लाइव टीवी

चमत्कार: 56 गेंद पर ठोके 134 रन, फिर एक ही पारी में ले लिए 8 विकेट

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 8:26 AM IST
चमत्कार: 56 गेंद पर ठोके 134 रन, फिर एक ही पारी में ले लिए 8 विकेट
कृष्‍णप्‍पा गौतम ने नाबाद 134 रन की बड़ी पारी खेली

गौतम ने अपना शतक सिर्फ 39 गेंदों पर ही पूरा कर लिया. शतक जड़ने के बाद भी उनके बल्ले से गेंदबाजों की धुनाई जारी रही और उन्होंने नाबाद 134 रनों की पारी खेली

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 8:26 AM IST
  • Share this:
इस समय हर जगह कर्नाटक के ऑल राउंडर कृष्‍णप्‍पा गौतम (Krishnappa Gowtham) छाए हुए हैं और हो भी क्यों ना. कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में जिस तरह से उन्होंने बल्लेबाजी की और बाद में घातक गेंदबाजी की, उससे हर किसी की जुबां पर आज उनका ही नाम है. गौतम ने बेल्‍लारी टस्‍कर्स (Bellary Tuskers) की ओर से शिवमोगा के खिलाफ खेलते हुए 56 गेंद में 7 चौकों व 13 छक्‍कों की मदद से नाबाद 134 रन की आतिशी पारी खेली. इसके बाद गेंदबाजी में कमाल करते हुए 15 रन पर आठ विकेट लेकर इतिहास रच दिया. उनकी यह‌ गेंदबाजी टी20 के इतिहास में सबसे बेहतरीन गेंदबाजी में से एक है.

गौतम के ऑल राउंडर प्रदर्शन के दम पर बेल्लारी ने बारिश बाधित मु‌काबले में निर्धारित 17 ओवर के खेल में तीन विकेट के नुकसान पर 203 रन बनाए. जवाब में शिवमोगा 133 रनों पर ही सिमट गई और बेल्लारी ने 70 रन के बड़े अंतर से मुकाबला अपने नाम कर लिया.

केपीएल इतिहास की सबसे बड़ी पारी खेली

कृष्‍णप्‍पा गौतम ने अपनी पारी में सात चौके और 13 छक्के लगाए.


गौतम ने केपीएल इतिहास का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर और सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की. चिदंबरम गौतम के आउट होने के बाद क्रीज पर आए गौतम ने इसके बाद चौके छक्कों की बारिश शुरू कर दी. उन्होंने अपना शतक सिर्फ 39 गेंदों पर ही पूरा कर लिया. शतक जड़ने के बाद भी उनके बल्ले से गेंदबाजों की धुनाई जारी रही और उन्होंने नाबाद 134 रनों की पारी खेली. गौतम ने अपनी पारी में सात चौके और 13 छक्के लगाए.

गेंदबाजों के बाद बल्‍लेबाजों को भी किया परेशान

पहले शिवमोगा के गेंदबाजों को परेशान करने के बाद गौतम ने उनके बल्लेबाजों को भी काफी परेशान किया और शिवमोगा का कोई भी बल्लेबाज उनका सामना नहीं कर पाया. गौतम ने 15 रन देकर आठ विकेट लिए. अर्जुन, बलाल, देशपांडे, रोहित, मिथुन, निदेश, मंजूनाथ और शरत गौतम के शिकार बने. सिर्फ बलाल और देशपांडे ही इस गेंदबाज का सामना करने में काफी हद तक सफल रहे. बलाल ने 40 और देशपांडे ने 46 रन बनाए. वहीं सात बल्लेबाज तो दहाई  का आंकड़ा भी नहीं छू पाए. गौतम के अलावा प्रसिद्ध कृष्‍णा और कार्तिक को एक- एक सफलता मिली.
Loading...

IND vs WI: ईशांत शर्मा का 'पंच', टीम इंडिया ने कसा शिकंजा

बुमराह ने रचा इतिहास, बड़े-बड़े दिग्गजों का तोड़ा रिकॉर्ड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 8:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...