कोई तिहरे शतक का मजाक कैसे उड़ा सकता है, ये काम भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कर दिखाया!

कोई तिहरे शतक का मजाक कैसे उड़ा सकता है, ये काम भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कर दिखाया!
जब मयंक अग्रवाल के तिहरे शतक का मजाक उड़ाया गया!

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर अकसर अपनी सीमाएं लांघ जाते हैं और 2018 भारत-ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) सीरीज के दौरान भी कुछ ऐसा ही हुआ था

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 11, 2020, 10:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर मैदान पर बेहद आक्रामक होते हैं और उनकी जुबान भी बहुत ज्यादा चलती है. वो अकसर विरोधी खिलाड़ियों के खिलाफ स्लेजिंग करते हैं, जिससे विवाद होना तय होता है. वैसे रिटायरमेंट के बाद भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी नहीं सुधरते, उन्होंने वैसे ही खिलाड़ियों के खिलाफ टिप्पणियां करनी की आदत होती है. कुछ ऐसा ही साल 2018 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हुआ था. जब मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर और कमेंटेटर कैरी ओ कीफे (Kerry O Keeffe) ने अपमानजनक टिप्पणी कर दी थी.

मयंक अग्रवाल के तिहरे शतक पर उठाए थे सवाल
मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था और उन्होंने पहले ही टेस्ट मैच में 76 रनों की बेमिसाल पारी खेली थी. मयंक अग्रवाल ने इस पारी के साथ ही 71 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ डाला था. वो भारत के दूसरे बल्लेबाज बने जिसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू करते हुए अर्धशतक जड़ा था. हालांकि जब वो इस पारी को खेल रहे थे तो ऑस्ट्रेलिया के कमेंटेटर कैरी ओ कीफे ने कुछ ऐसा कह दिया कि बवाल ही हो गया.

ओ कीफे ने माफी मांगी 
मयंक जब मैदान पर रिकॉर्ड बनाने की ओर बढ़ रहे थे, तब कैरी ओ कीफे ने कमेंट्री बॉक्सर में कहा, 'मयंक ने रणजी मैच में जो तिहरा शतक बनाया था, वो रेलवे कैंटीन स्टाफ के खिलाफ था.' बता दें अपने डेब्यू से एक साल पहले मयंक अग्रवाल ने साल 2017 में रणजी ट्रॉफी में हैदराबाद के खिलाफ तिहरा सतक ठोका था. उन्होंने 304 रनों की बेमिसाल पारी खेली थी. ओ कीफे ने इसी पारी पर सवाल खड़े कर दिये, जिसके बाद सोशल मीडिया पर वो ट्रोल होने लगे.



इस टिप्पणी के लिए ओ कीफे की ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में भी आलोचना हुई और अगले दिन उन्हें माफी मांगनी पड़ी. ओ कीफे ने कहा, ' मैं भारत में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अग्रवाल के रनों का जिक्र कर रहा था और इस पर प्रतिक्रिया हुई. मैं किसी भी तरह से मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) के स्तर को कम नहीं बता रहा था. उन्होंने काफी रन बनाए हैं और अगर किसी को बुरा लगा तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं.'

लाइव टीवी पर बात करते हुए रोने लगे दिग्गज माइकल होल्डिंग, जानिए क्या है वजह

67 शतक लगाने वाले बल्लेबाज ने कहा- मैदान के बाहर अनुशासन में रहें पृथ्वी शॉ

मयंक अग्रवाल ने पीछे मुड़कर नहीं देखा
बता दें मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने टेस्ट डेब्यू के बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने अबतक भारत के लिए 11 टेस्ट मैचों में 57.29 की बेमिसाल औसत से 974 रन बनाए हैं, जिसमें तीन शतक शामिल हैं. साफ है मयंक अग्रवाल के इस प्रदर्शन के बाद उनके आलोचकों की भी बोलती बंद हो गई होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज