Home /News /sports /

India vs New Zealand 2nd Test: क्या अजिंक्य रहाणे का करियर खत्म हो गया?

India vs New Zealand 2nd Test: क्या अजिंक्य रहाणे का करियर खत्म हो गया?

India vs New Zealand: अजिंक्य रहाणे ने 79 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने 5 टेस्ट मैचों में कप्तानी भी की है. (AP)

India vs New Zealand: अजिंक्य रहाणे ने 79 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने 5 टेस्ट मैचों में कप्तानी भी की है. (AP)

India vs New Zealand 2nd Test: भारत और न्यूजीलैंड के बीच आज से दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है. भारत ने इस मैच के लिए अपनी प्लेइंग इलेवन (India Playing XI) घोषित कर दी है. पहले टेस्ट मैच में भारत की कप्तानी करने वाले अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को दूसरे टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली है. इसके बाद से ही यह अनुमान लगाया जा रहा है कि क्या रहाणे का टेस्ट करियर खत्म हो गया है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. क्या अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahanes) का टेस्ट करियर खत्म हो गया है? न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से ठीक पहले यह सवाल तब बड़ी मजबूती से खड़ा हो गया, जब उन्हें भारत की प्लेइंग इलेवन (India Playing XI) से बाहर किया गया. रहाणे को बाहर करने की वजह चोट बताई गई. कहा गया कि उन्हें left hamstring strain है. लेकिन क्रिकेट पर बारीक नजर रखने वाले जानते हैं कि अजिंक्य रहाणे पिछले कई दिनों से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं. विराट कोहली (Virat Kohli) की दूसरे टेस्ट में वापसी के बाद यह तय हो गया था कि भारत का कोई ना कोई एक बल्लेबाज प्लेइंग इलेवन से बाहर होगा. लेकिन गाज अजिंक्य रहाणे पर गिरेगी, इसका अंदाजा नहीं था.

33 साल के अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahanes) ने भारत के लिए 79 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने इनमें से 5 टेस्ट मैचों में कप्तानी भी की है. खास बात यह कि रहाणे ने जब भी कप्तानी की भारत को या तो जीत मिली या मैच ड्रॉ रहा. यानी भारत रहाणे की कप्तानी में कभी नहीं हारा. बल्लेबाजी की बात करें तो रहाणे को मौजूदा टीम इंडिया का संकटमोचक माना जाता रहा है. वे ज्यादातर 5 नंबर पर खेलते हैं. वीवीएस लक्ष्मण के संन्यास के बाद रहाणे ही वो बल्लेबाज हैं, जिन्होंने भारतीय टीम के लड़खड़ाने पर टीम को संभाला. रहाणे की सबसे बड़ी खासियत यह भी है कि वे भारत की बजाय विदेशी पिचों पर बेहतर प्रदर्शन करते रहे हैं.

रहाणे की जगह लेने को तैयार श्रेयस अय्यर 
आखिर जिस बल्लेबाज की इतनी सारी खूबियां हैं, उसका करियर ऐसे कैसे खत्म हो सकता है. जिस उप कप्तान ने एक मैच पहले भारतीय टीम (Team India) की कप्तानी की हो, वह उसका आखिरी मैच भी कैसे हो सकता है. जब अजिंक्य रहाणे के करियर के खत्म होने का कयास लगाया जाता है तो ऐसे सवाल रह-रहकर मन में उठते हैं. लेकिन प्रोफेशनल खेल में भावनाओं की कोई जगह नहीं होती. उसके लिए कोई भी टीम अपना वर्तमान और भविष्य देखती है. ऐसे में रहाणे की पोजीशन देखते हुए लगता है कि भारत को शायद वह बल्लेबाज मिल गया है, जो उन्हें रिप्लेस कर सकता है. रहाणे आमतौर पर पांचवें नंबर पर खेलते हैं और उनकी जगह को श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) बखूबी भर सकते हैं.

श्रेयस ने डेब्यू टेस्ट में शतक और अर्धशतक लगाया
श्रेयस ने पिछले टेस्ट मैच की पहली पारी में शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक लगाया. इन पारियों ने ही टीम प्रबंधन को इस बात के लिए मजबूर किया कि श्रेयस अय्यर को प्लेइंग इलेवन में बनाए रखे. अब वे मुंबई में दूसरा टेस्ट मैच खेलेंगे, जो उनका होमग्राउंड भी है. भारत को इस टेस्ट सीरीज के बाद दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाना है. भारत और दक्षिण अफ्रीका को 3 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. वीवीएस लक्ष्मण, इरफान पठान, आकाश चोपड़ा जैसे पूर्व क्रिकेटरों की मानें तो अजिंक्य रहाणे को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जगह जरूर मिलनी चाहिए. लेकिन क्या ऐसा हो पाएगा? इसे ऐसे समझिए. भारतीय टीम विराट कोहली की कप्तानी में आमतौर पर 5 बल्लेबाज, 5 गेंदबाज और विकेटकीपर के साथ उतरती है. अजिंक्य आमतौर पर नंबर-5 पर खेलते हैं.

रहाणे की बजाय अय्यर को मिलेंगे ज्यादा मौके
अब टीम इंडिया का बल्लेबाजी क्रम देखते हैं. मिडिलऑर्डर का बल्लेबाज होने के कारण रहाणे को ओपनिंग करने का मौका दिया नहीं जा सकता. तीसरे नंबर पर पुजारा खेल रहे हैं. चौथे नंबर पर खुद कप्तान विराट कोहली खेलेंगे. नंबर-5 पर श्रेयस अय्यर दावेदारी पेश कर चुके हैं. श्रेयस एकमात्र युवा बल्लेबाज हैं, जो तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया के लिए खेलते हैं. जाहिर है भविष्य की टीम बनाने के लिए उन्हें पूरा मौका दिए जाने की जरूरत है. कोच राहुल द्रविड़ नए खिलाड़ियों को पूरा मौका देने के लिए जाने जाते हैं. ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि अय्यर अगर दो-तीन मैच में नाकाम हो जाएं तब भी उन्हें मौका मिलेगा. तो फिर रहाणे का क्या होगा?

2021 में रहाणे की औसत 20 से भी कम
अब थोड़ी बात अजिंक्य रहाणे के रिकॉर्ड की कर लेते हैं. रहाणे ने 79 टेस्ट मैच में 39.30 की औसत से 4795 रन बनाए हैं. इनमें 12 शतक और 24  अर्धशतक हैं. रहाणे ने विदेशी पिचों पर 41.71 की औसत से 3087 रन बनाए हैं. भारतीय पिचों पर उनके नाम 35.73 की औसत से 1644 रन दर्ज हैं. फॉर्म की बात करें तो रहाणे बुरे दौर से गुजर रहे हैं. उन्होंने 2021 में 12 टेस्ट मैच खेले हैं. इन मैचों में 19.57 की औसत से सिर्फ 411 रन बना सके हैं. फॉर्म की वजह से ही टीम में उनकी जगह को लेकर सवाल उठाए जा रहे थे.

रहाणे-पुजारा के खेल में गिरावट
भारतीय टीम इस समय बदलाव के दौर से गुजर रही है. टीम के साथ नए कोच राहुल द्रविड़ जुड़ चुके हैं. रोहित शर्मा के रूप में टी20 टीम का नया कप्तान सामने आ चुका है. आश्चर्य नहीं होगा यदि रोहित को वनडे टीम की कमान भी सौंप दी जाए. ऐसे में बहुत संभावना है कि वनडे और टी20 टीम की तरह टेस्ट टीम में भी युवाओं को आगे लाया जाए. अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा लंबे समय से टेस्ट टीम की जान रहे हैं. लेकिन यह भी सच है कि इन दोनों खिलाडियों के खेल में पिछले दो-तीन साल से गिरावट आई है. दोनों 33 साल के हो चुके हैं. भारतीय टीम प्रबंधन अब इन दोनों को ज्यादा मौके नहीं देने वाली है. मुंबई टेस्ट में रहाणे के साथ यही हुआ है. वे अपनी जगह खो चुके हैं. अब उन्हें टीम में तभी जगह मिलेगी जब श्रेयस अय्यर खराब खेलें.

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: मुंबई में बदलेगी विराट कोहली की किस्मत, 742 दिन से लगा है शतक पर ब्रेक 

HBD Mithali Raj: क्लासिकल डांसर से ‘लेडी तेंदुलकर’ तक, दिलचस्प है मिताली राज का सफर

यह भी ध्यान रहे कि हनुमा विहारी को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर पहले ही भेजा जा चुका है. विहारी यूं तो जरूरत पड़ने पर भारतीय टीम के लिए ओपन भी कर चुके हैं, लेकिन मूलरूप से मध्यक्रम के बल्लेबाज ही हैं. भारतीय क्रिकेट बोर्ड की सोच साफ है कि वह हर नंबर के लिए दो या तीन खिलाड़ी तैयार करना चाहता है. पांचवें नंबर पर रहाणे को श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी से चुनौती मिल रही है. तीसरे नंबर पर पुजारा को शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ से चुनौती मिल सकती है. गिल और मयंक न्यूजीलैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज में तो ओपन कर रहे हैं, लेकिन संभव है कि रोहित शर्मा और केएल राहुल के टीम में लौटने पर उन्हें ओपनिंग का मौका ना मिले. अगर पुजारा खराब खेलते हैं तो ओपनिंग कर चुके युवा खिलाड़ी को नंबर-3 पर उतारा जा सकता है. स्पष्ट है सीनियर खिलाड़ियों के लिए जगह गंवाने के बाद टीम में वापस आना आसान नहीं होगा. चाहे वह खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे हों या चेतेश्वर पुजारा.

Tags: Ajinkya Rahane, Cricket news, India vs new zealand, Shreyas iyer, Team india, Virat Kohli, अजिंक्य रहाणे

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर