क्रिकेटर इरफान पठान को तुरंत कश्मीर छोड़ने का फरमान

इरफान पठान के साथ जम्मू क्रिकेट बोर्ड के सपोर्ट स्टाफ को तुरंत घाटी छोड़ने के लिए कहा गया है. साथ ही करीब 100 खिलाड़ियों को वापस घर भेज दिया गया है

News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 3:18 PM IST
क्रिकेटर इरफान पठान को तुरंत कश्मीर छोड़ने का फरमान
इरफान पठान (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 3:18 PM IST
जम्मू एंड कश्मीर में एडवाइजरी जारी होने के बाद से न सिर्फ टूरिस्ट और तीर्थ यात्रियों को वापस घर भेजा जा रहा है, बल्कि बाहरी खिलाड़ियाें को भी घाटी छोड़ने के लिए कह दिया गया है. पूर्व भारतीय ऑलराउंडर इरफान पठान के साथ जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) सपोर्ट स्टाफ को भी जल्द से जल्द घाटी छोड़ने के लिए कह दिया गया है. जम्मू कश्मीर टीम के मेंटर पठान, कोच मिलाप मेवड़ा और ट्रेनर सुदर्शन वीपी के साथ वो सभी चयनकर्ता जो घाटी के नहीं हैं उन्हें रविवार को शहर से चले जाने को कहा गया है.

इसी के साथ जेकेसीए ने सभी उम्र और ग्रुप से जम्मू के क्रिकेटर्स को वापस उनके घर भेज दिया है, जो श्रीनगर के शेर ए कश्मीर स्टेडियम में ट्रेनिंग कर रहे थे.

सौ के अधिक खिलाड़ियों को वापस भेजा घर
जेकेसीए ने पठान और बाकी सपोर्ट स्टाफ को जम्मू कश्मीर छोड़ने के लिए कहा है.वे रविवार को घाटी से उड़ान भरेंगे. सुदर्शन पूर्व भारतीय फिटनेस ट्रेनर हैं, जबकि मेवड़ा बडौदा के पूर्व खिलाड़ी हैं. जेकेसीए के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर सैयद आशिक हुसैन बुखारी ने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को पुष्टि करते हुए कहा कि पठान और अन्य सभी सपोर्ट स्टाफ को जम्मू कश्मीर छोड़ने के लिए कह दिया गया है. वे लोग रविवार को घाटी से उड़ान भरेंगे. जो भी चयनकर्ता यहां से नहीं हैं, उन्हें भी अपने घर जाने के लिए बोल दिया गया है.



बुखारी ने कहा कि हमने करीब 102 जम्मू खिलाड़ियों को वापस घर भेज दिया है, जो यहां पर कैंप में थे. यहां स्थिति तनावपूर्ण है और यहां तक कि हमें भी नहीं पता कि क्या हाे रहा है. इसीलिए हमने क्रिकेट के इवेंट को आगे के लिए टाल दिया है और वापस शुरू करने के ‌लिए सही समय का इंतजार करने का फैसला लिया है.

घरेलू सत्र होने वाला था शुरू
Loading...

इसी माह घरेलू सत्र शुरू होने वाला है. जेकेसीए ने राज्य के क्रिकेटर्स के लिए चयन मैच और ट्रेनिंग कैंप का आयोजन किया जा रहा है. अंडर 23 और सीनियर कैटेगरी में से चुने गए खिलाड़ियों में से आठ टीमों को बनाया गया ‌था.
परवेज रसूल ने कहा कि हमने मंगलवार को एक चयन मैच खेला था. जूनियर्स सहित अंडर 19 और अंडर 16 क्रिकेटर्स भी स्टेडियम में ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा ले रहे थे. वहीं जिला मुख्यालय स्तर पर भी मैच चल रहे थे. लेकिन अचानक बनी ऐसी परिस्थितियों ने इन सभी गतिविधियों में रुकावट पैदा कर दी.


इसी माह से शुरू होगा बीसीसीआई  का घरेलू सत्र 

 इस माह 17 अगस्‍त से दलीप ट्रॉफी के साथ बीसीसीआई का घरेलू सत्र शुरू हो जाएगा. इसके बाद विजय हजारे ट्रॉफी, देवधर ट्रॉफी, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी  होंगे. रणजी ट्रॉफी के लीग राउंड में नौ दिसंबर से शुरू होने वाले हैं. 2019 2020 घरेलू सत्र में सभी कैटेगरी में कुल 2036 मैच खेले जाने हैं. जम्मू एंड कश्मीर ने भी कुछ मैचों की मेजबानी मानी थी, लेकिन इन दिनों हो रही गतिविधियों से इसकी संभावना काफी कम दिख रही है.


IND vs WI: सीरीज जीतकर वर्ल्ड कप के दर्द को कम करना चाहेगी टीम इंडिया

Ashes 2019: वॉर्नर का विकेट लेते ही महान गेंदबाजों की लिस्ट में शामिल हुए ब्रॉड
First published: August 4, 2019, 3:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...