Home /News /sports /

kapil dev advice for sachin tendulkar son arjun if you can become even 50 percent like your father there is nothing better

कपिल देव की अर्जुन तेंदुलकर को सलाह- 'अगर आप 50% भी अपने पिता जैसे बन जाते हैं...'

कपिल देव ने अर्जुन तेंदुलकर को एक सलाह दी है. (Instagram)

कपिल देव ने अर्जुन तेंदुलकर को एक सलाह दी है. (Instagram)

अर्जुन तेंदुलकर को आईपीएल 2022 में एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिलने के बाद से ही उनके फैंस मायूस हैं और इस विषय पर लगातार बात हो रही है. मुंबई इंडियंस के बॉलिंग कोच शेन बॉन्ड के बाद पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव ने अर्जुन को लेकर बड़ी बात कही है. कपिल ने अर्जुन को सलाह दी है कि उन्हें कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं है. अगर वो 50 प्रतिशत भी अपने पिता जैसे बन जाते हैं, तो उनके लिए इससे बेहतर कुछ नहीं होगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अर्जुन तेंदुलकर को आईपीएल 2022 में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. इससे उनके फैंस मायूस हैं. अर्जुन को मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन में 30 लाख रुपये में खरीदा था. लेकिन, पूरा सीजन बीत गया और वो बेंच पर ही बैठे रह गए. वो भी तब, जब मुंबई इंडियंस आईपीएल से जल्दी बाहर हो गई थी. मुंबई ने इस सीजन में ऋतिक शौकीन, कुमार कार्तिकेय सिंह जैसे युवा खिलाड़ियों को भी मौका दिया, लेकिन अर्जुन को एक मैच भी नहीं मिला. इस पर मुंबई इंडियंस के बॉलिंग कोच शेन बॉन्ड भी अपने विचार साझा कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि अर्जुन को अभी अपने स्किल को और निखारना है.

अब इस मसले पर पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव ने बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा कि अर्जुन के नाम के पीछे तेंदुलकर लगा है, इसी वजह से वो हमेशा अतिरिक्त दबाव महसूस करेंगे. सचिन तेंदुलकर ने जो मानक स्थापित किए हैं, उसे हासिल करना आज के दौर में किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं, ऐसे में हमें अर्जुन को तो छोड़ देना चाहिए. कपिल देव को लगता है कि अर्जुन की तुलना उनके पिता से नहीं की जानी चाहिए और उनकी उम्र को देखते हुए, इस युवा खिलाड़ी पर अतिरिक्त दबाव बनाने की जगह खुलकर खेलने देना चाहिए. ताकि वो अपने खेल का आनंद ले सकें.

अर्जुन की सचिन से तुलना न करें: कपिल
कपिल देव ने एबीपी न्यूज पर कहा, “हर कोई उसके (अर्जुन तेंदुलकर) बारे में क्यों बात कर रहा है? क्योंकि वह सचिन तेंदुलकर का बेटा है. उसे अपना क्रिकेट खेलने दें और सचिन से तुलना न करें. तेंदुलकर नाम होने के फायदे और नुकसान भी हैं. डॉन ब्रैडमैन के बेटे ने भी अपना सरनेम नाम बदल दिया था, क्योंकि वो दबाव को नहीं झेल सके थे. सभी को यही उम्मीद थी कि वो भी अपने पिता की तरह महान क्रिकेटर बनेंगे.”

‘तेंदुलकर का नाम आते ही उम्मीदें बढ़ जाती हैं’
पूर्व भारतीय कप्तान ने आगे कहा, “अर्जुन पर दबाव मत डालो. वो युवा खिलाड़ी हैं. जब उनके पिता महान सचिन तेंदुलकर हैं तो हम उससे कुछ भी कहने वाले कौन होते हैं? लेकिन मैं उन्हें एक सलाह या बात कहना चाहूंगा कि मैदान पर जाओ और क्रिकेट का पूरा मजा उठाओ. कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं है. अगर आप अपने पिता की तरह 50 प्रतिशत भी बन जाते हैं, तो इससे बेहतर कुछ नहीं है. जब तेंदुलकर का नाम आता है, तो हमारी उम्मीदें बढ़ जाती हैं, क्योंकि सचिन इतने महान थे.”

मुंबई इंडियंस की प्लेइंग XI में क्यों नहीं हुआ अर्जुन तेंदुलकर का चयन? बॉलिंग कोच शेन बॉन्ड ने बताया

IND vs SA: हार्दिक पंड्या के बल्लेबाजी क्रम में होगा बदलाव? दिनेश कार्तिक के रूप में मिला है विकल्प

अर्जुन दो सीजन से मुंबई इंडियंस के साथ
अर्जुन, बीते दो सीजन से मुंबई इंडियंस के साथ हैं, लेकिन अब तक उनका आईपीएल डेब्यू नहीं हुआ है. अर्जुन ने मुंबई की टी20 लीग में केवल दो मैच खेले हैं. हालांकि, उन्हें अक्सर टीम इंडिया के साथ एक नेट गेंदबाज के रूप में इस्तेमाल किया गया है और उन्होंने विराट कोहली, रोहित शर्मा, यहां तक कि एमएस धोनी को भी गेंदबाजी की है.

Tags: Arjun tendulkar, IPL 2022, Kapil dev, Mumbai indians, Sachin tendulkar

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर