Home /News /sports /

ipl 2022 rishabh pant and fast bowlers form are two concerns for delhi capitals when they face mumbai indians

IPL 2022: दिल्ली कैपिटल्स दो कमजोरी के कारण करो या मरो के फेर में उलझी, अब चूकी तो खेल खत्म

IPL 2022 में दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आज टक्कर है. जानिए दिल्ली के सामने क्या चुनौती है? (PC- Delhi capitals instagram)

IPL 2022 में दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आज टक्कर है. जानिए दिल्ली के सामने क्या चुनौती है? (PC- Delhi capitals instagram)

IPL 2022 में दिल्ली कैपिटल्स अपने आखिरी लीग मुकाबले में मुंबई इंडियंस से भिड़ेगी. दिल्ली के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है. अगर इस मैच में दिल्ली की टीम हारी तो प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाएगी. दिल्ली को अगर अंतिम-4 में पहुंचना है तो उसे अपनी दो कमजोरियों को दूर करना होगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. आईपीएल 2022 का लीग स्टेज रविवार को खत्म हो जाएगा. शनिवार को लीग स्टेज के सबसे अहम मुकाबले या यह कहें कि वर्चुअल क्वार्टर फाइनल में दिल्ली कैपिटल्स की टक्कर मुंबई इंडियंस से होगी. इस एक मुकाबले के नतीजे पर दो टीमों दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद टिकी है. अगर दिल्ली जीती तो फिर आरसीबी प्लेऑफ में नहीं पहुंचेगी. वहीं, मुंबई के बाजी मारने की सूरत में आरसीबी प्लेऑफ में पहुंचने वाली चौथी टीम बनेगी. यानी दिल्ली के लिए तो यह करो या मरो का मुकाबला ही है.

दिल्ली कैपिटल्स ने लीग की शुरुआत जीत के साथ की थी. लेकिन बीच में टीम की गाड़ी पटरी से उतर गई थी. इसी वजह से दिल्ली कैपिटल्स को प्लेऑफ के लिए आखिरी मुकाबले तक का इंतजार करना पड़ रहा है. हालांकि, दिल्ली ने पिछले 4 में से 3 मैच जीतकर दोबारा लय हासिल की है. अब टीम मुंबई इंडियंस के खिलाफ इसे बरकरार रखना चाहेगी. लेकिन, दिल्ली की टीम की राह में दो बड़ी अड़चन है. एक कप्तान ऋषभ पंत का फॉर्म और दूसरा तेज गेंदबाजों के प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव. मुंबई के खिलाफ अगर दिल्ली को जीत दर्ज करनी है और प्लेऑफ का टिकट कटाना है, तो इन दो कमजोरियों को दूर करना होगा.

दिल्ली के तेज गेंदबाजों का फीका प्रदर्शन
आईपीएल के 15वें सीजन में दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन उतार-चढ़ाव भरा रहा है. खलील अहमद को छोड़ दें तो बाकी तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा. खलील ने 9 मैच में 18.18 की औसत से 16 विकेट लिए हैं. पिछले साल तेज गेंदबाजी आक्रमण की कमान संभालने वाले एनरिक नॉर्खिया शुरुआती मुकाबले चोट के कारण नहीं खेले. लेकिन, फिट होने के बाद जब से उन्होंने वापसी की. उनकी धार पहले जैसी नहीं दिखी. उन्होंने 5 मैच में 25.71 के औसत से सिर्फ 7 विकेट लिए हैं. शार्दुल ठाकुर ने भले ही 13 मैच में 13 विकेट लिए हैं. लेकिन उन्होंने 10 रन प्रति ओवर दिए हैं. तेज गेंदबाजों के फीके प्रदर्शन का खामियाजा दिल्ली को उठाना पड़ा है.

पंत का फॉर्म दिल्ली की दूसरी बड़ी परेशानी
दिल्ली की दूसरी कमजोरी या परेशानी कप्तान ऋषभ पंत का फॉर्म है. पंत ने इस सीजन में डेविड वॉर्नर (427) के बाद दिल्ली कैपिटल्स के लिए सबसे अधिक 301 रन बनाए हैं. उनका स्ट्राइक रेट भी 159 है. लेकिन परेशानी की बात यह है कि वो अब तक इस सीजन में एक भी फिफ्टी नहीं लगा पाए हैं. उनका बेस्ट स्कोर 44 रन रहा है. वो कई मुकाबलों में अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पाए. इसका नुकसान दिल्ली को उठाना पड़ा है और लोअर ऑर्डर के बल्लेबाजों पर मैच फिनिश करने का अतिरिक्त दबाव आया है.

DC vs MI Dream 11 Tips: आईपीएल 2022 का सबसे रोमांचक मुकाबला आज, इन 11 खिलाड़ियों पर लगा सकते हैं दांव

बुमराह ने पंत को सबसे अधिक बार आउट किया
मुंबई के खिलाफ अगर दिल्ली को जीत दर्ज करनी है तो इन कमियों को दूर करना होगा. हालांकि, पंत के सामने मुंबई के नंबर-1 गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की चुनौती होगी. पंत को टी20 में जसप्रीत बुमराह ने 12 पारियों में 6 बार आउट किया है. वो इस फॉर्मेट में सबसे अधिक बार बुमराह का शिकार हुए हैं.

Tags: Dc vs mi, Delhi Capitals, IPL 2022, IPL Playoff, Rishabh Pant

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर