चेन्नई सुपर किंग्स ने बढ़ाया आईपीएल के शेड्यूल का इंतजार, बीसीसीआई करेगी बड़ा बदलाव!

चेन्नई सुपर किंग्स ने बढ़ाया आईपीएल के शेड्यूल का इंतजार, बीसीसीआई  करेगी बड़ा बदलाव!
आईपीएल के लिए सभी टीमें यूएई पहुंच चुकी है

19 सितंबर से आईपीएल 2020 (IPL 2020) की शुरुआत होनी है जिसका फाइनल 10 नवंबर को खेला जाएगा. हालांकि अब तक इसका शेड्यूल जारी नहीं किया गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 4:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईपीएल (IPL 2020)  की शुरुआत होने में केवल 19 दिन बचे हैं और अभी तक बीसीसीआई (BCCI) ने शेड्यूल जारी नहीं किया है. खबरों के मुताबिक रविवार को टीमों ने जल्द शेड्यूल जारी करने की अपील की थी. बीसीसीआई(BCCI)  को शेड्यूल को लेकर बड़ा फैसला करने की जरूरत है. मौजूदा हालात को देखते हुए ही बीसीसीआई शेड्यूल जारी करेगी. चेन्नई सुपर किंग्स के दो खिलाड़ी 11 सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शेड्यूल में बड़ा बदलाव होना तय है. हालांकि यह बदलाव क्या होगा इसका फैसला आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल करेगी. बीसीसीआई कुछ विकल्पों पर विचार कर रही है जिसमें टूर्नामेंट का पूरा पहला लेग दुबई में होना शामिल है.

दुबई में खेला जाएगा पहला लेग
आठ में से छह आईपीएल टीमें फिलहाल दुबई में है और आईसीसी अकेडमी में ट्रेनिंग कर रही है. नए शेड्यूल के लिए जिन रणनीतियों पर काम किया जा रहा है उसमें एक के मुताबिक टूर्नामेंट के शुरुआती 20 मैच दुबई में आयोजित किए जाएं. इसका मतलब यह हुआ कि कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियंस केवल दो टीमों को ही सफर करके दुबई पहुंचना होगा जिसके लिए सभी का कोरोना टेस्ट नेगेटिव आना जरूरी है. यह ज्यादा सही तरीका क्योंकि इससे कम टीमों को सफर करना होगा.

यूएई में फिलहाल कोरोना के केस में बढ़ोतरी हुई है और इस कारण सफर के नियमों पर काफी सख्ती बर्ती जा रहा है. खास कर अबु-धाबी में जहां पहुंचने में पहले के मुकाबले काफी अधिक समय लगता है. अबु धाबी का बॉर्डर शख्स जितनी पर क्रोस करेगा हर बार उसके पास पिछले 48 घंटे पहले की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए.




सुरेश रैना ने खराब होटल रूम की वजह से छोड़ा आईपीएल, धोनी से भी हुआ विवाद!

मॉर्गन और मलान के तूफान में उड़े पाकिस्तानी गेंदबाज, नहीं बचा पाए 195 रनों का विशाल स्कोर

ग्रुप में बांटी जाए टीमें
दूसरे तरीके के तौर पर सोचा जा रहा है कि टीमों को दो ग्रुप में बांटा जाए. एक दिन में दो मैचों का आयोजन साथ हो. इससे यह फायदा होगा कि अगर आइसोलेशन या किसी ओऱ कारण से कोई टीम नहीं उतरती है तो दूसरे ग्रुप को मैच बिना किसी परेशानी के जारी रह सकता है. नियमों के मुताबिक जो भी खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है उसे बीसीसीआई की एसओपी के मुताबिक 14 दिन तक क्वारंटीन में रहना होता है. वहीं उसके साथ ही खिलाड़ी छह दिन आईसोलेट होते हैं. बॉयो सेक्यूर बबल में वापसी के लिए उन्हें तीन पर टेस्ट करना होगा. क्लसटर शेड्यूलिंग से टूर्नामेंट का आधा हिस्सा बिना परेशानी के चलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज