चश्‍मा लगाकर ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों की कर दी हालत बुरी, होटल का बिल न चुका पाने पर किया सुसाइड

चश्‍मा लगाकर ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों की कर दी हालत बुरी, होटल का बिल न चुका पाने पर किया सुसाइड
इस गेंदबाज ने साउथ अफ्रीका की तरफ से 11 टेस्‍ट मैच खेले थे (सांकेतिक फोटो)

ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों में इस तेज गेंदबाज का खौफ था. ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचों में ही इस गेंदबाज ने कुल 18 विकेट ले लिए थे

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्‍ली. ऑस्‍ट्रेलिया (Australia) जैसी मजबूत टीम के बल्‍लेबाजों को अपनी खतरनाक गेंदों पर नचाने वाले साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज जोसेफ पार्ट्रिज (Joseph Partridge) उन गेंदबाजों में शुमार थे, जो चश्‍मा लगाकर गेंद फेंकते थे. ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ एक ही मैच में नौ- नौ विकेट लेने वाले खिलाड़ी के बारे में कोई सोच भी नहीं सकता कि वो कभी सुसाइड करने जैसा खतरनाक खत्‍म उठाएगा. मगर इस खिलाड़ी ने आज से 32 साल पहले ऐसा खतरनाक कदम उठाया था, वो भी होटल का बिल न भरने के कारण.

9 दिसंबर 1932 को जन्‍में जोसेफ ने साउथ अफ्रीका की तरफ से 11 मैच खेले थे. इन 11 मैचों में उन्‍होंने कुल 44 विकेट लिए, जिसमें उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 91 गेंदों पर सात विकेट का रहा. वह तीन बार चार विकेट और इतनी ही बार पांच विकेट क्‍लब में शामिल हुए.

पुलिस स्‍टेशन में खुद को किया शूट
इस गेंदबाज ने जिस तरह से खुद की जिंदगी को खत्‍म किया, उससे हर कोई हैरान रह गया था. 7 जून 1988 को हरारे में इस खिलाड़ी ने 55 साल की उम्र में खुद को शूट कर लिया था. दरअसल अधिक शराब के आदी हो चुके जोसेफ ने उस समय एक होटल का बिल नहीं चुकाया था और हरारे में पुलिस में उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया था. जिसके बाद उन्‍होंने पुलिस स्‍टेशन में खुद को गन से शूट कर लिया.



ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ साउथ अफ्रीका के थे अहम हथियार


जोसेफ ऑस्‍ट्रेलिया, न्‍यूजीलैंड (New Zealand) और इंग्‍लैंड (England) जैसी बड़ी टीमों के खिलाफ साउथ अफ्रीका के अहम हथियार थे. खासकर ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों को अपनी गेंदों पर नचाना उन्‍हें काफी पसंद था. वह चश्‍मा पहनकर तेज गेंद फेंकते थे. ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले इंटरनेशनल टेस्‍ट मैच में उन्‍हें सिर्फ एक सफलता मिली. इसके बाद अगले मैच में 5, फिर 9 विकेट लिए. उन्‍होंने इसके कुछ दिन बाद सिडनी में ऑस्‍ट्रेलिया में खिलाफ एक बार फिर नौ विकेट लिए. इसके अलावा फरवरी 1964 में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ सात विकेट लेकर क्रिकेट जगत में अपनी धाक जमा दी थी. न्‍यूजीलैंड के बाद इंग्‍लैंड के खिलाफ भी उन्‍होंने तीन टेस्‍ट मैचों की सीरीज में कुछ 6 विकेट लिए, मगर इसके बाद वह हमेशा के लिए टीम से बाहर हो गए.

डिविलियर्स के डांस वीडियो पर कमेंट करने पर चहल को पड़ी डांट, मिली सख्त हिदायत

रोहित शर्मा का खुलासा, तीसरे दोहरे शतक नहीं, बल्कि इस वजह से भरे स्‍टेडियम में फूट- फूटकर रोईं थी पत्‍नी रितिका
First published: June 7, 2020, 7:20 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading