वर्ल्ड कप जीतने के दस दिन बाद इंग्लैंड की टीम 85 रनों पर ढेर

लॉर्ड्स में खेले जा रहे इस मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मगर आयरलैंड के गेंदबाजों की घातक गेंदबाजी के आगे पूरी टीम महज 85 रन पर सिमट गई.

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 7:42 AM IST
वर्ल्ड कप जीतने के दस दिन बाद इंग्लैंड की टीम 85 रनों पर ढेर
इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच एक अगस्त से एशेज सीरीज भी शुरू होने वाली है.
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 7:42 AM IST
14 जुलाई 2019 को क्रिकेट के मक्का लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर क्रिकेट के जनक इंग्लैंड ने पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था. इस महान उपलब्धि को हासिल किए अभी दस ही दिन हुए थे कि टेस्ट क्रिकेट की नई नवेली टीम आयरलैंड ने इंग्लैंड की बखिया उधेड़कर रख दीं. जी हां, बात यहां इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच जारी एकमात्र टेस्ट की हो रही है.

लॉर्ड्स में खेले जा रहे इस मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मगर आयरलैंड के गेंदबाजों की घातक गेंदबाजी के आगे पूरी टीम महज 85 रन पर सिमट गई. आयरलैंड के लिए टिम मर्टा ने इंग्लैंड के पांच बल्लेबाजों का शिकार किया. मर्टा के अलावा मार्क एडेर ने 3 और रैंकिन ने 2 विकेट झटके. इस मैच में इंग्लैंड ने कई शर्मनाक रिकॉर्ड भी बनाए. आइए जरा उन रिकॉर्ड पर नजर डालते हैं.

गेंदों के मामले में घरेलू जमीन पर सबसे छाेटी पारी


इस मैच में इंग्लैंड की पहली पारी में बल्लेबाज महज 142 गेंदें ही खेल सके. यह गेंदों के हिसाब से घरेलू जमीन पर इंग्लैंड की सबसे छोटी पारी रही. इससे पहले इंग्लैंड ने 1995 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एजबेस्टन में 180, 1988 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लॉर्ड्स में 188 और 1976 में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैनचेस्टर में 197 गेंदों की पारी खेली थी.


एक ही सेशन में गंवाए सभी दस विकेट

Loading...

इंग्लैंड की टीम ने 1938 से लेकर 2016 तक एक ही सत्र में सभी दस विकेट नहीं गंवाए थे, लेकिन यह टीम पिछले 34 टेस्ट में चार बार ऐसा कर चुकी है. इंग्लैंड ने 2016 में बांग्लादेश के खिलाफ मीरपुर में, 2018 में न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑकलैंड में, 2018 में भारत के खिलाफ नॉटिंघम में एक ही सत्र में सभी दस विकेट गंवा दिए थे.

First published: July 25, 2019, 7:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...