लाइव टीवी

धोनी के साथियों ने रोका शुभमन गिल का विजयी रथ, बल्‍ले से केदार और गेंद से नदीम का कमाल

भाषा
Updated: November 4, 2019, 7:10 PM IST
धोनी के साथियों ने रोका शुभमन गिल का विजयी रथ, बल्‍ले से केदार और गेंद से नदीम का कमाल
केदार जाधव ने देवधर ट्रॉफी के फाइनल में अर्धशतक लगाया.

इंडिया बी (India B) के चैंपियन बनने के नायक धोनी के साथी केदार जाधव (Kedar Jadhav) (चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स) और शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem) (झारखंड) रहे.

  • Share this:
रांची: अनुभवी केदार जाधव (Kedar Jadhav) की शानदार बल्लेबाजी के बाद शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem) की कमाल की फिरकी गेंदबाजी से इंडिया बी (India B) ने सोमवार को देवधर ट्रॉफी (Deodhar Trophy) के फाइनल में इंडिया सी (India C) को 51 रन हराकर खिताब अपने नाम किया. जाधव की 94 गेंद में 86 रन की पारी के दम पर इंडिया बी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में सात विकेट पर 283 रन बनाने के बाद इंडिया सी को नौ विकेट पर 232 रन पर रोक दिया. अपने घरेलू मैदान पर नदीम ने 10 ओवर में 32 रन देकर चार विकेट चटकाए. इंडिया सी के लिए तेज गेंदबाज इशान पोरेल (Ishan Porel) ने 10 ओवर में 43 रन देकर पांच विकेट लिए थे लेकिन उनका यह प्रदर्शन टीम के काम नहीं आ सका.

रांची में नहीं हो पाया लक्ष्‍य का पीछा
बीसीसीआई (BCCI) ने भी ट्वीट कर इंडिया बी को देवधर ट्रॉफी का विजेता बनने पर बधाई दी. बता दें कि दोनों टीमों के बीच दो दिन पहले हुए मुकाबले में इंडिया सी ने बड़े अंतर से इंडिया को हराया था. टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी के घरेलू मैदान रांची में देवधर ट्रॉफी के सभी मैचों में पहले खेलने वाली टीमों को ही जीत मिली. यहां पर लक्ष्‍य का पीछा करते हुए कोई टीम नहीं जीत सकी. इंडिया बी के चैंपियन बनने के नायक धोनी के साथी केदार जाधव (चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स) और शाहबाज नदीम (झारखंड) रहे.

Loading...



जायसवाल-अपराजित ने शुरुआती झटकों से उबारा
टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी इंडिया बी की शुरुआत अच्छी नहीं रही. पोरेल के पहले ओवर में ही सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ खाता खोले बिना पवेलियन लौट गए. पोरेल ने इसके बाद पारी के नौवें ओवर में कप्तान पार्थिव पटेल को विकेटकीपर दिनेश कार्तिक (14) के हाथों कैच कराया. टीम के 28 रन पर दो विकेट गिरने के बाद युवा यशस्वी जायसवाल (54) और बाबा अपराजित (13) ने संभल कर बल्लेबाजी की. दोनों की तीसरे विकेट के लिए 45 रन की साझेदारी को जलज सक्सेना (42 रन पर एक विकेट) ने अपराजित को आउट कर तोड़ा. इसके कुछ समय के बाद अक्षर पटेल (33 रन पर एक विकेट) ने जायसवाल को चलता किया. जायसवाल ने 79 गेंद की पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया.



जाधव शतक से चूके तो गौतम की विस्‍फोटक पारी
केदार जाधव ने एक छोर संभाले रखा और दूसरी छोर से उन्हें नितीश राणा (20) और विजय शंकर (45) को अच्छा साथ मिला. शंकर ने 33 गेंद की पारी में चार चौके और दो छक्के लगाए. जाधव ने भी 94 गेंद की पारी में चार चौके और इतने ही छक्के लगाए. वे आखिरी ओवर में 86 रन बनाकर इशान पोरेल के शिकार बने. कृष्णप्पा गौतम ने आखिरी के ओवरों में ताबड़तोड बल्लेबाजी करते हुए 10 गेंद में तीन छक्कों और तीन चौकों की मदद से नाबाद 35 रन बनाए.



इंडिया सी के बल्‍लेबाज क्रीज पर टिकने में रहे नाकाम
लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंडिया सी की टीम भी लगातार अंतराल पर विकेट गंवाते रही. प्रियम गर्ग ने 77 गेंद में सबसे ज्यादा 74 रन बनाये लेकिन मयंक अग्रवाल (28) अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे. कप्तान शुभमन गिल (1), विराट सिंह (6), सूर्यकुमार यादव (3) और दिनेश कार्तिक (3) भी बल्ले से कुछ कमाल करने में नाकाम रहे. टीम के आधे खिलाड़ी 77 रन पर पवेलियन लौट गए.

kedar jadhav fifty, kedar jadhav deodhar trophy, deodhar trophy 2019, shahbaz nadeem, india b vs india c, देवधर ट्रॉफी 2019, केदार जाधव, शाहबाज नदीम, शुभमन गिल, इंडिया बी इंडिया सी मैच
युवा बल्‍लेबाज प्रियम गर्ग ने अर्धशतक लगाया.


गर्ग-पटेल भी नहीं बचा पाए
युवा बल्‍लेबाज प्रियम गर्ग और पटेल (38) ने इसके बाद सूझबूझ से खेलते हुए पारी को पटरी पर लाने की कोशिश की. दोनों की छठे विकेट के लिए 63 की साझेदारी को तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (43 रन पर दो विकेट) ने तोड़ा. टीम इसके बाद बढ़ती जरूरी रनगति के दबाव में आ गई. सक्सेना (नाबाद 37) और मयंक मार्कंडेय (27) ने आखिरी के ओवरों में संभल कर पूरे 50 ओवर बल्लेबाजी करना बेहतर समझा.

पैर से बहता रहा खून, 5 टांके आए, फिर भी डटा रहा 15 साल का यह भारतीय बल्लेबाज

3 साल पहले छोटे भाई ने दिलाई थी बड़ी जीत, अब बड़े की वजह से 'हारी' टीम इंडिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 7:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...