खेल

IPL: 4 मैचों ने कुंबले और राहुल की जोड़ी को 'सुपर फ्लॉप' से कैसे बना दिया सुपर हिट?

अनिल कुंबले और केएल राहुल
अनिल कुंबले और केएल राहुल

IPL 2020: लगातार 5 मैचों में हार के बाद पंजाब के हौसले पस्त हो गए थे. लेकिन जैसे ही उनका मुकाबला कोहली की टीम से हुआ पासा पलट गया...

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 8:45 AM IST
  • Share this:
दुबई. एक के बाद एक लगातार 5 मैचों में हार. ऐसा लगा कि किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के लिए आईपीएल (IPL) में उम्मीदें खत्म हो चुकी है. लेकिन कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) और कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) की जोड़ी ने ऐसा धमाल मचाया कि अब ये टीम एक बार फिर से प्लेऑफ की दौड़ में शामिल हो गई है. एक के बाद एक लगातार 4 मैचों में धमाकेदार जीत ने पंजाब की टीम को भी खिताब का दावेदार बना दिया है. खास कर शनिवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अविश्वसनीय जीत ने हर किसी को कुंबले और राहुल की जोड़ी का दीवाना बना दिया है.

कैसे पलटी बाज़ी?
लगातार 5 मैचों में हार के बाद पंजाब के हौसले पस्त हो गए थे. लेकिन जैसे ही उनका मुकाबला कोहली की टीम से हुआ पासा पलट गया. शारजाह के मैदान पर पंजाब ने आरसीबी की टीम को 8 विकेट से करारी शिकस्त दे दी. इसके बाद तो बाजी पलट गई. पंजाब की टीम ने मुंबई को डबल सुपर ओवर में हराया. दिल्ली कैपिटल्स को 5 विकेट से धोया. और अब सनराइजर्स के खिलाफ 126 रन बनाने के बाद भी पंजाब को 12 रनों जीत मिल गई.





ये जोड़ी तो हिट है
अनिल कुंबले एक ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जो कभी भी हिम्मत नहीं हारते. आपको याद होगा साल 2002 में वेस्टइंडीज़ के खिलाफ एंटीगा टेस्ट में उन्होंने जबड़ा टूटने के बाद भी पट्टी बांधकर गेंदबाजी की थी. लिहाजा पांच मैचों में हार के बाद भी कुंबले ने अपनी टीम को हौसला नहीं टूटने नहीं दिया. टीम बुलंद हौसले के साथ डटी रही और नतीजा आपके सामने है. कप्तान केएल राहुल भी शानदार कप्तानी कर रहे हैं. लगातार हार के बाद भी उन्होंने टीम में ज्यादा बदलाव नहीं किए. खिलाड़ियों पर भरोसा जताया और अब उकी टीम को उसका फायदा मिल रहा है.

लक फैक्टर
किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में क्रिस गेल प्लेइंग इलेवन में पहली पसंद नहीं थे. लेकिन जैसे ही वो खेलने के लिए उतरे पंजाब कि किस्मत बदल गई. उनके आने के बाद एक बार भी पंजाब की टीम नहीं हारी है. ये बात और है कि गेल के बल्ले से पुराने अंजाज में रन नहीं निकल रहे हैं. लेकिन उनके मैदान पर रहने से विपक्षी टीम के गेंदबाज़ खौफ में रहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज