• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • पालघर में भीड़ ने की 2 संतों की हत्या, गुस्साए इरफान ने कहा- बर्बर और शर्मनाक

पालघर में भीड़ ने की 2 संतों की हत्या, गुस्साए इरफान ने कहा- बर्बर और शर्मनाक

इरफान पठान क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुके हैं

इरफान पठान क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुके हैं

महाराष्ट्र के पालघर (Palghar) में करीब 300 लोगों की भीड़ ने 3 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला. मरने वालों में दो संत और एक ड्राइवर शामिल थे. इरफान पठान (Irfan Pathan) ने इस वारदात को बर्बर और शर्मनाक करार दिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश इन दिनों कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने में व्यस्त है, उस वक्त मॉबलिंचिंग (MobLynching) का घृणित मामला सामने आया है. महाराष्ट्र के पालघर (Palghar) में करीब 300 लोगों की भीड़ ने 3 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला. मरने वालों में दो संत और एक ड्राइवर शामिल थ. पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने इस वारदात को बर्बर और शर्मनाक करार दिया है. ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त (Yogeshwar Dutt) भी भीड़ द्वारा की गई इस हत्या से बेहद गुस्से में हैं. उन्होंने महाराष्ट्र सरकार पर सवाल भी खड़े किए हैं.

    कल्पवृक्ष गिरि, सुशील गिरि और उनके ड्राइवर की महाराष्ट्र के पालघर जिले में एक गांव में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई. इस घटना के वक्त पुलिसकर्मी भी वहां थे, लेकिन हिंसा के लिए पगलाई भीड़ को वे भी रोकने में नाकाम रहे. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें भीड़ पुलिस के सामने लाठियों से संत को पीट रही है.

    हर सामाजिक मसले पर अपनी राय रखने वाले इरफान पठान ने पालघर में हुई हत्या को बर्बर बताया है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘पालघर में भीड़ द्वारा की गई हत्या तस्वीरें बड़ी दुखद, भयानक और बर्बर है. शर्मनाक है यह सब.’ पुलिस ने इस मामले में आरोपियों को गिरफप्तार कर लिया है.

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कल्पवृक्ष गिरि, सुशील गिरि और उनका ड्राइवर मुंबई से सूरत जा रहे थे. गुजरात बॉर्डर पर उन्हें रोक दिया गया. तीनों को ही वापस भेज दिया गया. इसके बाद तीनों ने सूरत जाने के लिए दूसरा रास्ता चुना, जो पालघर होते हुए जाता था. इस बीच पालघर में अफवाह फैली कि कुछ अपराधी डकैती को अंजाम दे रहे हैं. जब दोनों संतों की गाड़ी गडचिंचेल गांव के पास पहुंची तो गांववालों ने उन्हें घेर लिया. भीड़ तीनों को मारने लगी और गाड़ी पलट दी. इसी बीच पुलिस वहां पहुंच गई. इसके बावजूद भीड़ नहीं रुकी. फिर अस्पताल में तीनों ने दम तोड़ दिया.

    इससे पहले योगेश्वर दत्त (Yogeshwar Dutt) ने भीड़ की हिंसा का ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'महाराष्ट्र के पालघर में पुलिस की उपस्थिति में जूना अखाड़ा के 2 वृद्ध संत जिनका नाम कल्पवृक्ष गिरि ,सुशील गिरि को क्रूरता से मार डाला गया. बाला साहब के महाराष्ट्र में संतों के साथ जघन्य अपराध की कल्पना भी ना थी. मॉब लिंचिंग की गई.'

    यह भी पढ़ें:

    इरफान पठान के लिए पाकिस्तान में प्लॉट बुक, सोशल मीडिया पर खुद कही ये बात!

    क्रिकेटर पूजा ने छत को ही बनाया पिच, सिलेंडर उठाकर कर रहीं वेट ट्रेनिंग

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज