सुपर ओवर में नीशाम के छक्का जड़ते ही हमेशा के लिए थम गई कीवी कोच की सांसें

सुपर ओवर में न्यूजीलैंड को जीत के लिए 16 रन चाहिए थे और दूसरी ही गेंद पर नीशाम ने छक्का जड़ दिया. हर किसी को जीत दिखने लगी थी

News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 12:57 PM IST
सुपर ओवर में नीशाम के छक्का जड़ते ही हमेशा के लिए थम गई कीवी कोच की सांसें
सुपर ओवर में न्‍यूजीलैंड की पारी की दूसरी ही गेंद पर नीशाम ने छक्का जड़ दिया था
News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 12:57 PM IST
क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल  मुकाबले ने काफी प्रशंसकों की धड़कनों को तेज कर  दिया था. सुपर  ओवर के टेंशन में लोग अपने नाखून तक खाने लगे थे और इसी हाई वोल्टेज मैच ने उस दिन न्यूजीलैंड कोच की सांसों को हमेशा- हमेशा के लिए रोक दिया. सुपर ओवर में जैसे ही जिम्मी नीशाम ने स्टैंड में छक्का जड़ा, उनके कोच ने अपनी आंखे बंद कर ली. जिसका दुख नीशाम ने सोशल मीडिया पर जाहिर किया.

ऑकलैंड के पूर्व ग्रामर स्कूल टीचर और कोच डेविड जेम्स गॉर्डन ने वर्ल्ड कप फाइनल वाले दिन अपनी आखिरी सांसें ली. उनकी बेटी लियोनी गॉर्डन ने कहा कि यह उसी तरह से है, जैसे वह जाना पसंद करते होंगे.

लियोनी ने बताया कि जब फाइनल ओवर चल रहा था, तो एक नर्स आई और सुपर ओवर में नर्स ने कहा कि इनकी सांसें बदल रही हैं. जिम्मी ने जैसे ही सुपर ओवर में स्टैंड में छक्का मारा, उन्हाेंने अपनी आखिरी सांस ली.



न्यूजीलैंड के इस स्‍टार क्रिकेटर ने सोशल मीडिया पर लिखा 'डेव गॉर्डन, मेरे हाई स्कूल टीचर, कोच और दोस्‍त  इस खेल के लिए आपका प्यार  बहुत था. खासकर  हमारे जैसे उन भाग्यशाली लोगों के लिए जिन्होंने आपके अंडर में खेला हो.  उन्होंने साथ में यह भी कहा कि आप गर्व कर रहे थे. हर एक चीज के लिए आपका शुक्रिया.'

सुपर ओवर में नीशाम ने दिखाई थी जीत की उम्मीद


निर्धारित ओवर में इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने 241 रन बनाकर मैच टाइ करवा दिया था, जिसके बाद सुपर ओवर हुआ और पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने 15 रन बनाए. न्यूजीलैंड को अपना पहला खिताब जीतने के लिए 16 रन बनाने थे. जोफ्रा आर्चर की पहली गेंद वाइड रही और अतिरिक्त गेंद पर नीशाम ने दो रन बनाए. दूसरी गेंद पर नीशाम ने डीप मिड विकेट के उपर से स्टैंड में छक्का मारा. इसके बाद न्यूजीलैंड को चार गेंदों पर सिर्फ सात रन बनाने थे और हर किसी को जीत करीब दिख रही थी. यही वो समय था जब उनके बचपन के कोच ने आखिरी सांस ली. हालांकि सुपर ओवर भी टाइ रहा था और बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड के खिताब जीत लिया.


Loading...

पांच सप्ताह पहले हार्ट फेल हो गया




डेविड जेम्स गॉर्डन

करीब पांच सप्ताह पहले नीशाम ने बचपन के कोच गॉर्डन का दिल फेल हो गया था, जिसके  बाद उनकी दोनों बेटियां और परिवार वाले इटली और सेन फ्रांसिस्को से आए. वह जानते थे कि उनके साथ समय बिताने के लिए उनके पास काफी कम समय है. उनकी बेटी ने यादों को साझा करते हुए बताया कि हम लोग क्रिकेट को लेकर काफी बात किया करते थे, क्योंकि वह एक बड़े प्रशंसक थे और ब्लैक कैप्स को फॉलो करते थे. अपने 25 साल के करियर में गॉर्डन ने कई जूनियर में कई भविष्य के ब्लैक कैप्स को कोचिंग दी.


4 सालों से धोनी के साथ है ये दिक्कत, इसलिए खतरे में करियर!

धोनी के संन्यास की खबरों ने दुखाया माता-पिता का दिल, कहा-छोड़ दें क्रिकेट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 18, 2019, 8:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...