टीवी पर विज्ञापन देकर अपने 'लापता' खिलाड़ियों को खोजने में लगा जम्मू-कश्मीर

News18Hindi
Updated: August 28, 2019, 11:11 AM IST
टीवी पर विज्ञापन देकर अपने 'लापता' खिलाड़ियों को खोजने में लगा जम्मू-कश्मीर
टिकर विज्ञापन के जरिए एसोसिएशन प्री सीजन ट्रेनिंग कैंप के बारे में अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेटर्स को सूचना देगी.

आर्टिकल 370 (Article 370) हटने के बाद से जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन को नहीं पता कि उनके खिलाड़ी कहां चले गए. खिला‌ड़ियों के फोन तक काम नहीं कर रहे

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2019, 11:11 AM IST
  • Share this:
मुश्किल दौर से गुजर रही जम्मू एंड कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन अपने लापता खिलाड़ियों को खोजने में लग गई है और इसके लिए एसोसिएशन ने टीवी चैनल्स पर विज्ञापन का सहारा लिया. दरअसल आर्टिकल 370 (Article 370) हटने के बाद से जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन अपने खिलाड़ियों के साथ संपर्क में नहीं है, जिसमें कप्तान परवेज रसूल (Parvez Rasool) भी शामिल हैं. एसोसिएशन को नहीं पता कि खिलाड़ी कहां पर हैं. उनके फोन भी नहीं लग रहे. जिसके बाद एसोसिएशन ने उनसे संपर्क करने के लिए स्‍थानीय टीवी चैनल्स पर टिकर विज्ञापन का सहारा लिया.

इस टिकर विज्ञापन के जरिए एसोसिएशन शुक्रवार से जम्मू में शुरू होने वाले प्री सीजन ट्रेनिंग कैंप के बारे में अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेटर्स को सूचना देगा, जिसमें भारतीय क्रिकेटर परवेज रसूल भी शामिल हैं.  दिल्ली में हुई एक बैठक में यह फैसला लिया गया. जिसमें जम्मू कश्मीर टीम के मेंटर और पूर्व भारतीय ऑल राउंडर इरफान पठान, प्रशासक सीके प्रसाद और जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के सीईओ साह बुखारी भी शामिल थे.

इस वजह से अखबार में नहीं दिया जाएगा विज्ञापन

इं‌डियन एक्सप्रेस से बात करते हुए बुखारी ने कहा कि इस समय जम्मू- कश्मीर में दो स्‍थानीय चैनल हैं. पहले अखबार में विज्ञापन देने के बारे में सोचा गया था, लेकिन इसके बाद समस्या यह खड़ी हुई कि वे नहीं जानते कि वे पूरे कश्मीर में लोगों तक पहुंच पाएंगे या नहीं. इसीलिए सोचा कि टीवी विज्ञापन खिलाड़ियों को सूचना देने के लिए सबसे बेहतरीन जरिया है.





इरफान पठान ने कहा कि टीम पूरी होने के बाद कैंप और ट्रायल्स की जगह पर फैसला लिया जाएगा



 

लालच में आकर इस पाक क्रिकेटर ने दिया था देश को धोखा

आज से 27 साल पहले इस दिग्गज ने शुरू किया था अपना सफर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 11:09 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...