खेल

IPL DC Vs KXIP: अंपायर के गलत फैसले को लेकर मचा हंगामा, पंजाब की टीम ने रेफरी से की शिकायत

अंपायर की गलती
अंपायर की गलती

IPL DC Vs KXIP: इस मुद्दे पर किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन प्रीति जिंटा ने भी अंपायर पर गुस्सा निकाला है. उन्होंने इस मुद्दे पर सवाल उठाया है और बीसीसीआई को घेरते हुए कहा है कि ऐसी टेक्नोलॉजी का क्या काम जो गलत फैसले को न रोक सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2020, 2:23 PM IST
  • Share this:
दुबई. रविवार दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स इलेवन पंजाब ((Delhi Capitals Vs kings Xi Punjab) के बीच मुकाबले में अंपायर के गलत फैसले का मुद्दा बढ़ता ही जा रहा है. समचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक किंग्स इलेवन पंजाब ने खराब अंपायरिंग की शिकायत अब मैच रेफरी से कर दी है. भारत के पूर्व तेज गेंदबाज़ जवागल श्रीनाथ इस मैच में रेफरी थे. बता दें कि पंजाब और दिल्ली के बीच ये मैच टाई हो गया था. इसके बाद सुपर ओवर में दिल्ली को जीत मिल गई. लेकिन इस मैच के दौरान 19वें ओवर में अंपायर नितिन मेनन ने पंजाब की टीम को एक रन देने से मना कर दिया. उनके मुताबिक क्रिस जॉर्डन ने एक शॉर्ट रन लिया था.

रेफरी ले सकते हैं एक्शन
एएनआई ने सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि पंजाब की टीम ने अंपायर की शिकायत रेफरी से कर दी है. टीम का कहना है कि अंपायर का फैसला हैरान कर देने वाला था. अंपायर के गलत फैसले की वजह से ही ये मैच टाई हुआ. रेफरी जवागल श्रीनाथ अब इस शिकायक पर विचार करेंगे. इसके बाद अंपायर के खिलाफ आईपीएल गर्विंग काउंसिल कार्रवाई कर सकती है. पूर्व क्रिकेटर और एक्सपर्ट्स का कहना है कि अंपायर को अगर रन को लेकर कोई संदेह हुआ तो फिर उसने तीसरे अंपायर से मदद क्यों नहीं ली.

प्रीति जिंटा  ने उठाए सवाल
इस मुद्दे पर किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन प्रीति जिंटा ने भी अंपायर पर गुस्सा निकाला है. उन्होंने इस मुद्दे पर सवाल उठाया है और बीसीसीआई को घेरते हुए कहा है कि ऐसी टेक्नोलॉजी का क्या काम जो गलत फैसले को न रोक सके. साथ ही उन्होंने बीसीसीाई से नए नियम लाने की अपील भी की है. इससे पहले पंजाब टीम के पूर्व कोच वीरेंद्र सहवाग ने भी घटिया अंपायरिंग की आलोचना की थी. उन्होंने अंपायर के फैसले पर तंज कसते हुए कहा कि मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड अंपायर को ही देना चाहिए.





कहां और कैसे हुई गलती?
पंजाब के सामने जीत के लिए 157 रनों का लक्ष्य था. आखिरी 10 गेंदों पर पंजाब को जीत के लिए 21 रन बनाने थे. जिस अंदाज में मयंक अग्रवाल बैटिंग कर रहे थे पंजाब की जीत तय लग रही थी. 19 वें ओवर में गेंदबाजी के लिए कैगिसो रबाडा आए. रबाडा की दूसरी गेंद यॉर्कर थी, जिसे मिड-ऑन की तरफ खेल कर अग्रावाल ने दो रन रन पूरे किए. दूसरे छोर से क्रिस जॉर्डन बैटिंग कर रहे थे. लेकिन अंपायर ने नितिन मेनन ने इसे शॉर्ट रन करार दिया. उन्होंने दूसरे अंपायर से बातचीत कर कहा कि जॉर्डन ने अपना पहला रन पूरा करते समय बल्ले को क्रीज के अंदर नहीं रखा. ऐसे में यहां पंजाब को सिर्फ 1 रन दिया गया. लेकिन टिवी के स्लो मोशन रिप्ले में अंपायर की गलती पकड़ी गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज