आईपीएल के स्थगित होने के बाद बीसीसीआई को एक और झटका, होगा करोड़ों का नुकसान?

आईपीएल के मौजूदा सीजन के 31 मुकाबले बाकी हैं. (IPL/Twitter)

आईपीएल के मौजूदा सीजन के 31 मुकाबले बाकी हैं. (IPL/Twitter)

कोरोना (Covid-19) के कारण आईपीएल 2021 (IPL 2021) का मौजूदा सीजन स्थगित हो चुका है. 60 में 29 मुकाबले हुए हैं. अगर बचे 31 मैच नहीं होते हैं तो बीसीसीआई (Bcci) को लगभग 2500 करोड़ का नुकसान होगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. काेरोना (Covid-19) के कारण आईपीएल 2021 (IPL 2021) को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है. अगर टी20 लीग का मौजूदा सीजन नहीं होता है तो बीसीसीआई (Bcci) को लगभग 2500 करोड़ रुपए का नुकसान होगा. इस बीच बीसीसीआई के लिए इस कठिन समय में एक और बुरी खबर आई है. बोर्ड 2022 से आईपीएल में 10 टीमों को शामिल करने की घोषणा कर चुका है. दो टीमों का टेंडर मई में होना था, लेकिन इसे टाल दिया गया है.

इनसाइट स्पोर्ट्स की खबर के अनुसार, बीसीसीआई के सूत्र ने बताया कि बोर्ड वर्तमान में सीजन के बचे मैच कराने को लेकर चिंतित है और नई टीमों पर कोई चर्चा नहीं हो रही है. बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘इस समय नई टीमों के बारे में बात करने का सही समय नहीं है. हमें पहले मौजूदा सीजन के बचे मैच के बारे में सोचना है. उसके बाद ही आईपीएल 2022 के लिए नई टीमों पर निर्णय लिया जा सकता है. इस संबंध में बीसीसीआई में अभी कोई चर्चा नहीं हो रही है. जुलाई से पहले इस पर कोई निर्णय नहीं होने वाला.’

आईपीएल के अंत में टेंडर जारी होने थे

मार्च में बीसीसीआई ने आईपीएल के 15वें सीजन यानी 2022 से में दो और नई टीमों को शामिल करने का फैसला किया था. अध्यक्ष सौरव गांगुली, सचिव जय शाह सहित बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारियों ने घोषणा की थी कि आईपीएल 2022 10 टीमों के बीच खेला जाएगा. बीसीसीआई की ओर से यह भी तय किया गया कि आईपीएल 2021 के अंत में दो नई टीमों की नीलामी के लिए टेंडर जारी किए जाएंगे. लेकिन उन सभी योजनाओं को फिलहाल ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है.
विंडो की तलाश कर रहा है बोर्ड

सूत्र ने बताया, ‘हम इस समय कोई समय-सीमा नहीं दे सकते. जैसा कि मैंने कहा, इस संबंध में फिलहाल बीसीसीआई में कोई चर्चा नहीं हो रही है. ’ बीसीसीआई के सामने फिलहाल सबसे बड़ा सवाल यह है कि आईपीएल 2021 का सीजन कैसे और कब पूरा किया जाए. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने खुद घोषणा की है कि अगर सीजन पूरा नहीं हुआ तो बीसीसीआई को लगभग 2500 करोड़ का नुकसान होगा. गांगुली ने संकेत दिया है कि बीसीसीआई जल्द ही 2021 में एक संभावित विंडो के लिए अन्य क्रिकेट बोर्डों के साथ बातचीत कर सकता है.

यह भी पढ़ें: करियर के दौरान 10-12 वर्षों तक तनाव में था, कई रात सो नहीं सका: सचिन तेंदुलकर



3 हजार करोड़ रुपए की कमाई हो सकती है

गौरतलब है कि बीसीसीआई हर टीम को बेचकर 1500 करोड़ से ज्यादा की कमाई कर सकता है. बीसीसीआई पहले नई आईपीएल टीमों के लिए टेंडर के आधार मूल्य के रूप में 1500 करोड़ रखने की योजना बना रहा था, जो कि 2008 में नीलामी के समय की तुलना में लगभग 12-15 गुना है. इस तरह से दो टीमों के जुड़े से बोर्ड को लगभग 3 हजार करोड़ रुपए मिलेंगे. इसके बाद मैच की संख्या बढ़ने से रेवेन्यू भी बढ़ेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज