लाइव टीवी

6000 रन, 300 से ज्‍यादा विकेट, अब वनडे में 7 विकेट फिर भी 14 साल से टीम इंडिया के बुलावे का इंतजार

News18Hindi
Updated: November 1, 2019, 5:56 PM IST
6000 रन, 300 से ज्‍यादा विकेट, अब वनडे में 7 विकेट फिर भी 14 साल से टीम इंडिया के बुलावे का इंतजार
एमएस धोनी के साथ जलज सक्‍सेना.

इंटरनेशनल क्रिकेट तो छोड़िए जलज सक्सेना को अबतक आईपीएल डेब्यू का मौका भी नहीं मिला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 1, 2019, 5:56 PM IST
  • Share this:
रांची: अनुभवी ऑलराउंडर जलज सक्‍सेना (Jalaj Saxena) की कहर बरपाती गेंदबाजी (7/41) की बदौलत इंडिया सी (India C) ने देवधर ट्रॉफी (Deodhar Trophy) के दूसरे मुकाबले में इंडिया ए (India A) को 232 रन से रौंद दिया. कप्‍तान शुभमन गिल (Shubman Gill) (143) और मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) (120) के शतकों की बदौलत इंडिया सी ने पहले खेलते हुए 3 विकेट पर 366 रन बनाए थे. इसके जवाब में हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) की कप्‍तानी वाली इंडिया ए की टीम 134 रन पर सिमट गई. उसे लगातार दूसरी हार झेलनी पड़ी और वह टूर्नामेंट से बाहर हो गई. इंडिया ए का स्‍कोर एक समय 3 विकेट पर 74 रन था लेकिन बाकी के 7 विकेट 60 रन जोड़कर गिर गए. ये सभी विकेट जलज सक्‍सेना ने ही लिए. यह देवधर ट्रॉफी में किसी भी गेंदबाज का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है.

सलामी बल्‍लेबाज देवदत्‍त पडि्डकल (31) सर्वोच्‍च स्‍कोरर रहे. लगातार दूसरे मैच में इंडिया ए के गेंदबाजों ने विपक्षी टीम को 300 से ज्‍यादा का रन बनाने दिया और उसके बल्‍लेबाज फिर से फेल हो गए.

फर्स्‍ट क्‍लास में 6000 रन और 300 विकेट फिर भी टीम इंडिया से दूर
जलज सक्‍सेना (Jalaj Saxena) इस मैच से एक बार फिर अपनी उपयोगिता साबित की. वे घरेलू क्रिकेट में बल्‍ले के साथ ही गेंद से लगातार अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं. 14 साल के करियर में बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद भी उन्‍हें भारतीय क्रिकेट टीम में खेलने का मौका नहीं मिला. उन्‍होंने 115 फर्स्‍ट क्‍लास मैच खेले हैं और 6153 रन बनाए व 307 विकेट लिए हैं. वे पहले भारतीय हैं जो यह कारनामा करने के बाद भी टीम इंडिया की नीली जर्सी नहीं पहन पाए हैं.

jalaj saxena, deodhar trophy 2019, india a vs india c match, shubman gill, mayank agarwal, जलज सक्‍सेना, देवधर ट्रॉफी, इंडिया ए इंडिया सी मैच, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल
जलज सक्सेना को 100 से ज्‍यादा फर्स्ट क्लास मैचों का अनुभव है.


जलज सक्सेना (Jalaj Saxena) से पहले कपिल देव (Kapil Dev), सीके नायडू, लाला अमरनाथ, विजय हजारे, पोली उमरीगर जैसे दिग्गज भी फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 6000 रन और 300 से ज्यादा विकेट ले चुके हैं. हालांकि इन सभी को भारत के लिए खेलने का गौरव प्राप्त हुआ था, जबकि जलज इससे अछूते रहे हैं. टीम इंडिया में न चुने जाने पर उन्‍होंने कई बार निराशा भी जताई है.

आईपीएल में भी डेब्‍यू का इंतजार
Loading...

वहीं लिस्‍ट ए में उनके नाम 1847 रन और 98 विकेट हैं. टी20 में भी वे पीछे नहीं हैं. इस फॉर्मेट में उन्‍होंने 48 मैच में 585 रन बनाने के साथ ही 41 विकेट भी चटकाए हैं. जलज को 2017-18 में उनके प्रदर्शन के लिए दो बीसीसीआई अवॉर्ड भी मिल चुके हैं. जलज पहले ऐसे भारतीय और दुनिया के छठे खिलाड़ी हैं जिन्होंने दो बार फर्स्ट क्लास मैच में शतक के बाद 8 विकेट लेने का कारनामा किया है.

jalaj saxena, deodhar trophy 2019, india a vs india c match, shubman gill, mayank agarwal, जलज सक्‍सेना, देवधर ट्रॉफी, इंडिया ए इंडिया सी मैच, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल
जलज सक्‍सेना लगातार घरेलू क्रिकेट में अच्‍छा प्रदर्शन किया है.


इंटरनेशनल क्रिकेट तो छोड़िए जलज सक्सेना (Jalaj Saxena) को अबतक आईपीएल डेब्यू का मौका भी नहीं मिला है. जलज सक्सेना को दिल्ली कैपिटल्स ने अपनी टीम में 20 लाख के बेस प्राइस पर शामिल किया था लेकिन उन्हें अबतक एक भी मैच में मौका नहीं दिया गया है.

31 साल के हो चुके हैं जलज
जलज सक्‍सेना (Jalaj Saxena) 32 साल के हो चुके हैं और अब उनके टीम इंडिया में खेलने की संभावनाएं कम होती जा रही है. हालांकि पिछले दिनों शाहबाज नदीम को घरेलू क्रिकेट में अच्‍छे प्रदर्शन का इनाम मिला था और 30 साल की उम्र में उन्‍होंने टेस्‍ट डेब्‍यू किया था. ऐसे में उम्‍मीद की जा सकती है कि शायद सक्‍सेना को भी टीम इंडिया में चुना जाएगा.

देवधर ट्रॉफी में शुभमन गिल का धमाकेदार शतक, मयंक अग्रवाल ने भी ठोकी सेंचुरी

'पाकिस्तान का विराट कोहली' बॉल टेंपरिंग का दोषी, हाे सकती है बड़ी कार्रवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 5:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...