होम /न्यूज /खेल /केविन पीटरसन की हैरान करने वाली भविष्यवाणी, 2026 तक खत्म हो जाएंगी 7 टेस्ट टीम

केविन पीटरसन की हैरान करने वाली भविष्यवाणी, 2026 तक खत्म हो जाएंगी 7 टेस्ट टीम

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने टेस्ट क्रिकेट को लेकर बड़ी भविष्यवाणी की है. (Kevin Pietersen Twitter)

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने टेस्ट क्रिकेट को लेकर बड़ी भविष्यवाणी की है. (Kevin Pietersen Twitter)

टी20 के आने के बाद टेस्ट क्रिकेट धीरे-धीरे करके दम तोड़ रहा है, जिस बारे में कई दिग्गज अपनी बात रख चुके हैं. इस लिस्ट म ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली. टी20 के आने के बाद टेस्ट क्रिकेट धीरे-धीरे करके दम तोड़ रहा है. कई पूर्व दिग्गज भी इस बात को कह चुके हैं. इस लिस्ट में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) भी शामिल हो गए हैं. उन्होंने हाल ही में एक ब्लॉग में टेस्ट क्रिकेट की दुर्दशा की बात लिखी थी और अब उन्होंन इसे लेकर एक ट्वीट किया. इसमें उन्होंने टेस्ट क्रिकेट के भविष्य को लेकर बड़ी आशंका जताई है.

    पीटरसन ने लिखा कि मेरे लिए यह ट्वीट करना काफी दर्दनाक है. लेकिन मेरा सोचना है कि धीरे-धीरे टेस्ट क्रिकेट खत्म हो रहा है. 2026 यानी अगले 5 साल बाद टेस्ट खेलने वाले कुछ मुठ्ठी भर देश ही बचेंगे. इसमें इंग्लैंड, भारत, ऑस्ट्रेलिया और संभवत: दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान होंगे. जबकि फिलहाल 12 देश टेस्ट खेल रहे हैं. यानी पीटरसन की बात पर यकीन करें, तो अगले 5 साल में टेस्ट खेलने वाली 7 टीमें खत्म हो जाएंगी. इसमें वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड और श्रीलंका जैसी दिग्गज टीमें शामिल हैं.

    पीटरसन ने भले ही टेस्ट क्रिकेट को लेकर एक आशंका जताई है. लेकिन आंकड़े तो टेस्ट क्रिकेट की घटती लोकप्रियता की तरफ ही इशारा कर रहे हैं. 

    पिछले 5 साल में टेस्ट के मुकाबले 3 गुना टी20 हुए
    बीते 5 साल में हुए टेस्ट, वनडे और टी20 मुकाबलों को देखें तो तस्वीर काफी हद तक साफ हो जाती है. 4 सितंबर 2016 से अब तक कुल 1222 अंतरराष्ट्रीय टी20 मुकाबले हुए हैं. इसमें 50 टीमों ने शिरकत की है. इसी अवधि में 21 देशों ने कुल 1080 वनडे खेले हैं. इस दौरान एक विश्व कप भी हुआ है. वहीं, इस दौरान 12 देशों ने कुल 426 टेस्ट खेले. यानी बीते 5 साल में सबसे ज्यादा टी20 मुकाबले खेले गए हैं. टेस्ट से करीब-करीब तीन गुना और वनडे से कुछ ज्यादा. ऐसे में पीटरसन की आशंका में दम नजर आ रहा है.

    5 साल में सबसे ज्यादा इंग्लैंड ने टेस्ट खेले
    पीटरसन ने अपने ट्वीट में जिन टेस्ट प्लेइंग नेशन के बचे रहने का जिक्र किया है. उनका अगर 5 साल का टेस्ट रिकॉर्ड देखें, तो पूर्व इंग्लिश कप्तान की भविष्यवाणी में दम नजर आ रहा है. क्योंकि बीते 5 साल में इंग्लैंड ने सबसे ज्यादा 64 टेस्ट खेले हैं. इसमें से 28 में उसे जीत, 26 में हार और 9 ड्रॉ रहे. दूससे नंबर पर टीम इंडिया है. भारत ने 4 सितंबर 2016 से अब तक 56 टेस्ट खेले हैं. इसमें से 34 जीते, 14 हारे और 7 मैच ड्रॉ कराए हैं. इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर श्रीलंका है. इस अवधि में खेले 46 टेस्ट में से उसने 15 जीते, 21 गंवाए और 10 ड्रॉ किए हैं.

    दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया ने बीते 5 साल में 43-43 टेस्ट खेले हैं. पाकिस्तान ने 40, वेस्टइंडीज ने 41 औऱ मौजूदा टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 टीम न्यूजीलैंड ने 37 मैच खेले हैं.

    IND VS ENG: रोहित शर्मा ने ओवल में भी जड़ा अर्धशतक, करियर में पहली बार किया ऐसा कारनामा!

    IND VS ENG: केएल राहुल के साथ हुई बेईमानी? थर्ड अंपायर ने गलत फैसला दिया!

    टॉप-5 टीमों ने 5 साल में 56 फीसदी टेस्ट खेले
    वहीं, अगर जिम्बाब्वे, अफगानिस्तान और आयरलैंड की बात करें, तो इन तीनों देशों ने 5 साल में कुल मिलाकर सिर्फ 25 टेस्ट खेले हैं. इसमें जिम्बाब्बे ने सबसे ज्यादा 16, अफगानिस्तान ने 6 और आयरलैंड ने 3 मैच खेले हैं. जबकि इसी दौरान टेस्ट रैंकिंग में शामिल टॉप-5 टीमों ने कुल 240 टेस्ट खेले हैं. यानी जिम्बाब्वे, आयरलैंड और अफगानिस्तान से करीब 9 गुना ज्यादा. ओवरऑल रिकॉर्ड की बात करें, तो शीर्ष-5 रैंकिंग वाले देशों ने कुल 426 टेस्ट में से 56 फीसदी खेले हैं.

    Tags: Cricket news, Kevin Pietersen, ODI cricket, T20 cricket, Test cricket, WTC

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें