• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • IND vs ENG: टीम इंडिया के सामने 'ब्रॉडरसन' चैलेंज, इंग्लिश जोड़ी एशिया में ले चुकी है 115 विकेट

IND vs ENG: टीम इंडिया के सामने 'ब्रॉडरसन' चैलेंज, इंग्लिश जोड़ी एशिया में ले चुकी है 115 विकेट

जेम्स एंडरसन ने पहले टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन किया था.

जेम्स एंडरसन ने पहले टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन किया था.

India vs England: भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड की ओर से तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड की जोड़ी मैदान पर उतर सकती है. यह टेस्ट इतिहास में तेज गेंदबाजों की इकलौती जोड़ी है, जिसने एक साथ खेलते हुए 500 से अधिक विकेट लिए हैं.

  • Share this:

    नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट की सीरीज का दूसरा मुकाबला शनिवार से चेन्नई के चेपक स्टेडियम में खेला जाएगा. पहले टेस्ट में मेहमान टीम से मिली 227 रन की बड़ी हार के बाद टीम इंडिया वापसी की कोशिश करेगी. लेकिन, भारतीय टीम के लिए राह इतनी आसान नहीं होगी. पहले टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों के लिए मुश्किलें पैदा करने वाले इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर चोट के कारण दूसरा टेस्ट नहीं खेलेंगे. उनकी जगह प्लेइंग-11 में तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड को मौका मिलने की पूरी संभावना है. ऐसे में जेम्स एंडरसन के साथ ब्रॉड की जोड़ी टीम इंडिया की परेशानी बढ़ा सकती है. क्योंकि टेस्ट इतिहास में तेज गेंदबाजों की इकलौती जोड़ी है, जिसने एक साथ खेलते हुए 500 से अधिक विकेट लिए हैं. ब्रॉड बीते साल वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के तीसरे मुकाबले में 500 विकेट पूरा करने के बाद इस जोड़ी का हिस्सा बने थे.

    अब तक इंग्लैंड के लिए इस जोड़ी ने एक साथ खेले 120 टेस्ट में 919 विकेट हासिल किए हैं. इसमें जेम्स एंडरसन ने 484 और स्टूअर्ट ब्रॉड ने 435 विकेट हासिल किए हैं. यह एक तेज गेंदबाज जोड़ी द्वारा टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिक़ॉर्ड है. इस जोड़ी ने इस दौरान 7 बार एक टेस्ट में 10 विकेट भी हासिल किए. ओवरऑल टेस्ट क्रिकेट में विकेट लेने के मामले में इन दोनों से सिर्फ एक जोड़ी ही  आगे है. ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा (488) और शेन वॉर्न (513) ने एक साथ खेलते हुए 104 टेस्ट में 1001 विकेट हासिल किए थे. ब्रॉड-एंडरसन के बाद टेस्ट क्रिकेट में अगर तेज गेंदबाजों की किसी जोड़ी ने बल्लेबाजों के दिलों में खौफ पैदा किया, तो वो वेस्टइंडीज के कर्टली एंब्रोस और कर्टनी वॉल्श की जोड़ी थी. इन दोनों ने वेस्टइंडीज के लिए 95 टेस्ट खेलते हुए कुल 762 विकेट लिए थे.

    यह भी पढ़ें: IND vs END: जाने कहां खो गए भारत के लेग स्पिनर? 5 साल से नहीं खेला एक भी टेस्ट

    ऐसे में अगर ब्रॉड को दूसरे टेस्ट में मौका मिलता है, तो यह जोड़ी भारतीय बल्लेबाजों के सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकती है. आंकड़े भी इनकी काबिलियत साबित कर रहे हैं. यह दोनों मौजूदा दौर में टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में पहले दो स्थान पर काबिज हैं. एंडरसन ने अब तक 158 टेस्ट में 26.49 की औसत से कुल 611 विकेट लिए हैं. वहीं, ब्रॉड ने भी इंग्लैंड के लिए 144 टेस्ट में 517 विकेट हासिल किए हैं. इस दौरान उनका औसत 27.56 का रहा. एशियाई पिचों पर भी इन दोनों को गेंदबाजी का अच्छा अनुभव है. अब तक इन दोनों ने एशियाई पिचों पर कुल मिलाकर 43 टेस्ट खेले हैं. इनमें दोनों ने 115 विकेट लिए हैं.

    एंडरसन ने पहले टेस्ट में 5 विकेट लिए थे
    अगर एंडरसनन की बात करें तो उन्होंने अपने टेस्ट करियर में एशियाई पिचों पर 24 मैचों में 29.94 की औसत से कुल 71 विकेट लिए हैं. एंडरसन का ओवरऑल करियर औसत 26.49 का है. यानी एशिया की धीमी पिचों पर उनका औसत थोड़ा कमजोर जरूर है. लेकिन उनकी विकेट लेने की काबिलियत पर किसी को शक नहीं है. वे सीरीज के पहले टेस्ट में पांच विकेट लेकर इसे साबित भी कर चुके हैं. एंडसन ने भारत में अब तक कुल 11 टेस्ट खेले हैं, जिसमें उन्होंने 31 विकेट हासिल किए हैं.

    ब्रॉड ने एशिया में 44 विकेट लिए हैं
    भारत के मौजूदा दौर पर स्टुअर्ट ब्रॉड एशियाई पिचों पर 50 विकेट पूरा कर सकते हैं. उन्होंने एशिया में अब तक 19 टेस्ट मैचों में 36.31 की औसत से 44 विकेट लिए हैं. ब्रॉड का करियर औसत 27.56 है. वहीं, अगर भारत में उनके टेस्ट रिकॉर्ड की बात करें, तो वे अब तक तीन बार भारत दौरे पर आए हैं. इस दौरान वे तीन टेस्ट में सिर्फ 10 विकेट ही हासिल कर पाए हैं. इसमें से अकेले 8 विकेट तो उन्होंने 2016 के भारत दौरे में लिए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज