जसप्रीत बुमराह के करियर पर बड़ा खतरा, गेंदबाजी ही बनी उनकी दुश्मन, जानें कैसे?

जसप्रीत बुमराह के करियर पर बड़ा खतरा, गेंदबाजी ही बनी उनकी दुश्मन, जानें कैसे?
जसप्रीत बुमराह अभी स्ट्रेस फ्रैक्चर के चलते टीम इंडिया से बाहर है.

कमर के निचले हिस्से में चोट के कारण जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) काफी समय से क्रिकेट से दूर हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 7:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अपनी जिस शानदार गेंदबाजी के कारण जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) आज भारत के अहम गेंदबाज साबित हुए हैं, वहीं उनके करियर की दुश्मन बनती नजर आ रही है. गेंदबाजी का उनका एक्‍शन उनके करियर को छोटा कर रहा है. लंबे समय से चाेट के कारण क्रिकेट से दूर चल रहे बुमराह का गेंदबाजी एक्शन उनके लिए मुसीबत बन रहा है. पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) का मानना है कि बुमराह का गेंदबाजी एक्शन चोट को आमंत्रित करता है. वर्ल्ड कप के बाद बुमराह सिर्फ तीन मैचों में ही मैदान पर उतरे हैं. एक बार वेस्टइंडीज ए के खिलाफ और इसके बाद वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए वह मैदान पर उतरे थे.

Jasprit Bumrah, kapil dev, जसप्रीत बुमराह, कपिल देव
कपिल देव गेंदबाजी में लंबा रनअप लेते थे और चोट के कारण वह अपने टेस्ट करियर में कभी भी टीम से बाहर नहीं हुए


स्पोर्ट्स स्टार को दिए इंटरव्यू में कपिल देव ने कहा कि भारत का यह तेज गेंदबाज 140 kph की रफ्तार से नियमित गेंद फेंकता है, लेकिन किसी तेज गेंदबाज का लंबा रनअप नहीं लेना चोट को आमंत्रित करना है. कई पूर्व तेज गेंदबाज और एक्सपर्ट ने भी इस तथ्य का उल्लेख किया है कि उनका गेंदबाजी एक्‍शन उनके पैर और कमर के निचले हिस्से पर अधिक दबाव डालता है और यह भी भविष्यवाणी की थी कि वह अक्सर चोटिल हाे सकते हैं. कपिल देव (Kapil Dev) हमेशा ही एक लंबा रनअप लेते थे और वो अपने 131 टेस्ट मैच के करियर में चोट के कारण ‌एक भी मैच के लिए टीम से बाहर नहीं हुए.



Bhuvneshwar Kumar, Kapil Dev, Jasprit Bumrah, sports news, भुवनेश्वर कुमार, कपिल देव, जसप्रीत बुमराह, स्पोर्ट्स न्यूज, क्रिकेट
जसप्रीत बुमराह ने टेस्ट मैच में 62, वनडे में 103 और टी20 में 51 विकेट लिए हैं

कंधों का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं बुमराह
बुमराह ने 12 टेस्ट मैचों में कुल 62 विकेट लिए हैं. साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज में  वह पारी में पांच विकेट के क्लब में भी शामिल हुए. वेस्टइंडीज के खिलाफ जमैका टेस्ट में उन्होंने एक हैट्रिक भी ली थी. वहीं उन्होंने 103 वनडे और 51 टी20 अंतरराष्ट्रीय विकेट लिए हैं.

कपिल देव (Kapil Dev) ने कहा कि अगर गेंदबाजी तकनीकी है तो इसका भी ज्यादा प्रभाव पड़ता है. बुमराह अपने शरीर से ज्यादा अपने कंधाें का इस्तेमाल करते हैं. जो चोट का सबसे बड़ा कारण है. उन्होंने भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) का उदाहरण देते हुए कहा कि वो गेंदबाजी में अपने शरीर का इस्तेमाल करते हैं, जिससे वह कम चोटिल होते हैं. जबकि बुमराह अपने कंधों का इस्तेमाल अधिक करते हैं.
यह भी पढ़ें :-





अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज