में शामिल होंगे. इसके अलावा भी फ्रेंचाइजियों को कई और बातों का ध्यान रखना होगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. आईपीएल 2022 का मेगा ऑक्शन (IPL 2022 Mega Auction) 12-13 फरवरी को बेंगलुरु में होगा. नीलामी में 10 टीमें 590 खिलाड़ियों पर बोली लगाएंगी. इस बार अहमदाबाद और लखनऊ दो नई फ्रेंचाइजी लीग में जुड़ी हैं. ऐसे में ऑक्शन के दिलचस्प होने की उम्मीद है. कोरोना के खतरे को देखते हुए मेगा ऑक्शन कड़े बायो-बबल में होगा. ऐसे में नीलामी में हिस्सा लेने वाली सभी 10 फ्रेंचाइजियों को कोरोना प्रोटोकॉल और ऑक्शन से जुड़ी 10 बातों का ध्यान रखना है.आइए जानते वो बातें और नियम क्या हैं? जिन्हें लेकर नीलामी में शामिल होने वालों को सतर्क रहना होगा.

कोरोना की तीसरी लहर का असर भले ही थोड़ा कम हुआ है. लेकिन अभी भी वायरस का खतरा तो ही. इसी वजह से आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन (IPL 2022 Mega Auction) बायो-बबल में होगा. इसलिए सभी फ्रेंचाइजी को बायो-बबल से जुड़े नियमों का पालन करना होगा.

1. नीलामी में हिस्सा लेने वाले फ्रेंचाइजी अधिकारियों को 9, 10 और 11 फरवरी को निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के साथ कोरोना टेस्ट पास करना होगा. यह टेस्ट बीसीसीआई द्वारा मान्यता प्राप्त लैब करेगी.

2. इस बार फ्रेंचाइजी के पास राइट टू मैच यानी RTM कार्ड नहीं होगा. इससे पहले तक सभी टीमों के पास दो राइट टू मैच कार्ड होते थे. इसके जरिए फ्रेंचाइजी को ऐसे खिलाड़ी को वापस खरीदने का विकल्प दिया जाता है, जिसे वो रिटेन नहीं कर पाए हैं. लेकिन अपनी टीम में वापस लाना चाहते हैं. इसके लिए नीलामी के दौरान अगर किसी खिलाड़ी को दूसरी टीम ने खरीद लिया, तो उसकी पुरानी टीम राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल करके उसी कीमत पर खिलाड़ी को अपने साथ जोड़ सकती थी. इस बार यह सुविधा नहीं है. क्योंकि नीलामी में दो नई टीमें शामिल हुई हैं. ऐसे में उनके साथ अनुचित होता.

इससे मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स, चेन्नई सुपर किंग्स काफी प्रभावित होंगी और यह टीमें काफी हद तक बदल जाएंगी.

सौरव गांगुली पर सेलेक्शन कमेटी के सदस्य का बड़ा खुलासा, कहा-टीम चुनने में दखल नहीं दिया, लेकिन डर…

3. इस बार टीमों का सैलरी पर्स बढ़ाकर 90 करोड़ कर दिया गया है. ताकि डोमेस्टिक क्रिकेट खेलने वाले ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ियों को आईपीएल में मौका दिया जा सके.

4. नीलामी में हिस्सा लेने वाले उन लोगों को जो 15 दिनों में विदेश से भारत लौटे हैं को 7 दिन के लिए अनिवार्य रूप से क्वारंटीन होना पड़ेगा और इसके बाद 8वें और 9वें दिन इनकी दो कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आना जरूरी है.

5. बीसीसीआई 11 फरवरी को नीलामी के लिए होटल में पहुंचने वालों पर भी कड़ी नजर रखेगी और यह जांचा जाएगा कि उनमें से किसी में भी कोरोना के लक्षण तो नजर नहीं आ रहे.

6. नीलामी 12-13 फरवरी को होनी है. इस दिन सुबह 7 बजे तक कोरोना टेस्ट होंगे. ताकि नीलामी किसी तरह प्रभावित ना हो. नीलामी में हिस्सा लेने वाले अधिकारियों को तब तक होटल रूम में ही रुकना होगा, जब तक उनकी रिपोर्ट निगेटिव नहीं आती.

7. आईपीएल नीलामी में हिस्सा लेने के लिए वही लोग पात्र होंगे, जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है और क्वारंटीन नियमों का पालन किया होगा.

8. ऑक्शन में शामिल सभी प्रतिभागियों को बीसीसीआई की मेडिकल टीम को अपनी सारी जानकारी साझा करनी होगी. इसमें कोरोना टीकाकरण का सर्टिफिकेट भी शामिल है.

9. ऑक्शन टेबल पर बैठे और ऑडिटोरियम में मौजूद लोगों को हर वक्त मास्क लगाकर रखना होगा.

10. आखिर में सभी लोगों को ऑक्शन के लिए बनाए गए कोविड प्रोटोकॉल और उससे जुड़े नियमों का हर हाल में पालन करना होगा.

Tags: BCCI, IPL, IPL Auction

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर