होम /न्यूज /खेल /IND vs SA: केएल राहुल ने धीमी स्ट्राइक रेट पर आलोचकों पर किया पलटवार, कहा-मैं पारी के हिसाब...

IND vs SA: केएल राहुल ने धीमी स्ट्राइक रेट पर आलोचकों पर किया पलटवार, कहा-मैं पारी के हिसाब...

IND vs SA: केएल राहुल ने धीमी स्ट्राइक रेट के सवाल पर अपनी चुप्पी तोड़ी है.  (AP)

IND vs SA: केएल राहुल ने धीमी स्ट्राइक रेट के सवाल पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. (AP)

India vs South Africa T20I Series: भारत के स्टार ओपनर केएल राहुल पिछली कुछ पारियों में अपनी स्ट्राइक रेट से चर्चा में र ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. धीमे स्ट्राइक रेट के लिए आलोचनाओं के बीच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 में आक्रामक अर्धशतक जड़ने के बाद भारत के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने अपने आलोचकों पर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि वह ‘पारी की मांग’ के अनुसार बल्लेबाजी करते हैं. राहुल ने रविवार को अपने आलोचकों को चुप कराते हुए भारत की 16 रन की जीत के दौरान 28 गेंद में 57 रन की पारी खेली.

संयुक्त अरब अमीरात में एशिया कप और फिर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तिरुवनंतपुरम में सीरीज के पहले मैच में 56 गेंद में 51 रन की पारी के दौरान भारतीय उप कप्तान के स्ट्राइक रेट को लेकर सवाल उठे थे. राहुल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘हां, ज्यादा स्ट्राइक रेट से रन बनाना इस पारी की मांग थी. जब आप पहले बल्लेबाजी कर रहे होते हैं तो आप स्पष्ट रूप से परिस्थितियों का आकलन करने के लिए खुद को कुछ ओवर देना चाहते हैं. यह देखने के लिए कि आप कौन से शॉट खेल सकते हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘आप अपने साथी से बात करते हैं. अपने आप को एक लक्ष्य देते हैं और फिर आप कोशिश करते हैं और उसके अनुसार खेलते हैं. हम हमेशा अधिक आक्रामक होने का प्रयास करते हैं, बहुत सारे जोखिम उठाते हैं. मेरे से इसी तरह की पारी की जरूरत थी और मुझे खुशी है कि यह पारी खेली.’’ राहुल ने अपनी शानदार कलाई के सहारे फाइन स्क्वायर लेग पर बेहद आसानी से कुछ छक्के जड़े. उन्होंने कहा, ‘‘हां, हम सभी के पास कोई निश्चित उपहार होता है और इसलिए हम देश के लिए खेल रहे हैं. हम यहां तक ​​पहुंचे हैं क्योंकि स्वाभाविक रूप से कुछ प्रतिभाएं हैं.

टीम इंडिया के लिए वर्ल्ड कप से पहले मुश्किल बना 1 ओवर, पलट सकता है मैच का पासा

केएल राहुल ने कहा, ‘‘यह टी20 क्रिकेट है. आपको छक्के मारने की कोशिश करने की स्थिति में आना होगा. जब गेंद 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आती है, तो आपके पास गेंद को देखने और प्रतिक्रिया करने के लिए ज्यादा समय नहीं होता है, आप सहजता से हिट करते हैं. यह वर्षों के अभ्यास से होता है.’’ राहुल भारत के उन तेज गेंदबाजों के बचाव में भी आए जिन्होंने रविवार को यहां एक बार फिर खराब प्रदर्शन किया.

IND vs SA वनडे सीरीज में चयन नहीं होने से दुखी हैं पृथ्वी शॉ? Insta पर जाहिर की अपनी भावना

भारत ने 237 रन के लक्ष्य का बचाव करते हुए दक्षिण अफ्रीका का स्कोर तीन विकेट पर 47 रन कर दिया था लेकिन मेजबान टीम डेविड मिलर और क्विंटन डिकॉक के बीच 174 रन की साझेदारी को तोड़ने में असमर्थ रही और ये दोनों टीम को यादगार जीत के करीब ले गए थे. राहुल ने कहा, ‘‘अगर यह (गेंदबाजी) इतनी बड़ी चिंता होती तो मुझे नहीं लगता कि हम इतने मैच जीत पाते. हम हमेशा एक टीम के रूप में बेहतर होते रहना चाहते हैंय आज का दिन उन दिनों में से एक था जब हमारे गेंदबाज 10 में से सात गेंद सही नहीं डाल सकते थे लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ऐसा होता रहेगा. यह कुछ ऐसा है जिससे हमें सीखने की जरुरत है और बेहतर होना होगा.’’

भारत-दक्षिण अफ्रीका मुकाबले में बने 458 रन, 4 गेंदबाजों ने भी लगाया ‘अर्धशतक’

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले मैच में उन्होंने विरोधी टीम को 106 रन पर रोक दिया था और आज उन्होंने काफी रन दिए. आपको परिस्थितियों, पिच को भी ध्यान में रखना होगा.’’ अपने पहले ओवर में तेम्बा बावुमा और रिली रोसू को तीन गेंद के भीतर आउट करने वाले अर्शदीप सिंह ने चार ओवर में 62 रन लुटाए जबकि हर्षल पटेल ने चार ओवर में 45 रन खर्च किए और उन्हें कोई सफलता नहीं मिली. ये दोनों विश्व कप के लिए जाने वाली टीम में शामिल हैं.”

राहुल ने कहा कि ओस के कारण गेंदबाजों को गेंद को पकड़ने में दिक्कत हो रही थी. उन्होंने कहा, ‘‘यहां नमी थी और ओस थी इसलिए गेंदबाजों के लिए गेंद को पकड़ना मुश्किल हो रहा था और जब विरोधी टीम 240 रनों का पीछा कर रही हो तो आप जानते हैं कि बल्लेबाज कड़ा रुख अपनाएंगे और हर गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करेंगे.’’

Tags: India vs South Africa, Indian Cricket Team, KL Rahul

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें