• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • विराट कोहली के कंधे पर सर रखने वाली वायरल तस्वीर पर केन विलियमसन ने कही दिल जीतने वाली बात

विराट कोहली के कंधे पर सर रखने वाली वायरल तस्वीर पर केन विलियमसन ने कही दिल जीतने वाली बात

WTC Final: विराट कोहली 
और केन विलियमसन की तस्वीर वायरल हो गई थी.(AFP)

WTC Final: विराट कोहली और केन विलियमसन की तस्वीर वायरल हो गई थी.(AFP)

WTC Final में केन विलियमसन (kane Williamson) की कप्तानी वाली न्यूजीलैंड ने शानदार अंदाज में जीत (India vs New Zealand) हासिल की. मैच के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) और केन विलियमसन ने एक-दूसरे को पूरी आत्मीयता के साथ गले लगाया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. न्यूजीलैंड की टीम ने केन विलियमसन (kane Williamson) की अगुवाई में 144 सालों में पहली बार आयोजित वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final 2021) में भारत को हराया. कीवी कप्तान केन विलियमसन ने डब्ल्यूटीसी खिताब जीतने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को गले लगाया. यह गले मिलने जैसा भी नहीं था बल्कि विलियमसन कोहली के कंधे पर अपना सिर टिका रहे थे. अब विलियमसन ने साउथैम्पटन की वायरल तस्वीर पर बात की है.

    न्यूजीलैंड के कप्तान ने क्रिकबज को बताया, "वह एक महान क्षण था. हम जानते थे कि जब भी आप भारत के खिलाफ खेलते हैं, आप कहीं भी हों, यह एक अविश्वसनीय रूप से कठिन चुनौती है. वे अक्सर हमारे खेल में सभी प्रारूपों में बेंचमार्क सेट करते हैं।.वे दिखाते हैं कि उनके पास गहराई है और उनके देश में भी क्रिकेट है.” लेकिन साथी रॉस टेलर के साथ खुशी से उछलने के बजाय कोहली के कंधे पर अपना सिर क्यों टिका रहे थे? विलियमसन ने कहा, "विराट के साथ दोस्ती कई साल से है. और यह अच्छा था. हम हमेशा से जानते हैं कि इसमें एक बड़ी तस्वीर है. यह वास्तव में एक अच्छा क्षण था और हमारी दोस्ती और रिश्ता क्रिकेट के खेल से भी गहरा है. और हम दोनों यह जानते हैं.”





    न्यूजीलैंड की टीम फाइनल मुकाबले में भारत को आठ विकेट से मात दी थी. केन विलियमसन ने पहली पारी में 49 और दूसरी पारी में नाबाद 52 रन बनाए थे.

    यह भी पढ़ें:

    शेफाली वर्मा ने दिलाई धोनी की याद, रन आउट होने पर खड़ा हुआ विवाद, देखें वीडियो

    माइकल वॉन ने कोहली की टीम इंडिया पर कसा तंज, कहा-कम से कम एक टीम तो इंग्लैंड में खेलना जानती है

    विलियमसन ने कहा, "दोनों टीमें बहुत प्रतिस्पर्धी थीं और वास्तव में कठिन खेलीं और मैच काफी करीबी था. पूरे मैच के दौरान ऐसा लगा कि यह चाकू की धार पर है और आपके मन में इसका पूरा सम्मान है. अंत में, इस तरह के एक लंबे कठिन मैच के बाद, दोनों टीमों द्वारा सराहना की जाती है. किसी को ट्रॉफी मिल जाती है और एक टीम को शायद उसकी किस्मत यह नहीं होती."

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज