Ashes गंवाने के बाद बोले जो रूट, इंग्लैंड का कप्तान बने रहना चाहता हूं

News18Hindi
Updated: September 9, 2019, 1:20 PM IST
Ashes गंवाने के बाद बोले जो रूट, इंग्लैंड का कप्तान बने रहना चाहता हूं
चौथे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 185 रन से मात दी

ऑस्ट्रेलिया ने 18 साल बाद इंग्लैंड में एशेज ट्रॉफी (Ashes) पर कब्जा किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2019, 1:20 PM IST
  • Share this:
मैनचेस्‍टर. ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड (Australia vs England) के बीच चल रही एशेज सीरीज (Ashes) में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने चौथे टेस्ट मैच में जीत हासिल कर सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली है. इस जीत के साथ ही ट्रॉफी पर मेहमान टीम ऑस्ट्रेलिया ने अपना कब्जा बरकरार रखा है. सीरीज का आखिरी मैच द ओवल में खेला जाएगा. अगर इंग्लिश टीम आखिरी मुकाबला जीत भी जाती है तो पांच मैचों की सीरीज 2-2 से बराबर हो जाएगी. ऐसे में ट्रॉफी गत चैंपियन के पास ही रहती है. सीरीज में 2-1 से पिछड़कर ट्रॉफी गंवाने के बावजूद इंग्लिश कप्तान जो रूट (Joe Root) अपने इस पद पर बने रहना चाहते हैं. मैच के बाद रूट (Joe Root) ने कहा कि वह इस हार से निराश हैं. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि लेकिन वह फिर भी इंग्लैंड टीम के कप्तान बने रहना चाहते हैं.

ओल्ड ट्रैफर्ड की जीत ने ऑस्ट्रेलिया को सीरीज में 2-1 से बढ़त दिला दी. इसका मतलब रूट (Joe Root)  को दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा. 2001 के बाद ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड में पहली बार एशेज ट्रॉफी  (Ashes) अपने नाम की है.

कड़ी मेहनत करते रहेंगे रूट
चौथे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 185 रनों के अंतर से हराया. पहली पारी में ही ऑस्ट्रेलिया ने 497 रन बना दिए थे. जिसके बाद इंग्लैंड को 301 रन पर रोक दिया. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने 186 रन पर अपनी दूसरी पारी घोषित की. जिसके जवाब में मेजबान टीम 197 रन पर ही सिमट गई. जो रूट (Joe Root) अभी तक इस सीरीज में तीन बार डक हो चुके हैं.

चौथे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 185 रनों के अंतर से हराया. पहली पारी में ही ऑस्ट्रेलिया ने 497 रन बना दिए थे. जिसके बाद इंग्लैंड को 301 रन पर रो दिया. दूसरी पारी में  ऑस्ट्रेलिया ने 186 रन पर अपनी दूसरी पारी घोषित की. जिसके जवाब में मेजबान टीम 197 रन पर ही सिमट गई.
जो रूट अभी तक इस सीरीज में तीन बार डक हो चुके हैं


रूट (Joe Root) ने कहा कि उन्हें टेस्ट टीम की कप्तानी करने का मौका दिया गया और वह आगे भी अपना  बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए कड़ी मेहनत करते रहेंगे. रूट (Joe Root) हार से दुखी हैं. उन्होंने कहा कि यह हार उन्हें भविष्य में प्रोत्साहित करेगी. उन्होंने कहा कि अब उनकी नजर द ओवल पर है, जहां वह सीरीज बराबर करने के लिए उतरेंगे. इंग्लिश कप्तान ने कहा कि वहां पर टॉस जीतना अहम होगा.उन्हाेंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की तारीफ करते हुए कहा कि वह सर्वश्रेष्ठ और एक वर्ल्ड क्लास खिलाड़ी हैं.

स्मिथ जैसा खिलाड़ी नहीं देखा, हेडिंग्ले की हार ने बढ़ा दिया इस जीत का 'स्वाद'
Loading...

मैदान के बाहर बुमराह का बड़ा कारनामा, इस फोटो ने मचाई धूम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 12:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...