खेल

  • associate partner

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने क्यों कहा- आईपीएल के लिए हमें बलिदान देना होगा

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने क्यों कहा- आईपीएल के लिए हमें बलिदान देना होगा
जय शाह ने राज्य क्रिकेट संघों को लिखा खत

यूएई में 19 सितंबर से शुरू हो रहे आईपीएल से पहले जय शाह (Jay Shah) ने सभी प्रदेश संघों को भेजा खत

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी के चलते आईपीएल के 13वें सीजन (IPL 2020) का आयोजन देश से बाहर यूएई में किया जा रहा है. आईपीएल 2020 शुरू होने से पहले बीसीसीआई सचिव जय शाह (Jay Shah) ने सभी प्रदेश संघों को खत लिख कर उन्हें बलिदान देने की बात कही है. जय शाह ने खत में लिखा है कि टूर्नामेंट के शुरुआती चरण में किसी प्रदेश इकाई के अधिकारी को यूएई में जाने का मौका नहीं मिलेगा. अंतिम चरण में जरूर उन्हें यूएई बुलाया जा सकता है.

जय शाह ने लिखा प्रदेश संघों को खत
बीसीसीआई आम तौर पर अपने प्रदेश संघों के अधिकारियों को आईपीएल समारोहों और प्लेआफ के लिये आमंत्रित करता है . शाह ने प्रदेश संघों को भेजे पत्र में लिखा , 'मुझे यकीन है कि यह यादगार टूर्नामेंट होगा लेकिन टूर्नामेंट की शुरूआत में सभी सदस्यों की कमी खलेगी.' उन्होंने लिखा ,' जैसा कि आपको पता है बीसीसीआई आईपीएल के उद्घाटन समारोह और लीग मैचों में प्रदेश ईकाइयों के अध्यक्षों, सचिवों और अपने पूर्व पदाधिकारियों को बुलाता है . '

इस आईपीएल टीम को छोड़कर भागना चाहते थे युवराज सिंह, किया बड़ा खुलासा
होटल में बंद रोहित शर्मा पत्नी के साथ कर रहे हैं IPL की तैयारी, देखिए वीडियो



भारत में कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को देखते हुए टूर्नामेंट यूएई में हो रहा है और सभी को बीसीसीआई के दिशा निर्देशों का कड़ाई से पालन करना होगा . फिलहाल सारी टीमें छह दिन तक आइसोलेशन पर हैं . शाह ने कहा ,' लोगों की गतिविधियों पर लगे कड़े प्रतिबंधों और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के चलते हम हमेशा की तरह सभी को आमंत्रित नहीं कर सकते , कम से कम टूर्नामेंट की शुरूआत में तो नहीं .' उन्होंने कहा ,' कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये संपर्क से बचना जरूरी है . यह एक और बलिदान हमें देना होगा .' उन्होंने हालांकि कहा ,' मुझे उम्मीद है कि प्लेआफ चरण तक पहुंचते पहुंचते पाबंदियां कुछ कम होंगी और आप यूएई आ सकेंगे .'

आईपीएल को कोरोना मुक्त रखने के लिए बने हैं कड़े नियम
बता दें आईपीएल को कोरोना मुक्त रखने के लिए बीसीसीआई ने बेहद ही कड़े नियम बनाए हुए हैं. यूएई पहुंचने के बाद खिलाड़ियों के 6 दिन में 3 कोरोना टेस्ट होंगे. इन तीन टेस्ट के नेगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ियों को होटल के कमरे से बाहर आने की इजाजत दी जाएगी. बताया जा रहा है कि कोरोना मुक्त खिलाड़ी 27 अगस्त से प्रैक्टिस शुरू कर सकेंगे. आईपीएल के दौरान हर टीम के खिलाड़ियों का हर पांचवें दिन टे्ट किया जाएगा. बीसीसीआई ने जो बायो सिक्योर बबल बनाया है उसमें सिर्फ खिलाड़ी और उनके स्टाफ मेंबर्स ही रहेंगे. परिवार और दूसरा कोई बाहरी व्यक्ति उसमें प्रवेश नहीं कर पाएगा. खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ को बायो सिक्योर बबल छोड़ने की इजाजत नहीं होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज